खगड़िया में वॉलीबॉल मैच के बहाने बुलाकर चार युवकों की हत्या, शव नदी में फेंका

0
420

खगड़िया /खरीक/परबत्ता : खरीक थाना क्षेत्र के नरकटिया व बिहपुर के गौरीपुर से सोमवार को अपहृत चारों युवकों की हत्या कर दी गयी. घटना को खगड़िया जिले के परबत्ता थाना क्षेत्र के नयागांव मुरादपुर में चकपरिया के समीप लगार बहियार में अंजाम दिया गया. हत्या के बाद अपराधियों ने चारों शव गंगा नदी में बहा दिया. शनिवार को भी खरीक पुलिस ने खगड़िया पुलिस के सहयोग से गंगा किनारे तलाशी अभियान चलाया. शव की बरामदगी तो नहीं हुई, लेकिन पुलिस को लगार दियारा में कुछ कपड़े मिले हैं. आसपास की मिट्टी पर खून के निशान दिखे हैं.

बताया जाता है कि सोमवार की रात ही चारों की हत्या कर दी गयी थी. हालांकि खरीक पुलिस जब मामले की जांच में जुटी, तो उसे कुछ सुराग मिले. इस आधार पर परबत्ता थाना क्षेत्र के ठुठी सिराजपर निवासी पवन सिंह के पुत्र रोहित सिंह को खरीक थानाध्यक्ष सुदीन राम ने गिरफ्तार किया. रोहित से पूछताछ के बाद पूरे मामले का खुलासा हुआ. नवगछिया के प्रभारी एसपी सुधीर कुमार ने चारों युवकों की हत्या की पुष्टि की है.

पिंटू झा ने रची थी चारों युवकों की हत्या की साजिश: बिहपुर थाना क्षेत्र के गौरीपुर निवासी पिंटू झा ने नरकटिया के कारू कुमार, प्रदीप कुमार एवं गौरीपुर निवासी रोहित कुमार व श्रवण कुमार की हत्या की साजिश रची थी. इस साजिश में पिंटू के भांजा सिक्सर की अहम भूमिका रही है. सिक्सर ने ही चारों युवकों को विश्वास में लेकर घटनास्थल तक ले जाने का काम किया. नयागांव पहुचने के बाद पिंटू झा स्थानीय सात-आठ अपराधियों के साथ पहुंच कर सबको अपने कब्जे में लिया और नदी किनारे ले जाकर गोली मार कर हत्या कर दी. इसके बाद सभी शवों को नदी में बहा दिया.

वॉलीबॉल मैच में मारपीट के बाद रची हत्या की साजिश

चारों युवकों की हत्या की नींव गौरीपुर में कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर आयोजित मेले में वॉलीबॉल मैच के दौरान हुई मारपीट के बाद ही पड़ने लगी थी. पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार चारों युवक एवं पिंटू झा के बीच मारपीट हुई थी. प्रतियोगिता के दौरान किस बात को लेकर मारपीट हुई थी, यह स्पष्ट नहीं हो पाया है. हालांकि ऐसी बात सामने आयी है कि किसी प्रतिनिधि के साथ चारों युवकों की गतिविधि नहीं करने को लेकर विवाद बढ़ा फिर मारपीट की घटना हुई. घटना के बाद से ही पिंटू झा हत्या की प्लानिंग में जुट गया था. पिंटू को पता था कि उसके भांजे सिक्सर की इन युवकों से अच्छी बनती है. पिंटू ने सिक्सर को विश्वास में लिया. पिंटू झा के कहने पर सिक्सर ने चारों युवकों को वॉलीबॉल मैच खेलने के लिए नयागांव बुलाया था.

यह भी पढ़े  सीएम नीतीश बोले, 'NDA में नहीं है कोई विवाद, चुनाव के समय होगी सीटों पर बातचीत'

अकहा में रिश्तेदार के यहां पी चाय, नयागांव में पी शराब
सिक्सर के बुलाने पर रोहित, श्रवण, कारू व प्रदीप दो मोटरसाइकिल से नयागांव के लिए निकले थे. नयागांव जाने के दौरान कारू अकहा गांव में अपने किसी रिश्तेदार के यहां भी गया था, जहां चारों ने चाय पी. फिर वहां से नयागांव पहुंचे. नयागांव पहुंचने के बाद सिक्सर इन लोगों से मिला. इसके बाद एक बासा पर बैठकर सबने शराब पी. शराब पीने के दौरान ही पिंटू झा सात-आठ अन्य अपराधियों के साथ पहुंचा और सबको अपने कब्जे में लेकर घटना को अंजाम दिया.

क्या कहते हैं थानाध्यक्ष

खरीक थानाध्यक्ष सुदीन राम ने बताया कि नरकटिया और गौरीपुर के लापता चारों युवकों की हत्या खगड़िया के लगार बहियार में कर दी गयी है. शव की बरामदगी नहीं हो सकी है. इस मामले में एक की गिरफ्तारी हुई है, जिसने अपना जुर्म कबूल कर लिया है. हत्याकांड में शामिल अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.

कहते हैं एसपी

प्रभारी एसपी सुधीर कुमार ने बताया कि केस के अनुसंधानकर्ता को खगड़िया जिले के परबत्ता थाना क्षेत्र भेजा गया है. अनुसंधान के क्रम में नयागांव मुरादपुर के समीप गंगा नदी के किनारे, जहां युवकों की हत्या की गयी थी, वहां से खून के छींटे भी मिले हैं. चारों युवकों को गंगा नदी के किनारे ले जा कर गोली मारी गयी फिर शव को गंगा नदी में बहा दिया गया है. पुलिस ने स्थल से खून के नमूने को उठाया है. खून का डीएनए जांच कराया जायेगा. जिस दो मोटरसाइकिल से चारों युवक गये थे, उसकी बरामदगी नहीं हो पायी है.

कहते हैं डीआइजी

डीआइजी विकास वैभव ने कहा कि इस मामले में एक अभियुक्त रोहित सिंह को गिरफ्तार किया गया है. रोहित का बयान लिया जा रहा है. रोहित ने बताया कि पिंटू झा समेत छह लोग इस घटना में शामिल हैं. अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है.

यह भी पढ़े  पंचतत्व में विलीन हुए शहीद आशीष कुमार, सात साल के बेटे ने दी मुखाग्नी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here