गैर शैक्षणिक कार्य से अलग किये जायें शिक्षक : कुशवाहा

0
15
Patna-July.6,2018-Union Minister and Rashtriya Lok Samata Party president Upendra Kushwaha is addressing a press conference at party office in Patna.

पटना – राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि शिक्षकों से गैर शैक्षणिक कार्य लेना बंद किया जाना चाहिये। शिक्षक सिर्फ शैक्षणिक कार्य ही करें। इससे शिक्षा की गुणवत्ता बनी रहेगी। मध्याह्न भोजन योजना का कार्य किसी अन्य एजेंसी को मिलना चाहिये। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मध्याह्न भोजन योजना के संचालन का जो प्रस्ताव दिया है हम उसका समर्थन करते हैं। हाल के वर्षो में शिक्षकों के साख में कमी आयी है। पार्टी शिक्षकों के साख वापस दिलाने के उद्देश्य से गुरू पूर्णिमा पर 26 जुलाई को राजधानी सहित सभी जिला मुख्यालयों में ‘‘शिक्षा सुधार-शिक्षक सत्कार’ कार्यक्रम आयोजित करेगी। श्री कुशवाहा शुक्रवार को पार्टी के प्रदेश कार्यालय में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी शिक्षा सुधार को लेकर लगातार कार्यक्रम चला रही है। इसी दिशा में 27 जुलाई को शिक्षा सुधार शिक्षक सत्कार कार्यक्रम आयोजित करने का निर्णय लिया है। इस दिन सभी जिला मुख्यालय में पार्टी कार्यकर्ता उपवास रखेंगे और योग्य शिक्षकों को सम्मानित भी करेंगे। उन्होंने एक बार फिर राज्य सरकार से अयोग्य शिक्षकों को शैक्षणिक कार्य से हटाते हुए दूसरे विभागों में समायोजित करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी समान कार्य के लिए समान वेतन के पक्ष में है। यह मामला राज्य सरकार के जिम्मे में है। उन्होंने कहा कि बिहार में डबल इंजन की सरकार बनने से कार्य में तेजी आयी है। राज्य सरकार ने बच्चों को पुस्तक के बजाए पैसे देने का प्रस्ताव भेजा था जिसे केंद्र ने स्वीकृत कर लिया है। उन्होंने महागठबंधन में शामिल होने के सवाल पर कहा कि चुनाव के समय ही चुनाव के मद्दे पर र्चचा होगी। संवाददाता सम्मेलन में राष्ट्रीय प्रधान महासचिव राम बिहारी सिंह, पार्टी नेता जीतेंद्रनाथ, शंकर झा आजाद, सत्यानंद प्रसाद दांगी, डॉ. कीर्तन प्रसाद सिंह, डॉ. संतोष कुमार प्रसाद, अरुण कुावाहा, मधु मंजरी, औरंगजेब अरमान आदि मौजूद थे।

यह भी पढ़े  विवि में शिक्षकों की बहाली को बनेगा आयोग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here