झारखंड बंद : प्रदर्शनकारियों ने रोकी कई ट्रेनें, कई लोग गिरफ्तार

0
60

भूमि अधिग्रहण कानून 2013 में संशोधन के विरोध में संयुक्त विपक्ष ने आज झारखंड में बंद बुलाया है. बुधवार को गृह सचिव और डीजीपी ने ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया कि बंद को देखते हुए पांच हजार से ज्यादा सुरक्षाबलों को लगाया गया है. गृह सचिव एसकेजी रहाटे और डीजीपी डीके पांडेय ने जानकारी दी कि पुलिस के अलावा रैप की दो कंपनियां, स्टेट रैपिड एक्शन फोर्स की 6 कंपनियां और होमगार्ड के 31 सौ से अधिक जवान के साथ-साथ टीयर गैस राइट कंट्रोल यूनिट की भी तैनाती रहेगी. सीसीटीवी और ड्रोन कैमरा की मदद से बंद पर नजर रखी जाएगी. इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस के जरिए मिले तथ्यों के आधार पर उपद्रवियों के मामला दर्ज कर फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाया जाएगा. गृह सचिव ने कहा कि बंद के दौरान आम जनजीवन में बाधा नहीं आए इसके इंतजाम किए गये हैं. डीजीपी ने कहा कि आमलोगों को परेशान करने वालों को चिन्हित करके कार्रवाई की जाएगी. भीड़ को उकसाने वालों पर नजर रखी जाएगी. कोई भी जबरदस्ती दुकानों और प्रतिष्ठानों को बंद नही कराएगा. बतौर डीजीपी राज्यभर में सघन चेकिंग अभियान चलाए जा रहे हैं. उपद्रवियों से निबटने के लिए रबर बुलेट का इस्तेमाल किया जाएगा.

यह भी पढ़े  कोयला घोटाला: अदालत ने मधु कोड़ा को 3 साल जेल और 25 लाख जुर्माने की सजा सुनाई

कोडरमा में बंद का असर दिख रहा है. यहां बाजार बंद हैं. विपक्षी दलों के नेता सड़क पर उतरे हैं. झुमरीतिलैया में पूर्व मंत्री सह राजद प्रदेश अध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी के नेतृत्व में प्रदर्शन जारी है. डोमचांच व मरकच्चो में बंद समर्थकों ने रोड जाम कर दिया है. तिलैया में अब तक 28 बंद समर्थकों को गिरफ्तार किया जा चुका है. 

झारखंड बंद का असर चुरचू ,चरही व कोयलांचल में देखा जा रहा है. झामुमो , कांग्रेस ,झाविमो व अन्य विपक्षी दल के कार्यकर्ता सुबह ही सड़क पर उतरे और आवागमन बाधित कर दिया. सीसीएल हज़ारीबाग़ कोयलांचल क्षेत्र चरही के तापिन साउथ ,तापिन नार्थ ,केदला आदि परियोजना में खदान में आउट सोर्सिंग व ट्रांसपोर्टिंग पूर्ण रूप से ठप नजर आ रहा है. 

विपक्षी दलों के आहुत बंदी का हज़ारीबाग में व्यापक असर दिख रहा है. बंद समर्थकों ने डिसटीक बोर्ड चौक पर सड़क जाम कर दिया. इधर, पुलिस के जवान सभी मार्गो में तैनात हैं. पेट्रोल पंप भी बंद है. बसस्टैंड से बसों का परिचालन भी बंद है. यात्री बस के साथ मालवाहक वाहन का परिचालन भी बंद नजर आ रहा है. बस  स्टैंड पर यात्री परेशान दिख रहे हैं.

यह भी पढ़े  पूर्व आईपीएस अजय कुमार को झारखंड कांग्रेस का प्रमुख नियुक्त किया गया

गिरिडीह: गिरिडीह के साथ गांवां में भी विपक्षी दलों द्वारा बुलाये गये बंद का जोरदार असर नजर आ रहा है. यहां वाहनों की लंबी कतार लग गयी है. खबर लिखे जाने तक आवागमन पूरी तरह से ठप है. समर्थकों द्वारा गांवां-गिरिडीह मुख़्य मार्ग जाम कर दिया गया है. 

-झारखंड व छतीसगढ़ राज्य के बॉर्डर में उतरे बंद समर्थक, एनएच-78 जाम

गुमला में सुबह से ही बंद का असर नजर आ रहा है. यहां चाय, पान की दुकान भी नहीं खुली. वाहनों का परिचालन ठप नजर आ रहा है. झारखंड व छत्तीसगढ़ राज्य के बॉर्डर पर बंद समर्थक सड़क पर उतर आये हैं. एनएच-78 में बैठ कर मालवाहक वाहनों का परिचालन रोक दिया है. बीच सड़क पर टायर भी जलाया गया है.
टंडवा: झारखंड सरकार की भूमि अधिग्रहण के विरोध में विपक्षी दलों का टंडवा के मिसरोल में बंद असरदार. यहां रोड जाम कर दिया गया. कोल वाहनों का ठहराव सड़कों पर नजर आ रहा है. इधर कांग्रेस ,झाविमो एवं अन्य विपक्षी पार्टियों के समर्थक मिसरोल में बंद के समर्थन में सड़कों पर जमे हैं , वही स्थानीय प्रशासन भी शांति व्यवस्था को लेकर मौके पर मुस्तैद नजर आ रही है. बंद शांतिपूर्ण तरीके से किया जा रहा है.

यह भी पढ़े  आज रांची में जदयू के कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे नीतीश

-रांची : बंद समर्थकों से निपटने के लिए और शांति व्यवस्था कायम रहे इसके लिए जगह जगह फोर्स लगाया गया है. जहां-जहां उपद्रव होने की आंशका है वहां रेफ के जवानों को लगाया गया है. सुबह से ही डीसी,एसएसपी समेत अन्य प्रशाशनिक अधिकारी सड़कों पर निकलकर हालात का जायजा ले रहे हैं.

-चतरा शहर में बंद का असर नजर आ रहा है. बंद के समर्थन में राजद,झाविमो,झामुमो,कांग्रेस सहित कई विपक्षी दल के नेता सड़क पर उतरे हैं. कांग्रेस के जिला अध्यक्ष इमदाद अली, साबिर हुसैन,झाविमो के जिला अध्यक्ष तिलेश्वर पासवान, पूर्व मंत्री और झाविमो नेता सत्यानन्द भोक्ता, राजद जिला अध्यक्ष सलीम गोल्डन और युवा राजद जिला अध्यक्ष बिंदेश्वर प्रसाद “ज्वाला”, झामुमो जिला अध्यक्ष पंकज प्रजापति और वरिष्ठ नेता जियाउद्दीन अधिवक्ता, अरुण यादव ने सड़क पर उतरकर दुकाने बंद करवायी. बंद को देखते हुए पुलिस प्रशासन मुस्तैद नजर आ रही है. एसडीपीओ ज्ञानरंजन तथा सदर थाना प्रभारी रामअवध सिंह दल बल के साथ मौजूद हैं. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here