चूल्हे के सामने शरीर पर किया बॉडी स्प्रे, लगी आग, तीन छात्र हुए घायल

0
16

बुद्धा कॉलोनी थाने के मंदिरी काठपुल में एक छात्र ने जलते हुए चूल्हे के सामने शरीर पर स्प्रे किया और पूरे कमरे में आग लग गयी. इस घटना में तीन छात्र आकाश कुमार, शुभम कुमार व सोनू कुमार आग की चपेट में आ गये और बुरी तरह जल गये.

इसमें आकाश कुमार व शुभम कुमार की हालत नाजुक बतायी जाती है. आग लगने के कारण टीन के बने बॉडी स्प्रे के तीन डिब्बे भी काफी आवाज के साथ ब्लास्ट कर गये. हालांकि, सिलिंडर में आग नहीं लगी.
 खास बात यह है कि मकान मालिक बैजनाथ यादव के बेटों ने काफी दिलेरी दिखायी और किसी तरह से कमरे के अंदर से जले छात्रों को बाहर निकाला और अस्पताल में भर्ती कराया. इस घटना में कमरे में रखे किताब व बेडशीट आदि भी जल गये. स्थानीय लोगों की मदद से दमकल ने आग पर काबू पाया.
 घायल तीनों औरंगाबाद के दाउद नगर रहने वाले हैं. आकाश व शुभम चचेरे भाई हैं. तीनों एक साल से बैजनाथ यादव के मकान में दूसरे मंजिल पर एक कमरा लेकर रहते हैं. आकाश सेंट इग्निशियश स्कूल में 11वीं और शुभम व सोनू आइआइबीएम संस्थान में पढ़ाई करते हैं.
स्प्रे करते ही आग फैल गयी
सूत्रों के अनुसार मंगलवार की सुबह नौ बजे आकाश कुमार, शुभम कुमार व सोनू कुमार छोटे सिलिंडर पर खाना बना रहे थे. उनके पास में एक बड़ा सिलिंडर भी था. साथ ही कॉलेज जाने के लिए तैयार भी हो रहे थे. क्योंकि, दस बजे से क्लास थी. इसी बीच में उन तीनों में से किसी ने बॉडी स्प्रे का छिड़काव अपने शरीर पर किया.
 इतना करते ही छोटे सिलिंडर में जल रही आग पूरे कमरे में फैल गयी और तीनों को अपनी चपेट में ले लिया. इसके बाद आसपास के लोगों ने तीनों को इलाज के लिए अस्पताल भेजा. बुद्धा कॉलोनी पुलिस ने बताया कि सिलिंडर नहीं फटा है. बॉडी स्प्रे के कारण आग फैली और तीनों घायल हो गये हैं. फिलहाल उनकी हालत खराब थी, जिसके कारण बयान नहीं लिया जा सका है.
शुभम 84, तो आकाश 78 प्रतिशत है जला
तीनों छात्रों को पीएमसीएच लाया गया. जहां इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कर इलाज चल रहा है. इसमें 18 साल के शुभम कुमार व आकाश कुमार की  हालत गंभीर बनी हुई है.
शुभम 84 प्रतिशत तक जल चुका है और आकाश 78 प्रतिशत  तक. दोनों छात्रों  को अस्पताल प्रशासन ने देर रात इमरजेंसी वार्ड के बर्न  आइसीयू में भर्ती किया, जहां सीनियर डॉक्टरों की देखरेख में इलाज चल रहा है.  वहीं, तीसरा छात्र सोनू कुमार की हालत ठीक है. सोनू 17 प्रतिशत बर्न है.
रहें सावधान : हर घर में बॉडी स्प्रे का उपयोग किया जाता है. लेकिन, इस स्प्रे का आग के पास कतई उपयोग नहीं करें. नहीं तो आग लग सकती है. स्प्रे में एक तरह से ज्वलनशील पदार्थ होता है और वह तुरंत ही आग पकड़ लेता है.
यह भी पढ़े  पटना के फैक्ट्री में लटकती मिली मजदूर की लाश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here