दुनिया में शिक्षा से बड़ी कोई ताकत नहीं : मलिक

0
269
PATNA UNIVERSITY KA CONVOCATION ME GOL MEDLIST SE SAMMANIT KERTE GOVERONR SATAYAPAL MALIK

पटना – प्रदेश के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा कि शिक्षा से बढ़कर दुनिया में कोई ताकत नहीं। एक शिक्षित इंसान बेहतर ढंग से किसी भी विषय पर सोच-समझ और निर्णय ले सकता है। शिक्षा मनुष्य को नैतिक मूल्यों और सिद्धांतों के प्रति आस्थावान भी बनाती है। जिस कॉलेज में गर्ल्स कॉमन रूम और वाश रूम नहीं होगा, उस कॉलेज को मान्यता नहीं मिलेगी। उन्होंने ये बातें स्थानीय बापू सभागार में आयोजित पटना विविद्यालय के वार्षिक शताब्दी दीक्षांत समारोह में कहीं। राज्यपाल ने 2016 में उत्तीर्ण 41 टॉपर छात्र-छात्राओं को गोल्ड मेडल और 48 छात्र-छात्राओं को पीएचडी की डिग्री प्रदान की। उन्होंने टॉपर छात्रों को सम्मानित करने के बाद कहा कि वही मुल्क तरक्की करते हैं, जो तालीम को सबसे ज्यादा तवज्जो देते हैं। कोई भी मुल्क आतंकी गतिविधियों, सैनिक-पराजय या रॉकेटों के बल-बूते नष्ट नहीं किया जा सकता, बल्कि वह संकटग्रस्त तभी होता है जब वहां की शिक्षा-व्यवस्था छिन्न-भिन्न हो जाए। द्वितीय विश्व युद्ध के समय ब्रिटेन ने विभिन्न प्रक्षेत्रों के सालाना बजट में कमी कर दी थी, परन्तु उसने शिक्षा के अपने बजट में कोई कमी नहीं की थी। ब्रिटेन के तत्कालीन प्रधानमंत्री का तब कहना था कि पुल, मकान, सड़कें, फैक्ट्रियां तो दुबारा बन सकती हैं, परन्तु शिक्षा-बजट में कमी करने पर एक पूरी पीढ़ी बर्बाद हो जायेगी और मुल्क तबाह हो जायेगा। राज्यपाल ने कहा कि उच्च शिक्षा के क्षेत्र में केन्द्र व राज्य सरकार निरन्तर अपने नवाचारी प्रयोगों के माध्यम से ज्ञान-विज्ञान के नये क्षितिज का विस्तार कर रही हैं।राज्यपाल ने कहा कि पिछले दिनों राजभवन में कुलपतियों की बैठक में उच्च शिक्षा के विकास के लिए कुछ महत्वपू़र्ण निर्णय लिये गये हैं। उन्होंने कहा कि एकेडमिक, परीक्षा कैलेंडर का पू़र्ण परिचालन, बायोमीट्रिक पण्राली के जरिये शिक्षकों-छात्रों की उपस्थिति सुनिश्चित करते हुए नियमित वर्ग-संचालन, सभी कॉलेजों व विविद्यालयों के भवनों में गर्ल्स कॉमन रूम व वाश रूम की व्यवस्था, खेलकूद व सांस्कृतिक आयोजनों का भी वार्षिक कैलेंडर तैयार करने जैसे निर्णय लेकर इनका अनुपालन सुनिश्चित कराने के प्रति सबने प्रतिबद्धता व्यक्त की है। राज्यपाल ने कहा कि विविद्यालयों में छात्र संघ चुनाव जरूरी है। अगर छात्र संघ चुनाव नहीं होता है तो कुलपति या अन्य अधिकारी से गुंडा तत्व मिलने जायेंगे। छात्र प्रतिनिधि जब अपने कार्यालय में बैठता है तो उसमें एक नयी ताकत आती है और वह राष्ट्रपति के पद तक पहुंच सकता है। 

गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा ने दीक्षांत समारोह में उपस्थित छात्र-छात्राओं को शपथ दिलायी। उन्होंने छात्र-छात्राओं से कहा कि वे यहां शपथ लें कि अपने माता-पिता को कभी वृद्धाश्रम नहीं जाने देंगे। विवाह अनिवार्य नहीं, आवश्यक है। आप विवाह करने के बाद छोटी-छोटी बातों पर वैवाहिक संबंध नहीं तोड़ेंगे। जहां कहीं भी युवती या महिला पर अत्याचार हो रहा है तो वहां जान पर खेलकर उसे बचायेेंगे। कभी भी एक टुकड़ा गंदगी दिखे उसे उठाकर उचित जगह पर फेंकेंगे। दीक्षांत समारोह में विविद्यालय के प्रतिकुलपति प्रो डॉली सिन्हा, कुलसचिव डॉ रवींद्र कुमार, डीन प्रो एनके झा सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे। 

 इस मौके पर पटना विविद्यालय के कुलपति प्रो रासबिहारी प्रसाद सिंह ने कहा कि अगले सत्र 2018 से 14 नये स्नातकोत्तर विभाग शुरू किये जायेंगे। जल्द ही राज्य सरकार व राज्यपाल से मंजूरी के लिए प्रस्ताव भेजा जायेगा। प्रस्तावित विषयों में एंरोपोलॉजी, आपदा प्रबंधन, इलेक्ट्रॉनिक्स व सोशल वर्क सहित अन्य विषय शामिल हैं। विविद्यालय का दूसरा कैंपस सैदपुर में प्रस्तावित है। यहां पर दूरस्थ शिक्षा निदेशालय, एकेडमिक स्टाफ कॉलेज, वाणिज्य महाविद्यालय, स्कूल ऑफ मैनेजमेंट और डिपार्टमेंट ऑफ अप्लायड इकोनॉमिक्स एंड कॉमर्स को स्थापित करने की योजना है। सैदपुर कैंपस का विकास राज्य सरकार के सहयोग से किया जा रहा है। कुलपति ने कहा कि विविद्यालय में 15 जनवरी से पहले छात्र संघ चुनाव करा लिया जायेगा। उन्होंने छात्रों से अपील की कि वे छात्र संघ चुनाव में जरूर भाग लें। विविद्यालय में प्लेसमेंट सेल गठन किया गया है ताकि अधिक से अधिक पास आउट विद्यार्थियों को रोजगार मिल सके। कुलपति ने कहा कि नामांकन एकाउंट तथा परीक्षा के कायरे को कंप्यूटरीकृत किया जा रहा है। अगले दीक्षांत समारोह में छात्रों के हाथों में बदले हुए फॉरमेट में उपाधि पत्र होगा। उपाधि पत्र में छात्रों को फोटाग्राफ भी हेागा। उन्होंने कहा कि 2018-19 में स्नातकोत्तर स्तर पर नामांकन के लिए प्रवेश परीक्षा ली जायेगी। अगले सत्र से पीजी व यूजी में च्वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम लागू किया जायेगा। 

 

यह भी पढ़े  कुशवाहा के आज महागठबंधन में शामिल होने की र्चचा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here