डॉ. मिश्र को भुला नहीं पायेंगे बिहारवासी : उपमुख्यमंत्री

0
43

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. जगन्नाथ मिश्र के निधन पर शोक संबेदनाओं का तांता लगा है। उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.जगन्नाथ मिश्र के निधन की सूचना के बाद दिल्ली के द्वारका में सेक्टर 4 स्थित आवास पर जाकर उपमुख्यमंत्री ने उनके पार्थिव शरीर पर श्रद्धासुमन अर्पित किया। उपमुख्यमंत्री के साथ बिहार के स्वास्य मंत्री मंगल पाण्डेय भी मौजूद थे।श्री मोदी ने अपने शोक संदेश में डॉ. जगन्नाथ मिश्रा के निधन को बिहार और देश के राजनीति के लिए अपूरणीय क्षति बताते हुए कहा है कि निकट भविष्य में इसकी भरपाई सम्भव नहीं है। तीन बार बिहार के मुख्यमंत्री और केंद्र की सरकार में मंत्री पद का दायित्व निभा चुके डॉ. मिश्र को भुला पाना बिहारवासियों के लिए सम्भव नहीं होगा। श्री मोदी ने दिवंगत आत्मा की शांति व दुख की इस घड़ी में शुभचिंतकों, समर्थकों और परिजनों को धैर्य प्रदान करने की ईर से प्रार्थना की है। इसके पूर्व उपमुख्यमंत्री श्री मोदी ने नई दिल्ली स्थित एम्स जाकर पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के स्वास्य के बारे में जानकारी ली। ज्ञातव्य है कि श्री जेटली विगत 09 अगस्त से ही सांस लेने में तकलीफ की शिकायत के बाद चिकित्सार्थ एम्स में भर्ती है। उनकी हालत अभी नाजुक बनी हुई है।डॉ. मिश्र के निधन से राजनीतिक के एक युग का अंत : भाजपापटना। प्रदेश भाजपा के मीडिया विभाग ने पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. जगन्नाथ मिश्र के असामयिक निधन को देश एवं प्रदेश की राजनीति के एक युग का अंत कहा है। गौरतलब है कि डॉ. जगन्नाथ मिश्र के पुत्र नीतीश मिश्र बिहार भाजपा के उपाध्यक्ष होने के साथ-साथ बिहार भाजपा मीडिया विभाग के प्रभारी भी हैं । भाजपा के राष्ट्रीय सह मीडिया प्रभारी डॉ. संजय मयूख, प्रदेश प्रवक्ता डॉ. नवल किशोर यादव, डॉ. निखिल आनंद, सुरेश रूंगटा, प्रेम रंजन पटेल, संजय सिंह टाइगर, राजीव रंजन, अजीत चौधरी, अजफर शमसी, प्रदेश मीडिया प्रभारी अशोक भट्ट, राकेश कुमार सिंह, अरविन्द कुमार ठाकुर, राजीव रंजन, पंकज सिंह, प्रवीण चन्द्र राय, सोंष पाठक, किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश कुमार सिंह, प्रदेश महामंत्री सरोज रंजन पटेल ने शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि बहुआयामी प्रतिभा सम्पन्न, राजनीतिज्ञ, शिक्षाविद, संसदीय ज्ञाता, राज्य सरकार के मंत्री, मुख्यमंत्री, केन्द्रीय मंत्री, विधायक, सांसद एवं मानवाधिकार संरक्षक के रूप में बिहार की प्रगति के लिए किये गये डॉ. मिश्र के कार्य अविस्मरणीय रहेंगे। अपने पूरे संसदीय जीवन में बिहार की बेहतरी, शैक्षणिक सुधार, आधारभूत संरचनाओं के निर्माण एवं सामाजिक विकास और सद्भाव के लिए अपने कालजयी निर्णयों एवं कायरें की बदौलत वे हमेशा बिहारवासियों की स्मृति में जिंदा रहेंगे ।

यह भी पढ़े  उपमुख्यमंत्री ने पटना में जलजमाव की समस्या का विस्तृत समीक्षा की

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here