जेल में मन रही लालू यादव की मकर संक्रांति, चूड़ा-दही लेकर पहुंचे समर्थक

0
232

चारा घोटाला मामले में होटवार जेल में बंद राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के लिए राजद नेताओं द्वारा सौगात भेजने का सिलसिला रविवार को भी जारी है. आज बिहार के विभिन्न क्षेत्र से लालू के समर्थक चूड़ा, दही, तिलकुट और सब्जी लेकर पहुंच रहे हैं. इससे पहले शनिवार को राजद नेता आशुतोष यादव, अफरोज आलम, हाजी जुबैर व राजेश यादव ने मकर संक्रांति को देखते हुए जेल में लालू के लिए चूड़ा, दही और तिलकुट भिजवाया. राजद के प्रदेश महासचिव अनिल सिंह आजाद द्वारा सभी चीजों की जांच-पड़ताल के बाद सामान जेल के अंदर भेजा गया.

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की मकर संक्रांति रांची के बिरसा मुंडा केंद्रीय जेल में मन रही है। लालू चारा घोटाला के एक मामले में सजा मिलने के बाद लालू वहां कैद हैं। जेल में उनकी संक्रांति अच्‍छे से मने, इसलिए उनके समर्थक व कार्यकर्ता सुबह से ही दही-चूड़ा व तिलकुट आदि के साथ जेल पहुंच रहे हैं।

यह भी पढ़े  आज रांची में जदयू के कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे नीतीश

मकर संक्रांति के अवसर पर हर साल राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के पटना आवास पर बड़ा भोज होता था। हजारों समर्थक व कार्यकर्ता जुटते थे। सियासी दिग्‍गजों का भी जमावड़ा होता था। लेकिन, इस साल लालू जेल में हैं। इस कारण आज लालू परिवार मकर संक्रांति नहीं मना रहा है। उनके आवास पर सन्‍नाटा है।

राजद के कार्यकर्ताओं व समर्थकों को यह माहौल अखर रहा है। उनमें से सैकड़ों आज सुबह से ही रांची के बिरसा मुंडा जेल के समाने डेरा डाले हुए हैं। वे लालू प्रसाद यादव के लिए चूड़ा-दही, तिलकुट व सब्जियां लेकर पहुंचे हैं। समर्थक व कार्यकर्ता इन सामानों को लालू प्रसाद के पास पहुंचान के लिए जेल प्रशासन से आग्रह कर रहे हैं।

विदित हो कि मकर संक्रांति का पर्व मनाने के लिए जेल में भी व्‍यवस्‍था की गई है। जेल में दही-चूड़ा व तिलकुट आदि की व्‍यवस्‍था है। शाम में कैदियों के लिए खिचड़ी के भोज की भी व्‍यवस्‍था की गई है।

यह भी पढ़े  झारखंड RJD प्रदेश अध्‍यक्ष अन्नपूर्णा ने थामा बीजेपी का दामन

सुबह से ही लालू के समर्थक बिहार से पहुंच रहे हैं। ािथ में दही चूड़ा लेकर पहुंचे हैं। सुबह से तांता लगा है। खास तरह से मनाते थे। आवसा पर जमववड़ा लगा था। इस बासत ऐसा नहीं। यह समर्थकों कोअ चार रख है।

लालू यादव को भगवान की तरह मानते

राजनीति में अपने आकाओं को खुश करने के लिए छुटभैया नेता या कार्यकर्ता कुछ कर जाते है. लेकिन इसी भीड़ में कुछ ऐसे भी होते है कि जो अपने नेता को भगवान मान लेते हैं. उन्हीं में से एक हैं कटिहार 60 साल के उम्रदराज मंगल यादव. इन्हें राजनीति से बहुत ज्यादा मतलब नहीं है. लेकिन मंगल आरजेडी प्रमुख लालू यादव को भगवान की तरह मानते हैं. मूल रूप से मुजफ्फरपुर के रहने वाले और कटिहार जक्शन के प्लेटफार्म नंबर 6 पर चाय-नाश्ते का स्टॉल चलाने वाले मंगल के लिए लालू यादव भगवान हैं. मंगल के मानें तो भले ही कानून के नजर में लालू दोषी हैं. लेकिन उनका भरोसा है कि बहुत जल्द लालू जेल से बहार आएंगे. मंगल भाभुक होकर कहते है कि जब तक उनके प्रभु (लालू) जेल से बहार नहीं आएंगे तब तक वो ना मकर संक्रांति, ना होली और ना ही दीपावली मनाएंगे. लालू को भगवान मानने वाले मंगल ने इसके लिए एक पोस्टर भी छपवाया है. मंगल बताते हैं कि दुकान में लगे लालू के फोटो को प्रणाम करके ही उनके दिन की शुरुआत होती है  लालू के इस भक्त को लालू का परिवार निजी तौर पर भी जानता है. लालू के पुत्र तेजस्वी यादव जब उपमुख्यमंत्री बने थे तो वो मंगल को अपने साथ लेकर विधानसभा भी घुमायी थी. साथ ही अपने आवास ले जाकर सम्मानित भी किया.

यह भी पढ़े  अमित शाह के बाद राजनाथ ने थपथपाई मुख्यमंत्री रघुवर दास की पीठ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here