दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में चूहे के काटने से नौ दिन के शिशु की मौत

0
21

दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (डीएमसीएच) में लापरवाही का एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें चूहे के काटने से नौ दिन के शिशु की मौत हो गई। सूत्रों ने बताया कि मधुबनी जिले में सकरी थाना क्षेत्र के नजरा गांव निवासी फिरन चौपाल ने सोमवार को अपने नौ दिन के शिशु को डीएमसीएच में शिशु रोग विभाग के गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में भर्ती कराया, जहां चूहे के काटने से उसकी मौत हो गई। परिजनों ने इस मामले को लेकर जिला विकास आयुक्त (डीडीसी) को लिखे पत्र में कहा है कि सोमवार को देर रात जब वे अपने बच्चे को देखने गए तो वह ठीक था। लेकिन, जब मंगलवार को सुबह पांच बजे वे आईसीयू में गए तो देखा कि उनके बच्चे के हाथ और पांव को चूहा काट रहा था और वहां कोई नर्स और चिकित्सक भी नहीं थे। जब उन्हें बुलाया तो उन्होंने कहा कि उनके बच्चे की मौत हो चुकी है। उन्होंने पत्र में अस्पताल प्रशासन, चिकित्सक और नर्स के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने की मांग की है। इस आरोप पर अस्पताल के नवजात शिशु केयर यूनिट के नोडल अधिकारी डॉ. ओमप्रकाश ने कहा कि फिरन चौपाल ने जब बच्चे को भर्ती कराया तब उसकी हालत काफी खराब थी। उसकी सांसें रुक-रुक कर चल रही थी। तमाम प्रयासों के बाद भी उसे बचाया नहीं जा सका। उन्होंने कहा कि जब तक बच्चा जीवित रहा, तब तक नर्स और डॉक्टर उसके पास ही रहे। उस समय तक किसी चूहे ने बच्चे को नहीं काटा। डॉ. ओमप्रकाश ने कहा कि सार्वजनिक स्थलों की तरह अस्पताल में भी चूहों की संख्या काफी है और हम हर प्रयास कर रहे हैं कि उन्हें मारें, लेकिन बगल के घरों से चूहे हमेशा अस्पताल में चले आते हैं। हमने पेस्ट कंट्रोल वालों को एक साल तक इस काम के लिए रखा, पैसे भी दिए, लेकिन किसी तरह का परिणाम नहीं देखकर हमने यह पैसे देने बंद कर दिए।

यह भी पढ़े  केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे का हुआ एंकल फ्रैक्चर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here