‘जनता को धर्म व वर्ग के आधार पर बांट रही भाजपा’: कांग्रेस

0
37
PATNA SADAQAT ASHRAM MEIN STATE LAVEL SAMMELAN

बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अल्पसंख्यक विभाग के राज्य स्तरीय अधिवेशन को सम्बोधित करते हुए अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष नदीम जावेद ने कहा कि केन्द्र में भाजपा सरकार के पिछले चार वर्ष नौ महीने के कार्यकाल में देश के संविधान एवं संवैधानिक संस्थाओं पर बड़ा खतरा उत्पन्न हो गया है। उन्होंने कहा कि भाजपा राम मन्दिर के नाम पर देश की जनता को लम्बे समय से गुमराह कर रही है, लेकिन आज तक राम मन्दिर का निर्माण नहीं हुआ। जाबेद ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं भाजपा देश की गंगा-जमुनी संस्कृति को नकार कर यहां की जनता को धर्म एवं वर्ग के आधार पर बांट रही है।उन्होंने उपस्थित अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों का आह्वान किया कि वे 2019 के लोकसभा चुनाव में देश की सभ्यता एवं संस्कृति की रक्षा एवं इसके धर्मनिरपेक्ष चरित्र को अक्षुण्ण बनाये रखने के लिए कांग्रेस पार्टी को अपना मत दें। सदाकत आश्रम में खचाखच भरे मुख्य सभागार में अल्पसंख्यक सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा ने अल्पसंख्यक समुदाय को भरोसा दिलाया कि अल्पसंख्यकों की सभी समस्याओं का समाधान किया जायेगा और प्रदेश कांग्रेस सभी स्तर पर अपनी कमिटियों में अल्पसंख्य समुदाय को पूरा प्रतिनिधित्व देगी। कांग्रेस विधान मंडल दल के नेता सदानन्द सिंह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने हमेशा अल्पसंख्यक समुदाय को पार्टी संगठन एवं राज्य तथा केन्द्र सरकार में उच्च पदों पर बैठाकर उन्हें सम्मानित किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कार्यकाल में देश में कई बार राष्ट्रपति पद पर अल्पसंख्यक समुदाय के नेता आसीन रहे तथा डॉ. मनमोहन सिंह (सिख समुदाय) लगातार दस वर्ष तक देश के प्रधानमंत्री रहे। प्रदेश कांग्रेस अभियान समिति के अध्यक्ष डॉ. अखिलेश प्रसाद सिंह ने कहा कि भारत के संविधान में बहुसंख्यक समुदाय सहित अल्पसंख्यक को भी बराबर अधिकार प्राप्त है। उन्होंने कहा कि आज देश के धर्मनिरपेक्ष चरित्र पर बड़ा खतरा उत्पन्न हो गया है। उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव में सभी वर्ग, धर्म एवं सम्प्रदाय के लोगों से कांग्रेस पार्टी को मत देकर इसकी गंगा-जमुनी संस्कृति को बचाने की अपील की। इस अवसर पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ. शकील अहमद ने कहा कि देश आज चौराहे पर खड़ा है तथा वर्तमान सरकार के क्रियाकलापों के चलते इसके धर्मनिरपेक्ष चरित्र पर खतरा उत्पन्न हो गया है। डॉ. अहमद ने देश में धर्मनिरपेक्ष दलों एवं ताकतों को एक मंच पर आने की अपील की। अल्पसंख्यक अधिवेशन को अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सचिव डॉ. चन्दन यादव, डॉ. शकील अहमद खान, पूर्व मंत्री डॉ. शकील उज्जमा अंसारी, भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के बिहार प्रभारी सुश्री देवोश्री बोरा, हसीब अख्तर, हीरा सिंह बग्गा, सिसिल साह ने भी सम्बोधित किया। स्वागत भाषण बिहार प्रदेश कांग्रेस के अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष मिन्नत रहमानी ने किया। इस अवसर पर विधायक प्रेमचन्द्र मिश्र, भावना झा, पूनम पासवान, अमित कुमार टुन्ना, राजेश राम, बंटी चौधरी, प्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के अध्यक्ष एचके वर्मा, पूर्व विधायक लाल बाबू लाल, युवा कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष दौलत इमाम एवं अन्य नेता उपस्थित थे।

यह भी पढ़े  विश्व बैंक ने सूबे की जीविका परियोजना को किया पुरस्कृत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here