दूर्गा पूजा के बाद ममता बनर्जी को लगेगा झटका, मुकुल रॉय सांसद पद से देंगे इस्तीफा

0
369

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को उन्हीं की पार्टी तृणमूल कांग्रेस (TMC) के सांसद मुकुल रॉय झटका देने की तैयारी में हैं. न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक मुकुल रॉय ने सोमवार को बताया कि वे दुर्गा पूजा के बाद सांसद के पद और पार्टी से इस्तीफा दे देंगे. हालांकि उन्होंने ये बताने से मना कर दिया कि आखिर वह सांसद पद क्यों छोड़ना चाहते हैं. पूछने पर कहा कि दुर्गा पूजा के बाद ही वे बता पाएंगे कि उन्होंने क्यों पार्टी छोड़ने का फैसला लिया है. मुकल रॉय तृणमूल कांग्रेस के कद्दावर नेता माने जाते हैं. वे शुरू से ही ममता बनर्जी के करीबी रहे हैं. केंद्र में यूपीए की सरकार के दौरान ममता बनर्जी ने मुकुल रॉय को रेल मंत्री के पद पर भी दिलाया था. पश्चिम बंगाल के नारादा और शारदा चिटफंड घोटाले में भी मुकुल रॉय का नाम आता रहा है. इन घोटालों में नाम आने के बाद ममता बनर्जी खुद मैदान में आईं थीं और मुकुल रॉय का बचाव किया था.

यह भी पढ़े  पश्चिम बंगाल में BJP की रथयात्रा को सुप्रीम कोर्ट ने नहीं दी मंजूरी

बीजेपी ज्वाइन कर सकते हैं मुकुल रॉय
पिछले दिनों बीजेपी की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के अलग-थलग पड़े नेता मुकुल रॉय उनकी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के संपर्क में हैं, लेकिन उन्होंने इस संबंध में कुछ नहीं कहा कि वह (रॉय) भाजपा में शामिल होंगे या नहीं. घोष ने कहा ‘वह (रॉय) एक बड़े नेता है. मुझे इस बात की जानकारी नहीं है कि वह भाजपा में शामिल होंगे या नहीं. लेकिन वह नयी दिल्ली में हमारे नेताओं के संपर्क में है.’

पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने रॉय के कथित रूप से भाजपा नेताओं के साथ नजदीकियां बढ़ाने की निंदा की थी और कहा था कि उन पर करीबी नजर रखी जा रही है. संपर्क किये जाने पर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और पश्चिम बंगाल के पार्टी प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने मीडिया से कहा ‘मैं इस पर कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं कर सकता हूं. यह तृणमूल कांग्रेस का आंतरिक मामला है.’

यह भी पढ़े  कोलकाता: पुल का हिस्सा गिरने से एक की मौत, बीजेपी ने ममता सरकार पर उठाए सवाल

रॉय से प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बाद एक समय तृणमूल कांग्रेस में दूसरे नंबर के नेता और राज्यसभा सदस्य रॉय के इस समय पार्टी के साथ तनावपूर्ण संबंध चल रहे हैं. पार्टी के अपनी कमेटी को पुनर्गठित करने का निर्णय करने के बाद रॉय को हाल में टीएमसी के उपाध्यक्ष पद से हटाया गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here