दीपावली के मौके पर भी घर नहीं लौटे तेजप्रताप, पत्नी ऐश्वर्या समेत पूरा परिवार करता रहा इंतजार

0
92

लालू परिवार और ऐश्वर्या राय की दीवाली तेजप्रताप यादव के इंतजार में ही कट गई. पूरे परिवार को इस बात की उम्मीद थी कि तेजप्रताप दीवाली के मौके पर घर जरूर आएंगे लेकिन ऐसा हो न सका. तेजप्रताप फिलवक्त कहां है इसका पता न तो घऱवालों को है और न ही उनके शुभचिंतकों को.

इससे पहले तेजप्रताप जब मंगलवार को बनारस थे तो ये उम्मीद जगी थी कि वो दीवाली से पहले अपने घर जरूर लौटेंगे लेकिन ऐसा हो न सका. अब तक जो जानकारी मिल रही है उसके मुताबिक लालू के बड़े बेटे राजधानी पटना से दूर बनारस और वृंदावन की गलियों में खाक छान रहे हैं. तेजप्रताप यादव शुक्रवार को ही अपने घर से निकले हैं और पिछले पांच दिन से वो पटना नहीं लौटे.

वो गया से बनारस के लिए गए थे जिसके बाद ऐसी उम्मीद थी कि वो काशी में बाबा विश्वनाथ के दर्शन कर घर लौटेंगे लेकिन ऐसा हो न सका. बताया जा रहा है कि तेजप्रताप बनारस में बाबा विश्वनाथ का दर्शन करने के बाद वो बुधवार को वृंदावन के लिए निकल गये. इससे पहले उनके घरवालों समेत पार्टी के सीनियर नेताओं को पूरा विश्वास था कि तेजप्रताप दीपावली के दिन घर जरूर लौटेंगे.

यह भी पढ़े  छत्तीसगढ़ में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर उथल-पुथल तेज हो गई है. पार्टियों द्वारा प्रत्याशियों की लिस्ट जारी करने के बाद रूठने-मानने का दौर भी शुरू हो गया है. अब बात अगर भिलाई की करें तो भारतीय जनता पार्टी की जारी हुई तीसरी टिकट की लिस्ट से वैशाली नगर विधानसभा में घमासान मच गया है. पार्टी ने वैशाली नगर विधानसभा सीट प्रत्याशी के प्रबल दावेदार माने जा रहे भाजपा की राष्ट्रीय महामंत्री सरोज पाण्डेय के भाई को दरकिनार करते हुए वर्तमान विधायक विदयारत भसीन को फिर टिकट दे दिया है. भाजपा के इस फैसले का विरोध शुरू हो गया है. भसीन को टिकट दिए जाने से भिलाई भाजपा के जिलाध्यक्ष सांवला राम डाहरे स्वयं विरोध में खड़े हो गए है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक नाराज डाहरे मंगलवार को अपने 10 मंडलों के 1500 से अधिक सदस्यों के साथ पार्टी कार्यालय रायपुर में इस्तीफा देने पहुंच सकते हैं. इससे यह अंदाजा लगाया ही जा सकता है कि भाजपा में किस तरह से अंर्तकलह मचा हुआ है. इधर भिलाई नगर निगम के नेता प्रतिपक्ष और भाजपा नेता रिकेश सेन भी टिकट के प्रबल दावेदार थे जो टिकट नहीं मिलने से आक्रोशित हो उठे है. अब वे भी वैशाली नगर विधानसभा से ही नामांकन दाखिल करने जा रहे है. इस तरह से भाजपा को वर्तमान में अपने ही साथियों से जूझना मुश्किल होगा, तो वहीं अहिवारा विधायक और भिलाई जिलाध्यक्ष सांवला राम डाहरे का यदि पार्टी इस्तीफा मंजूर कर लेती है तो उनको अहिवारा से दिया गया भाजपा का टिकट भी खतरे में पड सकता है. ऐसे में भाजपा की दो सीटों के बुरी तरह से प्रभावित होने के कयास लगाए जा सकते है.

मालूम हो कि पत्नी ऐश्वर्या को दी जाने वाली तलाक की अर्जी दाखिल करने के बाद से तेजप्रताप लगातार बाहर हैं. शनिवार को वो रांची में अपने पिता लालू यादव से मिलकर पटना लौट रहे थे लेकिन इस बीच उनकी तबियत बिगड़ गयी और वो पहले रांची में रूके, फिर गया में आराम किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here