चालू वित्तीय वर्ष में सड़क निर्माण पर खर्च होंगे 15 हजार करोड़ : उपमुख्यमंत्री

0
69
????????????????????????????????????

राजधानी के स्टेशन रोड फ्लाईओवर के उद्घाटन के मौके पर सभा को संबोधित करते हुए उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि एक समय था जब राज्य की सड़कों के निर्माण पर 50 करोड़ भी खर्च नहीं होते थे जबकि इस वित्तीय वर्ष में 14,286 करोड़ रुपये खर्च किए जायेंगे जो कुल योजना व्यय का लगभग 19 प्रतिशत है। सभी जिला मुख्यालयों को चार लेन और अनुमंडल तथा प्रखंड को 2 लेन सड़कों से जोड़ने का काम प्रारंभ कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी सेतु के सुपर स्ट्रक्चर को बदल कर 2020 तक उसे नवजीवन दे दिया जायेगा।श्री मोदी ने कहा कि बीच के थोड़े समय के लिए पथ निर्माण विभाग के मंत्री बने कुछ लोग एनडीए के कार्यकाल में बनी तमाम सड़कों का श्रेय लेने लगे थे,अच्छा हुआ कि मुख्यमंत्री ने ऐसे लोगों की छुट्टी कर दी। ऐसे लोगों के परिवार ने ही एक समय बिहार की सड़कों को गड्ढ़ों में तब्दील कर दिया था मगर एनडीए के शासनकाल में न केवल बिहार में सड़कों का जाल बिछा, बल्कि अभी तो प्रधानमंत्री द्वारा घोषित पैकेज की 53 हजार करोड़ की सड़क परियोजनाओं का विभिन्न स्तर पर काम शुरू हो चुका है। महात्मा गांधी सेतु के समानान्तर 5 हजार करोड़ की लागत से आठ लेन पुल के निर्माण के लिए भारत सरकार ने डीपीआर की मंजूरी दे दी है। इसके साथ ही महात्मा गांधी सेतु के सुपर स्ट्रक्चर को बदल कर 2020 तक उसे नवजीवन दे दिया जायेगा। जीरो माइल से मसौढ़ी तक चार लेन सड़क का निर्माण कराया जायेगा जबकि मसौढ़ी से डोभी तक चार लेन का काम जारी है। पटना में फ्लाईओवर का जाल बिछ चुका है। पूरे बिहार में पुल-पुलियों व सड़क संरचना के संजाल से विकास को गति मिली है।

यह भी पढ़े  शेल्टर होम में दो युवतियों की मौत पर तेजस्वी का सीएम तंज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here