गुजरात चुनाव: 93 सीटों पर वोटिंग जारी,वोट डालने के लिए कतार में नजर आये अरुण जेटली

0
311

अहमदाबाद: गुजरात चुनाव के दूसरे और अंतिम चरण में 14 जिलों की 93 सीटों पर वोटिंग जारी है. इस चरण में उत्‍तर गुजरात की 53 और मध्‍य गुजरात की 40 सीटों पर मतदान हो रहा है. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, वित्त मंत्री अरुण जेटली, गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल, पाटीदार नेता हार्दिक पटेल, गुजरात के पूर्व सीएम शंकर सिंह वाघेला और पूर्व सीएम आनंदीबेन पटेल ने अपना-अपना वोट डाल दिया है. अंतिम चरण में 851 उम्‍मीदवार मैदान में है जिनकी किस्मत का फैसला 2.22 करोड़ मतदाता करेंगे. अंतिम चरण के लिए वोटिंग सुबह 8 बजे शुरू हो चुकी है मतदान शाम 5 बजे तक चलेगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीरा बेन ने गांधी नगर के पोलिंग बूथ में वोट डाला. वहीं हार्दिक पटेल की माता-पिता ने वीरमग्राम में वोट डाला. वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने लाइन में लगकर वोट डालााा. इसके बाद उन्‍होंने कहा मैं गुजरात की जनता से अपील करता हूं कि वो भारी मात्रा मे आएं और वोट करें. विकास यात्रा को कायम रखें.

शंकर सिंह वाघेला ने गांधी नगर के वासन में वोट डाला. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने नारनपुरा से विधानसभा चुनाव के लिए वोट डाला. कड़ी सुरक्षा के बीच अहमदाबाद, गांधीनगर, बनासकांठा समेत 14 जिलों की 93 सीटों पर वोट डाले जाएंगे. इस दौर में कुल 851 उम्मीदवार मैदान में हैं. पीएम नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, वित्त मंत्री अरुण जेटली, लाल कृष्ण आडवाणी समेत 2.22 करोड़ वोटर गुरुवार को अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे.

यह भी पढ़े  गुजरात चुनाव प्रचार का आज अंतिम दिन ,पीएम मोदी साबरमती नदी से सी-प्लेन में उड़ें

गुजरात कांग्रेस के अध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी ने भी अपना वोट डाला. सोलंकी ने मतदान के बाद कहा कि गुजरात की जनता नवसृजन के लिए वोट करे. पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने वीरामगाम में अपना वोट डाला. हार्दिक पटेल ने मीडिया से कहा कि हमने गुजरात की जनता से बीजेपी के खिलाफ वोट डालने की अपील की है. तो समझ जाना चाहिए कि हमने कांग्रेस का समर्थन किया है.

वहीं कई बड़े चेहरों की किस्मत गुरुवार को ईवीएम में कैद हो जाएगी. कई सीटों पर काफी दिलचस्प मुक़ाबले की उम्मीद है. मेहसाणा से उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल का मुकाबला कांग्रेस के जीवाभाई पटेल से है. राधनपुर से कांग्रेस के अल्पेश ठाकोर का मुकाबला बीजेपी के लविंगजी ठाकोर से है. वहीं वडगाम सीट से कांग्रेस समर्थित निर्दलीय उम्मीदवार जिग्नेश मेवाणी का मुकाबला बीजेपी के विजय चक्रवर्ती से है.

पार्टी और गठजोड़: 2017 विधानसभा चुनाव        

पार्टी                      दूसरे दौर में सीटें           पूरा गुजरात
बीजेपी                         93                          182
कांग्रेस                         90                          178
भारतीय ट्राइबल पार्टी       2                              6
कांग्रेस समर्थित निर्दलीय  1                              1

यह भी पढ़े  गुजरात में लोकतंत्र का मेला देखने पहुंच रहे पर्यटक

पिछली बार के सभी चुनावों से यह चुनाव कुछ अलग है. क्योंकि भाजपा के खिलाफ जाति आधारित समीकरण बैठाने की जुगत में कांग्रेस ने हार्दिक पटेल, ठाकोर और मेवानी का सहारा लिया है जो पाटीदारों, अन्य पिछड़ा वर्ग और दलितों की ओर से युवा तुर्क बनकर उभरे हैं.

गुजरात विधानसभा चुनाव कांग्रेस और भाजपा दोनों के लिए साख का विषय है. इतना ही नहीं, यह दोनों के लिए परीक्षा की घड़ी भी है. एक-दो जगह को छोड़ दें तो लोकसभा चुनाव के बाद से कांग्रेस लगातार हार का मुंह देखती आ रही है. कांग्रेस इस चुनाव को जीतकर अपनी खोई जमीन तलाशने की कोशिश करेगी और एक बार फिर से अपने कार्यकर्ताओं में विश्वास भरने की कोशिश करेगा. वहीं भाजपा के लिए इस चुनाव को 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले की परीक्षा माना जा रहा है. अगर एक तरह से कहा जाए तो गुजरात विधानसभा चुनाव पीएम मोदी के लिए प्रतिष्ठा का प्रश्न है और राहुल के लिए अग्निपरीक्षा है.

यह भी पढ़े  गुजरात चुनाव : पहले चरण के लिए प्रचार खत्म, 9 दिसंबर को 82 सीटों पर डाले जाएंगे वोट

बता दें कि दूसरे चरण के मतदान के लिए चुनाव प्रचार मंगलवार को खत्म हो गया. चुनाव प्रचार थमने से पहले रैलियों में पीएम मोदी और राहुल गांधी ने एक दूसरे पर जमकर आरोप-प्रत्यारोप का खेल खेला. चुनाव प्रचार के अंतिम चरण में मोदी ने तीखा हमला बोला और पालनपुर में एक रैली के दौरान आरोप लगाया कि पाकिस्तान गुजरात चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश कर रहा है. उन्होंने दावा किया कि मणिशंकर अय्यर द्वारा उन्हें ‘नीच’ कहे जाने के एक दिन पहले कुछ पाकिस्तानी अधिकारियों और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिहं के बीच मुलाकात हुई.

हालांकि, मनमोहन सिंह ने मोदी से कहा कि उन्हें अपनी टिप्पणियों के लिए देश से माफी मांगनी चाहिए. इतना ही नहीं, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी मोदी के आरोपों को सिलसिलेबार ढंग से खारिज किया और पीएम मोदी और अमित शाह को आड़े हाथों लिया. इतना ही नहीं, मंगलवार को अहमदाबाद में एक प्रेस कॉनफ्रेंस के दौरान राहुल गांधी ने गुजरात में जीत की उम्मीद जताई और कहा कि इंतजार कीजिए, गुजरात चुनाव के नतीजे जबरदस्त होंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here