जादूगर ओपी शर्मा के इंद्रजाल से मंत्री हुए मंत्रमुग्ध

0
370
PATNA GANDHI MAIDAN MEN JADUGAR O P SHARMA KE SHOW KA UDGHATAN KERTE MINISTER MAHESHWAR HAZARI, MINISTER SERWAN KUMAR AND OTHER

देश के ख्याति प्राप्त जादूगर ओपी शर्मा के जादूई करिश्मों के बीच शुक्रवार को गांधी मैदान में मंच पर अचानक डायनासोर प्रकट हो गया। इस देख कर ग्रामीण विकास एवं संसदीय कार्य मंत्री श्रवण कुमार, भवन निर्माण मंत्री महेश्वर हजारी एवं परसा के पूर्व विधायक छोटेलाल राय मंत्रमुग्ध हो गये। डायनासोर चिघाड़ते हुए दर्शकों की तरफ बढ़ने लगा, लेकिन जादूगर ने उसे अपने काबू में लेकर शांत कर दिया। लोगों की समझ में नहीं आ रहा था कि ये क्या हो रहा है और जब होश आया तो बच्चों की किलकारी और बड़ों के वाह-वाह से पूरा पंडाल गूंज उठा। गांधी मैदान के गेट नंबर-6 में मंत्री और पूर्व विधायक ने जादूगर ओपी शर्मा के कार्यक्रम का विधिवत उद्घाटन किया। जादूगर शर्मा ने जलती मशाल से एक सफेद कबूतर प्रकट किया, उसी सफेद कबूतर को उदघाटन शोक के अतिथियों ने उड़ाकर पटना वासियों को शांति का संदेश दिया। अमेरिका की विशालतम ‘‘ स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी ’ को पलक झपकते ही गायब किया तो लोग हैरत भरी नजरों से एक दूसरे का चेहरा देखते रह गये। जादूगर ओपी शर्मा के जादू शो में है रोजमर्रा की जिंदगी से जुड़े पहलू। हल्की-फुल्की हंसी-मजाक। जादूगर शर्मा ने अपने एक जादूई प्रदर्शन के लिए दो-तीन छोटे बच्चों को मंच पर बुलाया तो बच्चों की पूरी फौज इक्ट्ठा हो गयी। उनमें से एक बच्चे से जब जादूगर ने पूछा कि बड़े होकर क्या करोगे? तो उसका जवाब था शादी करेंगे। दूसरे से पूछा तो बोला बच्चे पैदा करेंगे। बच्चों के इस अजीबो-गरीब जवाब पर बच्चों के साथ-साथ बड़े भी हंसते-हंसते लोट-पोट हो गये। शो के दौरान लड़के को एक बाक्स में डाल कर फिर निकाला तो उसका सेक्स ही चेंज हो गया। एक खाली डिब्बे से ढेर सारे कबूतर, खरगोश और फूलों का पूरा बाग निकलते देख बच्चों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। जादू और अध्यात्म के सहारे जादूगर को हवा में उपर उठते देख दर्शक भक्तिभाव में लीन हो गये। अध्यात्म और जादू के माध्यम से उन्होंने बताया कि कैसे विज्ञान का सहारा लेकर ढोंगी साधु आम लोगों को ठगते हैं और अपना उल्लू सीधा कर लेते हैं। भोले-भाले लोगों को जादूगर शर्मा ने यही संदेश दिया है कि यह सब विज्ञान की करामात है, किसी साधु की अध्यात्मिक शक्ति या भक्ति नहीं। इसलिए ऐसे चमत्कार दिखाने वाले ढोंगी साधुओं से बचकर रहे। जादू को केवल मनोरंजन की नजर से देखें, अंधविास ना करें।

यह भी पढ़े  नीट 2018 का एडमिट कार्ड सीबीएसई ने किया जारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here