एग्रो एक्सपोर्ट फ्रॉम दि स्टेट ऑफ बिहार’ विषयक सेमिनार

0
120
PATNA B I A MEN AYOJIT SENSITIZATION PROGRAMMEN ON AGRO EXPORTS FROM THE STATE OF BIHAR

बिहार से फूड प्रोड्क्स के निर्यात की प्रचुर संभावानाएं हैं। बिहार के फूड प्रोड्टक्स के निर्यात की जिनती क्षमता है उसका 10 से 20 प्रतिशत ही निर्यात हो पाता है। निर्यात क्षमता बढ़ाने के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर विकसित करने के साथ क्वालिटी, पैकेजिंग आदि पर भी ध्यान देना होगा। यह बात एग्रीकल्चर एंड फूड प्रोडक्ट एक्सपोर्ट डेवलपमेंट ऑथरिटी (एपीडा) के चैयरमैन डीके सिंह ने कही। वह मंगलवार को बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के तत्वावधान में आयोजित ‘‘एग्रो एक्सपोर्ट फॉम दी स्टेट ऑफ बिहार’ विषयक सेमिनार को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यूरोपीयन और गल्फ देशों फूड प्रोड्सशन कम होता है। वहां का मार्केट हमारे लिए खुला है। इस मार्केट के लिए सिस्टम बनाने की जरूरत है। तभी हम निर्यात में सफल होंगे। यूरोप में भी भारत के फूड प्रोडक्ट की काफी मांग है। उन्होंने कहा कि निर्यात करने के क्रम में हमे यह भी ध्यान रखना होगा कि आयात करने वाले देश की प्रकृति कैसी है। उस देश की प्रकृति और वातावरण के मुताविक ही पैकेजिंग करना होगा। पैकेजिंग में माल डैमेज की संभावना नहीं होनी चाहिए। जहां माल जा रहा है वहां के स्टोरेज की स्थिति भी देखनी होगी। कस्टम विभाग के आयुक्त वीसी गुप्ता ने कहा कि इंडो-नेपाल सीमा से बिहार का फूड प्रोडक्ट निर्यात होता है। पटना, गया, बिहटा में एयरपोर्ट पर अगर कारगो कंप्लेक्स बने तो निर्यात का विकास होगा। बिहार से आम, लीची, मखाना, चावल, मक्का, आलू, कद्दू समेत अन्य फूड प्रोडक्टस का निर्यात होता है। इसके पूर्व बीआईए के आरएन राय ने देश की कृषि के बिहार का छठा स्थान है। यहां एग्रो इंडस्ट्रीज की काफी संभावनाएं है। बिहार से लीची, आम, मक्का, मखाना, हरि मिर्च समेत करीब 9.82 करोड़ के फूड प्रोडक्टस का निर्यात होता है। सरकार द्वारा विभागीय स्तर पर अगर इंफ्राइ्ट्रक्चर विकसित होता इसका और विकास होगा। इसके पूर्व बीआईएके अध्यक्ष केपीएस केसरी ने अतिथियों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि निर्यात के क्षेत्र में जितना विकास होना चाहिए वह नहीं हो रहा है। जब केंद्र और राज्य की सरकारें एक है तो विकास भी होना चाहिए।

यह भी पढ़े  हंगामे के बीच हुई पीयू सीनेट की बैठक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here