चंपारण व शिवहर में मुकाबला दिलचस्प

0
104

इस बार पश्चिम चंपारण व शिवहर में मुकाबला दिलचस्प है। छठे चरण में शिवहर से राजग की उम्मीदवार रमा देवी व पश्चिम चंपारण(बेतिया) से भाजपा के उम्मीदवार डॉ. संजय जायसवाल चुनाव समर में उतरे हैं। पश्चिम चंपारण जब से अस्तित्व में आया है तभी से डॉ. संजय जायसवाल खम ठोक रहे हैं। पहली बार पश्चिम चंपारण लोकसभा का चुनाव 2009 में हुआ। भाजपा ने डॉ. संजय जायसवाल को चुनावी जंग में उतारा था। पहली बार डॉ. जायसवाल ने लोजपा के प्रत्याशी प्रकाश झा को हराया था। तब डॉ. जायसवाल को 198781 मत मिले थे और प्रकाश झा को मात्र 151438 मत मिले। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने लगातार दूसरी बार चुनावी रण में डॉ. जायसवाल को उतारा। इस बार उनका मुकाबला भी प्रकाश झा से हुआ था। मगर इस बार वे जनता दल यू के टिकट पर चुनाव लड़े थे। भाजपा उम्मीदवार लगातार दूसरी बार भी पश्चिम चंपारण से जीत दर्ज की। इस चुनाव में डॉ. जायसवाल को 371232 मत मिले जबकि जनता दल यू के प्रकाश झा को 260978 मत मिले। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में इस बार फिर राजग की ओर से भाजपा ने डॉ. जायसवाल को उम्मीदवार बनाया है। इस बार उनका मुकाबला महागठबंधन की तरफ से रालोसपा के उम्मीदवार ब्रजेश कुशवाहा से है। इस चुनाव में भाजपा उम्मीदवार के पक्ष में जनता दल यू का जहां आना है वहीं गत चुनाव के सहयोगी रालोसपा के महागठबंधन में शामिल होना कुछ मुश्किलें पैदा कर सकता है। बावजूद इस चुनाव में भाजपा उम्मीदवार जीत दर्ज करते हैं तो लगातार तीन बार संसद का दरवाजा खटाखटाकर जीत की हैट्रिक बनाने का इतिहास रच सकते हैं। शिवहर सीट से एक बार फिर भाजपा ने रमा देवी पर भरोसा किया है। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में राजग गठबंधन की तरफ से एक बार फिर शिवहर की सीटिंग सांसद रमा देवी को चुनावी रण में उतारा है। पहली बार रमा देवी ने वर्ष 2009 के लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज की थी। वर्ष 2009 के लोकसभा चुनाव में भाजपा की उम्मीदवार रमा देवी ने बीएसपी के उम्मीदवार अनवारुल हक को परास्त किया था। तब रमा देवी को 233499 मत और श्री हक को 107815 मत मिला था। लगातार दूसरी बार रमा देवी वर्ष 2014 लोकसभा के चुनाव में उतरीं और जीत दर्ज की। तब भाजपा उम्मीदवार रमा देवी को 372506 मत मिले थे और इस बार राजद के उम्मीदवार अनवारुल हक को 236267 मत मिले। भाजपा ने लगातार वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में सीटिंग सांसद रमा देवी को भी तीसरी बार जीत दर्ज कराने के उद्देश्य से उतारा है।

यह भी पढ़े  राजकुमार शुक्ल की स्मृति रक्षा करेगी सरकार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here