जेल में पिटते-पिटते सुबह हो जाती थी:साध्‍वी प्रज्ञा

0
96

बीजेपी ने साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को भोपाल सीट से उतारा है. खुद को बीजेपी कैंडिडेट घोषित किए जाने के बाद प्रज्ञा सिंह ठाकुर एक्शन में आ गई हैं. गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके साध्वी प्रज्ञा ने जेल में बीते दर्दनाक पलों के बारे में बताया. इस दौरान वो रो पड़ी. साध्वी प्रज्ञा ने कहा, ‘वो लोग मुझे गैर-कानूनी तरीके से 13 दिन तक जेल में रखा और पहले ही दिन बिना कुछ पूछे मुझे पीटने लगे. चौड़े बेल्ट से मुझे मारते थे. जेल में मुझे बुरी तरह प्रताड़ित किया गया. पीटने वाले मुझसे जबरन झूठ बुलवाया जाता था. कुछ लोग चाहते हैं कि मुझे फांसी पर लटका दिया जाए. लेकिन एनआईए ने कहा कि मैं आतंकवादी नहीं हूं. मुझे राजनीति का अनुभव है, मैं कभी विवादों में नहीं रही.’

ANI

@ANI
#WATCH: Alleging torture by jail officials, Sadhvi Pragya Singh Thakur, BJP Lok Sabha candidate from Bhopal, breaks down while addressing the party workers

यह भी पढ़े  बाढ़ के भवर में फस रहे बिहार पर आज सीएम नीतीश कुमार कर सकते हैं उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक

साध्वी ने यह भी कहा कि मैं नेतागिरी करने नहीं आई हूं, मैं धर्म युद्ध करने आई हूं. मेरा नाम स्वामी पूर्णचेतना है, इसलिए मैं चेतना जगाने आई हूं. ये सब बाते प्रज्ञा ठाकुर ने भोपाल के हुजूर विधानसभा में एक बैठक के दौरान बोल रहीं थीं.

इससे पहले साध्वी प्रज्ञा ने कांग्रेस पर हिंदू विरोधी होने का आरोप लगाया और कहा कि कांग्रेस ने हिंदुओं को आतंकवाद से जोड़ते हुए एक महिला को प्रताड़ित किया. उन्होंने कहा कि वह इस मुद्दे को लेकर जनता के बीच जाएंगी और प्रताड़ना के सबूत भी देंगी.

साध्वी ने कहा कि कांग्रेस ने हिंदुओं को आतंकवाद से जोड़ा है, हिंदू आतंकवाद बताया, एक महिला को प्रताड़ित किया, दिग्विजय सिंह सबूत मांग रहे हैं तो उन्हें प्रताड़ना के सबूत दिए जाएंगे.
बताते चलें कि इससे पहले बुधवार को प्रज्ञा ने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की. इस साल साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को प्रयागराज कुंभ के दौरान भारत भक्ति अखाड़े की आचार्य महामंडलेश्वर भी बनाया गया था.

यह भी पढ़े  21 आईपीएस अधिकारियों का तबादला, 4 जिलों में नयेे एसपी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here