तीन राज्यों में आंधी का कहर, आज पटना समेत कई जिलों में आंधी

0
88

देशभर में अचानक आए आंधी तूफान से तीस से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है जबकि दर्जनों लोग घायल हैं। तेज आंधी और बिजली गिरने के कारण गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश में कई लोगों को जान गंवानी पड़ी है। गुजरात में आंधी-बारिश से 11 लोगों की मौत हुई है जबकि राजस्थान में आंधी से अबतक 9 लोगों की जान चली गई। वहीं मध्य प्रदेश में आंधी और बिजली गिरने से 10 की मौत हो गई है। गुजरात में मरने वालों में तीन महिलाएं भी शामिल हैं।

मध्य प्रदेश में सबसे ज्यादा नुकसान इंदौर, शाजापुर और धार में हुआ है। मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ से मौत दुख जताया है। वहीं राजस्थान में झालावाड़ और उदयपुर में सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। अकेले झालावाड़ में ही चार लोगों की मौत हो गई है।

तूफान की वजह से गुजरात के सांबरकांठा में पीएम मोदी की रैली का टेंट भी उड़ गया है जहां आज पीएम की रैली होनी है। सांबरकाठा के साथ साथ सुरेन्द्रनगर और आणंद में भी पीएम की रैली होनी है।​ बारिश से इन राज्यों में तापमान 40 डिग्री से कम हो गया है। मौसम विभाग ने बताया कि बुधवार और गुरुवार को भी मौसम ऐसा ही रहने का अनुमान है।

यह भी पढ़े  पटना में स्थित पुरानी सचिवालय इमारत की कुर्की और नीलामी करने के आदेश

मौसम विभाग ने बताया कि पाकिस्तान से आए पश्चिमी विक्षोभ और पिछले 3-4 दिनों से चल रही हीटवेव के चलते देश के पश्चिम-उत्तर हिस्से, मध्य क्षेत्र और विदर्भ और प.बंगाल तक तेज आंधी, गरज और बिजली तड़कने के साथ बारिश और ओले गिरे। यह स्थिति बुधवार शाम तक रहेगी। गुरुवार से फिर गर्मी बढ़ेगी। इस साल मध्य भारत से विदर्भ तक बार-बार हीटवेव चलेगी। हर छठे दिन आंधी और गरज के साथ बारिश होगी।

राजधानी पटना स्थित मौसम विज्ञान विभाग ने राज्य में आंधी, बारिश और ठनका गिरने का अलर्ट मंगलवार को जारी किया है. इसमें राज्य के 18 जिलों में नुकसान की आशंका जताते हुए उससे बचाव की तैयारी का निर्देश दिया गया है. वहीं राज्य के 19 जिलों को अलर्ट पर रखा गया है. मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के कारण इस तरह की स्थिति पैदा हुई है. इसमें 60 से 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी आ सकती है. साथ ही बारिश और ठनका गिर सकता है.

यह भी पढ़े  मौत बन कर गिरी आकाशीय बिजली, चार जिलों में 11 लोगों की मौत, दर्जनभर से ज्यादा घायल

बचाव की तैयारी के निर्देश वाले जिले

पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण, गोपालगंज, सीवान, छपरा, सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फपुर, दरभंगा, वैशाली, शिवहर, समस्तीपुर, सुपौल, अररिया, किशनगंज, पूर्णिया, सहरसा, मधेपुरा.

अलर्ट पर जिले : पटना, बक्सर, भोजपुर, रोहतास, भभुआ, नालंदा, औरंगाबाद, जहानाबाद, गया, नवादा, शेखपुरा, बेगुसराय, लखीसराय, कटिहार, भागलपुर, बांका, मुंगेर, खगड़िया और जमुई.

आपदा प्राधिकार ने जारी की एडवाइजरी

पटना मौसम

विभाग के अलर्ट के बाद आपदा प्राधिकारी ने जनहित में एडवाइजरी जारी की है. लोगों को आंधी-तूफान के दौरान सुरक्षित स्स्थनों पर रहने की सलाह देते हुए कहा है कि तेज बारिश-तूफान के वक्त अपने घर के मजबूत भाग के अंदर रहें. टूटे बिजली के तारों से सावधान रहें. किसी भी जानकारी के लिए बिहार राज्य आपदा प्रबंधन
प्राधिकरण के नंबर 06122522032 पर संपर्क करें.

आज पटना जिले में भी आंधी-पानी के आसार

पटना : मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से पटना जिले के लिए अलर्ट जारी किया गया है. इस दौरान 60 से 70 किमी की रफ्तार से तेज हवा या आंधी चलने के साथ कुछ जगहों पर गरज से साथ मध्यम बारिश होने की भी संभावना है.

यह भी पढ़े  महाशिवरात्रि :हर हर महादेव से गूंजेंगे शहर के शिवालय, 51 साल बाद इस बार मंगलवार को मनेगी महाशिवरात्रि

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार बुधवार को पूरा मौसम बदला रहेगा. वहीं मंगलवार को भी पूरे दिन मौसम बदला रहा. बादल छाये रहने के कारण शहर के अधिकतम तापमान मेें गिरावट आयी. दिन में कई बार बादल छाये. सोमवार को जहां शहर का अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के पार था, वहीं मंगलवार को अधिकतम तापमान 37.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया.

न्यूनतम तापमान 25.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विज्ञान केंद्र से बारिश होने या आंधी चलने से बुधवार को अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस तक आ सकता है. गौरतलब है कि अफगानिस्तान से चलने वाली पश्चिमी विक्षोभ के कारण मौसम में परिवर्तन आया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here