जहाज को डूबते देख ‘‘कप्तान’ भाग गया:रविशंकर प्रसाद

0
27
PATNA BJP OFFICE MEIN PRESS KO SAMBODHIT KERTE PATNA SAHEB LOK SABHA UMEEDWAR RAVI SHANKER

केन्द्रीय विधि एवं न्याय, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री सह पटना साहिब लोकसभा के उम्मीदवार रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी पार्टी के जहाज को डूबता देख अल्पसंख्यक बहुल केरल के वायनाड से चुनाव लड़ने का फैसला किया है। उन्होंने कटाक्ष किया कि जहाज को डूबता देख ‘‘कप्तान’ भाग गया। श्री प्रसाद ने यहां पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उत्तर प्रदेश की पारम्परिक सीट अमेठी में असुरक्षित महसूस कर राहुल गांधी केरल के वायनाड चले गए। श्री गांधी चुनाव के समय ही मंदिर जाते हुए दिखाई पड़ते हैं और लोगों को अपना जनेऊ भी दिखाते हैं। इस तरह के ‘‘चुनावी ¨हदू’ को जनता पहचान गई है और मुस्लिम बहुल क्षेत्र वायनाड से चुनाव लड़ने की घोषणा से यह बात और प्रमाणित होती है।श्री प्रसाद ने कहा कि 2011 की जनगणना के अनुसार वायनाड में ¨हदू आबादी 49.4 प्रतिशत है और शेष अल्पसंख्यक हैं। श्री गांधी के वायनाड से चुनाव लड़ने की घोषणा पर इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग ने उनसे सवाल किया है कि उनके अंगने में श्री गांधी का क्या काम है।केंद्रीय मंत्री ने कहा कि श्री गांधी का वायनाड से चुनाव लड़ना उनके असुरक्षित महसूस करने की सच्चाई को दर्शाता है। कांग्रेस का यह कहना सरासर गलत है कि श्री गांधी ने दक्षिण भारत के लोगों की भावना का ख्याल रखते हुए वायनाड से चुनाव लड़ने का निर्णय लिया है। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दोबारा सत्ता में आने से रोकने के लिए कई दल मिलकर महागठबंधन बनाने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिल पा रही है। तथाकथित महागठबंधन के विभिन्न दलों के कई नेता प्रधानमंत्री बनने का सपना देख रहे हैं लेकिन श्री गांधी को उनकी बहन प्रियंका गांधी के अलावा किसी और से प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में समर्थन नहीं मिल रहा है। संवाददाता सम्मेलन में प्रदेश उपाध्यक्ष देवेश कुमार, प्रदेश प्रवक्ता निखिल आनंद, मीडिया प्रभारी अशोक भट्ट, राजीव रंजन व राकेश कुमार सिंह मौजूद थे।

यह भी पढ़े  लोकसभा चुनाव में प्रत्याशियों के चयन और सीट बंटवारे के लिए राजद ने लालू प्रसाद को किया अधिकृत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here