गांधी घाट पर लापता हुए युवकों की गंगा में तलाश जारी

0
284

पटना। लापता तीन लड़कों- राहुल, विनय उर्फ विक्की और साईं दीप का चौबीस घंटे बाद भी कोई सुराग नहीं मिल पाया है। हालांकि पीरबहोर थाने की पुलिस ने सोनपुर दियारा इलाके के गांगा घाट से उनके कपड़े और जूते-चप्पल बरामद किये हैं। पीरबहोर थाने के थानाध्यक्ष गुलाम सरवर ने बरामद किये गये कपड़े और जूते-चप्पल लापता तीनों लड़कों के ही होने की पुष्टि की है। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि तीनों लड़के पटना के कृष्णा घाट से नाव पर सवार हो कर गंगा में नहाने के लिए दियारा इलाके में गए थे। नहाने के दौरान तीनों गंगा में डूब गये। पटना पुलिस की टीम डॉग स्क्वायड को लेकर जांच के लिए मौके पर गयी थी। बरामद कपड़े और जूते-चप्पल को सूंघने के बाद खोजी कुत्ते बार-बार पानी की तरफ जा रहे थे। इसके बाद पुलिस ने तीनों लड़कों के शवों को खोजने के लिए एसडीआरएफ और निजी गोताखोरों को गंगा में उतारा। लेकिन रविवार की शाम तक शव नहीं मिल पाये थे। सोमवार को फिर गोताखोरों द्वारा खोजी अभियान चलाया जायेगा। जानकारी के मुताबिक गर्दनीबाग थाना क्षेत्र के अल्कापुरी के रहने वाले तीन युवक -साईंदीप, राहुल और विक्की शनिवार को पीएमसीएच गये थे। वहां पर साईदीप के दादा रणवीर प्रताप सिंह का हार्ट का ऑपरेशन हुआ था। तीनों विक्की की मोटरसाइकिल से ही गए थे। मोटरसाइकिल पीएमसीएच में लगाकर तीनों दोस्त गांधी घाट से गंगा के उस पार नहाने गए थे। इस दौरान साईंदीप की बातचीत उसकी मम्मी से हुई थी तो तीनों ने बताया था कि वे लोग गंगा पार नहाने आये हुए हैं और जल्द ही लौट आएंगे। काफी देर बाद जब वे लोग वापस नहीं लौटे तो परिजनों ने उनके मोबाइल पर संपर्क करने की कोशिश की परंतु फोन रिसीव नहीं हुआ। इसके बाद उनके परिवार वाले उन्हें ढूंढने के लिए गंगा किनारे पहुंचे। काफी खोजबीन करने के बाद भी उनलोगों का कोई अता-पता नहीं चला तो लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। साईदीप मैट्रिक की परीक्षा पास कर चुका है। उसके पिता उदय प्रताप सिंह कोलकाता के एक इलेक्ट्रॉनिक कम्पनी में मैनेजर हैं जबकि राहुल (14) आठवीं कक्षा का छात्र है। इसके पिता शशिभूषण सिंह का बर्तन का व्यवसाय है। विक्की के पिता गणोश ऑटो चालक हैं। विक्की (18) ने इसी साल इंटर की परीक्षा दी थी। सभी के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

यह भी पढ़े  संसद की गरिमा पर न बोलें लालू: मोदी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here