दुष्कर्म मामले की जांच को पहुंचा राज्य महिला आयोग

0
94

राज्य महिला आयोग की सदस्य पूर्व विधायक डॉ. उषा विद्यार्थी ने रानीतालाब थानांतर्गत पकरंधा गांव पहुंच नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म मामले की पड़ताल की। घटना की पूरी जानकारी लेने के बाद उन्होंने नाबालिग पीड़िता एवं उसके परिजनों को सहयोग का आश्वासन दिया और आरोपी सिपाही पुत्र को सजा दिलाने के लिए कानूनविद् एवं महिला आयोग के समक्ष मामला रखने की भी बात कही। डॉ. विद्यार्थी ने मौके पर पुलिसकर्मियों से बात करते हुए आरोपी को यथाशीघ्र गिरफ्तार करने को कहा। उन्होंने गया की घटना का हवाला देते हुए कहा कि दुष्कर्म जैसे मामले में सियासत उचित नहीं। उन्होंने राजद नेताओं के व्यवहार को अमानवीय बताया। गौरतलब है कि मामला रानीतालाब थाने के पकरंधा गांव का है जहां रिश्ता तार-तार हुआ है। पीड़िता के पड़ोसी चचेरे चाचा ने ही उसके साथ दुष्कर्म किया और पीड़िता गर्भवती हो गयी। पीड़िता के परिजनों के बयान पर पुलिस ने रानीतालाब थाने में मामला दर्ज कर लिया है। मामला रानीतालाब थानांतर्गत पकरंधा गांव का है जहां सिपाही पुत्र रोहित कुमार पर दुष्कर्म का आरोप लगा है। रोहित पीड़िता का चचेरा चाचा है जिसकी उम्र लगभग 20 साल है। पीड़िता चौथी कक्षा की 13 साल की छात्रा तीन माह की गर्भवती है। आरोपी रोहित का पिता सत्यनारायण राम झारखंड पुलिस का सिपाही है। पीड़िता ने बताया कि उसके चचेरे चाचा ने घर में काम करने के लिए बुलाया और मुंह बंद कर उसके साथ दुष्कर्म किया। उसने घटना के बारे में बताने पर जान से मारने की धमकी दी जिसके डर से उसने कुछ नहीं कहा। घर में भाभी ने उसका फूलता हुआ पेट देखा तब उसने जांच करायी तो गर्भ में बच्चा होने की जानकारी हुई। पीड़िता की भाभी ने जब पूछा तब उसने घटना की पूरी जानकारी दी। पीड़िता के परिजनों ने जब आरोपी के घर में संपर्क साधा तब उसने रुपये लेकर गर्भपात कराने की बात कही। पीड़िता का पिता मजदूरी करता है। मां विक्षिप्त है। वह पांच बहनों में सबसे छोटी है। इस संवाददाता से पीड़िता एवं उसकी भाभी दुष्कर्मी को फांसी की सजा दिलाने की बात तो करती है लेकिन गर्भपात न कराकर बच्चे को जन्म देने की इच्छा जाहिर की है। फिलहाल रोहित पुलिस गिरफ्त से बाहर है। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापामारी करने की बात कह रही है।

यह भी पढ़े  वो दुहाई देती रही और वहशी महिला की अस्मत लूटता रहा, वीडियो भी किया वायरल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here