घर से बुलाकर नक्सलियों ने चौकीदार को एके-47 से भूना

0
15

राजु जी घर पर हैं, बाहर आइये आमस थाना से कुछ लोग मिलने आये हैं.. और फिर क्या था घर से आधा किलोमीटर दूर सुनसान अंधेर में ले जाकर नक्सलियों ने एके 47 से चौकीदार को भून डाला। मृतक चौकीदार की पहचान थाना क्षेत्र के रेंगनिया गाँव निवासी 36 वर्षीय राजेश्वर पासवान उर्फ राजू के रूप में की गयी जो पेशे से आमस थाना में चौकीदार के रूप में पदस्थापित थे। घटना उस वक्त घटी जब राजू का घर दीपावली के अवसर पर दीपों से जगमगा रहा था। पूरा परिवार खुशियाँ मना रहा था और राजू रात्रि भोजन कर टीवी देख रहे थे। तभी रात के करीब दस बजे पाँच की संख्या में भाकपा माओवादी (एमसीसी) ने उसे घर बुलाकर नहर के समीप मौत के घाट उतार दिया। राजू के घर आने का राह ताक रहे उसके बेटे कवि ने जब बाहर जाकर तलाश किया तो खून से लथपथ राजू का शव नहर के किनारे मिला जिसकी सूचना स्थानीय लोगों ने आमस पुलिस को दी। सूचना पाते ही स्थानीय थानेदार चन्द्रशेखर सिंह देर रात घटनास्थल पर पहुँच शव को अपने कब्जे में लिया जिसे गुरुवार की सुबह पोस्टमॉर्टम के लिए अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया गया। भाकपा माओवादियों ने चौकीदार की हत्या के बाद एक परचा छोड़ा है। करीबी सूत्रों ने बताया कि परचा में माओवादियों ने पुलिस मुखबीरी करने और शराब शराब से जुड़े मामले को लेकर हत्या किया गया है। गौरतलब है कि थाना क्षेत्र का रेंगनिया गांव पहाड़ की तलहट्टी में बसा है जहाँ बड़े पैमाने पर अवैध शराब की चुलाई की जाती है। गत दिनों में पुलिस द्वारा उक्त इलाके में शराब माफियाओं के विरुद्ध अभियान चलाया गया था। आमस थानेदार चन्द्रशेखर सिंह ने बताया कि चौकीदार की हत्या एके 47 की गोलियों से किया गया है जिससे साफ झलक रहा है कि इनकी हत्या माओवादी संगठन द्वारा किया गया है। एक चौकीदार की निर्मम हत्या की खबर से इलाके में दहशत का माहौल पैदा हो गया है। स्थानीय लोगों में यह र्चचा का विषय बना है। हत्या की जानकारी के बाद शेरघाटी डीएसपी रविश कुमार, इंस्पेक्टर अरुण कुमार गुरुवार की सुबह मौके-ए-वारदात का सघन मुआयना किया जहाँ से दो गोली बरामद भी किया गया है। ज्ञात हो कि राजू के तीन बेटे क्रमश: रवि कुमार, कवि कुमार और जानकी कुमार हैं जिनका रो-रो कर बूरा हाल है।

यह भी पढ़े  CM के काफिले पर हमला मामले में 19 गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here