गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में मधुबनी निवासी बच्चे की निर्मम हत्या

0
146

गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में शुक्रवार को सात साल के एक छात्र की हत्या कर दी गई। कक्षा दो के छात्र प्रद्युम्न की हत्या बाथरूम में गला रेतकर की गई है। इस सनसनीखेज वारदात ने पूरे म्शुब्नी शहर के लोगों को दहला दिया। काफी संख्या में अभिभावक व लोगों ने स्कूल पहुंचकर प्रदर्शन भी किया। उनकी पुलिस से झड़प भी हुई। हर कोई यही बोल रहा था कि स्कूल में भी बच्चे सुरक्षित नहीं फिर कहां सुरक्षित हैं। मूल रूप से बिहार (बाड़ा गांव, जिला मधुबनी) निवासी वरुणचंद ठाकुर सोहना रोड स्थित श्याम कुंज में परिवार सहित रहते हैं। वह ओरिएंट क्राफ्ट कंपनी में क्वालिटी मैनेजर हैं। उनकी बेटी विधि (पांचवी कक्षा) और बेटा प्रद्युम्न (दूसरी कक्षा) रेयान स्कूल में पढ़ते हैं। प्रतिदिन की तरह ही उन्होंने शुक्रवार सुबह अपने दोनों बच्चों को सुबह सात बजकर 50 मिनट पर स्कूल के गेट तक छोड़ा था। अनुमान है कि प्रद्युम्न कक्षा में बैग रखने के साथ ही बाथरूम गया होगा। वहीं पर उसकी धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी गई।

यह भी पढ़े  शरद यादव ने किया राजभवन मार्च, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

गुरुग्राम के नामी रयान इंटरनेशनल स्कूल में दूसरी क्लास में पढ़ने वाले 7 साल के बच्चे का शव वॉशरूम में मिला था. इस मामले में बस के कंडक्टर को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस का कहना है कि वह सेक्सुअल असॉल्ट नहीं कर पाया तो उसने बच्चे की हत्या कर दी. डिप्टी कमिश्नर ऑफ पुलिस सिमरदीप सिंह ने कहा- बस कंडक्टर अशोक के सेक्सुअल असॉल्ट करने की कोशिश को रोकते हुए जब बच्चे ने शोर मचाया तो अशोक ने उसकी हत्या कर दी.

स्कूल मैनेजमेंट के खिलाफ दर्ज हो सकता है केस
राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ लापरवाही का मामला दर्ज करने की अनुशंसा की है. इस पूरे मामले के बाद अभिभावकों में बच्चों की सुरक्षा को लेकर चिंता और नाराजगी फैल गई. कैंडल मार्च भी किया गया. हालांकि दिल्ली के निजी स्कूलों ने कहा कि यह अपनी तरह का इकलौता मामला है और इसको लेकर लोगों को कोई आम धारणा नहीं बनानी चाहिए.

यह भी पढ़े  "लालू प्रसाद आदतन अपराधी और जेल यात्री":डिप्टी सीएम सुशील मोदी

गुस्साए लोगों ने की तोड़फोड़…
ऑल इंडिया पैरेंट्स एसोसिएशन के अशोक अग्रवाल ने कहा, ‘कोई चाकू लेकर अंदर कैसे चला गया? यह एक घटना है, लेकिन इसका जवाब मिलना चाहिए कि यह घटना कैसे हुई?’ ख़बर सुनकर स्कूल पहुंचे अभिभावकों ने वहां तोड़-फोड़ और हंगामा भी किया. वैसे देर शाम होते-होते पुलिस के मुताबिक हत्या की गुत्थी सुलझ गई.  बताया जा रहा है कि पुलिस ने बच्चे की हत्या के शक में कंडक्टर को गिरफ्तार किया है.

सब्जी काटने वाले चाकू से की गई हत्या…
आरोपी अशोक 8 महीने से बस कंडक्टर की नौकरी कर रहा था. वो घमरोज़ गांव का रहने वाला है, वो स्कूल के टॉयलेट को अक्सर यूज़ करता था. आज जब वो टॉयलेट गया तो उसे ये बच्चा दिखा. उसने बच्चे को सेक्सुअली असॉल्ट करने की कोशिश की. बच्चे ने जब विरोध किया तो अशोक से अपनी जेब से चाकू निकाला और बच्चे की हत्या कर दी. वो विशेष रूप से इसी बच्चे को टारगेट नहीं करने आया था. उसने टॉयलेट में बच्चा देखा और वारदात कर दी. चाकू सब्ज़ी काटने वाला था जो उसकी जेब में रह गया था. अशोक के क्रिमिनल रिकॉर्ड की जांच कर रहे हैं. सीसीटीवी से भी सुराग मिले हैं. स्कूल की लापरवाही की जांच चल रही है.

यह भी पढ़े  राज्य सरकार का रिपोर्ट कार्ड जारी करेगा राजद : तेजस्वी

पिछले साल बच्चे का शव स्कूल के वाटर टैंक में मिला था…
पिछले साल दिल्ली के एक नामी स्कूल में 6 साल के बच्चे का शव वाटर टैंक में संदिग्ध हालत में मिला था. राहुल (बदला हुआ नाम) नामक यह बच्चा रयान इंटरनेशनल स्कूल में पहली कक्षा का छात्र था. शनिवार को वह पोएम कॉम्पटिशन में भाग लेने स्कूल आया था.

हैरानी की बात ये रही कि शव शनिवार दोपहर करीब सवा 12 बजे बरामद हुआ, जबकि पुलिस को इसकी जानकारी करीब 2 घंटे बाद दी गई. स्कूल पहुंचकर पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि राहुल सांतवें पीरियड से क्लास से गायब हो गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here