जोनल आईजी नैयर हसनैन खान करेंगे पूरे प्रकरण की जांच

0
19

घटना को पुलिस निदेशालय ने काफी गंभीरता से लिया है। ऊपर के अधिकारियों के निर्देश के बाद पुलिस निदेशालय ने पूरे प्रकरण की जांच का निर्देश जोनल आईजी नैयर हसनैन खान को दिया है। जोनल आईजी, डीआईजी और एसएसपी ने मौका मुआयना किया। पूरे मामले पर आईजी ने जवानों से बात की। अब इस मामले की जांच की जा रही है कि ट्रैफिक पुलिस कायार्लय के किस अधिकारी की लापरवाही से महिला जवान सविता पाठक को छुट्टी नहीं मिली। जांचोपरांत कार्रवाई की जाएगी। पुलिस सूत्रों की मानें तो कार्रवाई के लपेटे में ट्रैफिक पुलिस के कई बड़े और छोटे आ सकते हैं। पोस्टमॉर्टम में मिले रोग के लक्षणपटना। सविता कुमारी पाठक की मौत किस रोग से हुयी, इसके सत्यापन के लिए मृतका का पोस्टमॉर्टम कराया गया है। बुद्धा कॉलोनी पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए पीएमसीएच भेजा। मेडिकल बोर्ड से शव का परीक्षण कराया गया। इस दौरान बुद्धा कॉलोनी थाने के इंस्पेक्टर मनोज मोहन अपने अधिकारियों के साथ पीएमसीएच में तैनात थे। पोस्टमार्टम के बाद शव मृतका के परिजनों को सौंप दिया गया। पटना मेडिकल कॉलेज फॉरेंसिक मेडिसिन की डॉक्टर रितू कुमारी और उनकी टीम ने शव का पोस्टमार्टम किया। फॉरेंसिक सूत्रों के मुताबिक रोग के लक्षण मिले हैं। मृतका का विसरा फॉरेंसिक जांच के लिए जहां रखा गया है वहीं ब्लड और स्किन हिस्टोपैथॉलिजकल जांच के लिए भेजा जा रहा है। इसे भी सुरक्षित रखा गया है।

यह भी पढ़े  सिविल कोर्ट में चतुर्थवर्गीय कर्मचारियों की बहाली पर रोक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here