घरेलू गैस सिलेंडर हुआ 48.50 रुपये महंगा

0
192

तेल कंपनियों ने शुक्रवार को बिना सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर के दाम 48.50 रपए बढ़ा दिए। सब्सिडी वाले सिलेंदर के दाम में दो रपए की वृद्धि की गई है। इसी तरह विमान ईंधन (एटीएफ) की कीमत में सात फीसद की वृद्धि की गई। इस वृद्धि के बाद विमान ईंधन चार वर्ष के उच्च स्तर पर पहुंच गया।सरकारी तेल कंपनियों के मुताबिक दिल्ली में एटीएफ के दाम 4688 रपए यानी 7.17 फीसद बढ़कर 70,028 रपए प्रति किलोलीटर हो गए। विमान ईंधन में यह दूसरी सीधी वृद्धि की गई है। इससे पहले एक मई को एटीएफ की कीमत 3,890 रपए प्रति किलोलीटर यानी 6.3 फीसद बढ़ाकर 61,450 रपए प्रति किलोलीटर की गई थी। दोनों वृद्धि की वजह से एटीएफ के दाम 2014 के बाद से सबसे अधिक हो गए। इसी प्रकार, दिल्ली में सब्सिडी वाला एलपीजी सिलेंडर 491.21 रपए से बढ़कर 493.55 रपए प्रति सिलेंडर हो गया। मुंबई में रसोई गैस सिलेंडर की कीमत 491.31 रपए और कोलकाता में 496.65 रपए प्रति सिलेंडर हो गई। प्रत्येक परिवार सालभर में सब्सिडी वाले 12 सिलेंडर लेने का हकदार है। इससे अधिक खपत होने पर उसे बाजार मूल्य पर सिलेंडर उपलब्ध कराया जाता है। बिना सब्सिडी वाला एलपीजी सिलेंडर 48.50 रपए बढ़कर 698.50 रपए प्रति सिलेंडर पर पहुंच गया। जनवरी के बाद लगातार गिरावट के बाद अब यह वृद्धि हुई है। केरोसिन की कीमत में 26 पैसे की वृद्धि की गई। यह वृद्धि मिट्टी के तेल पर धीरे-धीरे सब्सिडी खत्म किए जाने के आधार पर की गई है। दिल्ली को केरोसिन मुक्त घोषित किया गया है जबकि मुंबई में इसके दाम 24.77 रपए से बढ़कर 25.03 रपए प्रति लीटर हो गए। सरकारी खुदरा तेल कंपनियां अंतरराष्ट्रीय दरों और रुपया-डालर विनिमय दर के आधार पर हर महीने की एक तारीख को विमान ईंधन, एलपीजी और केरोसिन की दरों में संशोधन करती हैं।

यह भी पढ़े  मिशन साहसी के समापन समारोह में छात्रएं सेल्फ ¨डफेस का प्रदर्शन किया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here