गोपालगंज के दो और सीवान के पांच युवक इराक में बंधक!

0
67

सीवान : बिहार, यूपी व पंजाब के करीब 30 युवक इराक में फंस गये हैं. वहां उन्हें बंधक बनाकर रखा गया है. बंधक बने इन लोगों में दो गोपालगंज व सीवान के 5  युवक भी शामिल हैं. एक युवक परमेश्वर साह ने गोपालगंज जिलाधिकारी अनिमेष कुमार पराशर को उनके व्हाट्सएप पर मैसेज कर वतन वापसी की गुहार लगायी है. वह बरौली के सुरवल गांव के रहने वाले अंबिका साह का बेटा है. परमेश्वर ने व्हाट्सएप से कुछ तस्वीरें भी भेजी हैं. इन तस्वीरों में उसके अलावा गोपालगंज का दूसरा युवक बिरेन्द्र गुप्ता भी दिख रहा है. इसके अलावा उसने कुछ ऐसी तस्वीरें भी भेजी हैं,

जिसमें आस पास गोला-बारूद और मोर्टार के खोखे और कारतूस भारी मात्रा में बिखरे हुए हैं. परमेश्वर ने व्हाट्सएप पर मैसेज के जरिये बताया कि इराक में फंसे युवकों में गोपालगंज के दो, सीवान के 5, गोरखपुर के 8 और पंजाब के 15 लड़के शामिल हैं. उसके अनुसार जहां उन्हें रखा गया है वहां हर तरफ सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं. उस युवक ने अपने मोबाइल से आसपास में बिखरे कारतूस और मोर्टार के खोखे की तस्वीरें भी भेजी हैं. पीड़ित युवकों के मुताबिक गोपालगंज और सीवान के दो एजेंटों ने उन्हें डेढ़ डेढ़ लाख रुपये में मस्कट में भेजा था, लेकिन फिर उन्हें इराक के किसी अज्ञात जगह पर भेज दिया गया है. पीड़ित युवकों के मुताबिक लगता है यह आईएसआईएस का कोई ठिकाना है, जहा उन्हें बंधक बनाकर रखा गया है. पीड़ित युवकों ने वतन वापसी की गुहार लगायी है.
इराक गाड़ी चलाने गया था परमेश्वर : बरौली. इराक की कंपनी में बरौली के सुरवल निवासी परमेश्वर साह गाड़ी चलाने के लिए ड्राइवर के रूप में गया था. परमेश्वर का बड़ा भाई पिछले आठ साल से इराक में ही दूसरी कंपनी में काम करता है. परमेश्वर ने अपने साथियों के भी फंसे होने की बात व्हाट्सएप पर मैसेज भेजकर बतायी है. हालांकि, जिला प्रशासन को परिजनों की ओर से लिखित शिकायत नहीं की गयी है. शुक्रवार को परमेश्वर के घर पर मौजूद परिजनों ने घटना को लेकर बातचीत करने से भी इन्कार कर दिया. वहीं, नगर थाना क्षेत्र के काकड़कुंड के रहनेवाले वीरेंद्र गुप्ता के परिजन भी सामने नहीं आ रहे हैं.
क्या कहते हैं डीएम 
गाेपालगंज के जिलाधिकारी अनिमेष कुमार पराशर ने इस बाबत कहा है कि ”परिजनों की तरफ से अबतक कोई शिकायत नहीं मिली है. शिकायत मिलते ही प्रशासनिक स्तर पर गृह विभाग से पहल की जायेगी कि वहां युवक फंसे हैं तो उन्हें सकुशल घर बुलाया जाये.”
यह भी पढ़े  प्रधानमंत्री बनने से पहले ही मुश्किल में इमरान खान, भ्रष्टाचार रोधी ब्यूरो ने भेजा समन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here