क्रिसमस पर प्रभु यीशु के दर्शन को चर्चो में उमड़ी भीड़

0
50
Patna-Dec.25,2018-A Santa Claus is distributing cakes to people during Christmas festival at Catholic Church in Patna.

क्रिसमस की धूम, जिंगल बेल, जिंगल बेल..जैसे गीतों पर झूमते बच्चों का जलवा शनिवार को देखते बन रहा था। मौका था जगनपुरा स्थित मिलेनियम र्वल्ड स्कूल प्रांगण में मनाये जा रहे क्रिसमस समारोह का। मौके स्कूल की प्राचार्या ने कहा कि मिलेनियम र्वल्ड स्कूल अपने आप में एक विशिष्टता के साथ लोगों के सामने स्तंभ बनकर खड़ा है। विद्यालय का उद्देश्य छात्रों की प्रतिभा को निखारना है। बच्चों ने क्रिसमस के मौके पर मोमबत्ती जलाकर यीशु मसीह को याद किया। इस मौके पर छात्रों के लिए अनेक तरह की प्रतियोगिताएं जैसे पेंटिंग, कविता वाचन, क्विज और फैंसी ड्रेस का आयोजन किया गया। मुख्य आकर्षक रहा बच्चों ने अपने मनपसंद काटरून किरदार बनकर एवं रैंप पर उतरे बच्चें ने अपना जलवा बिखेरा।वहीं शेम्फोर्ड फ्युचरिस्टिक स्कूल के परिसर में मैरी क्रिसमस पर आयोजित कार्यक्रम की शुरूआत बच्चों के सुमधुर गीत से हुई। उच्च वगरे की छात्र जोसेफ, मैरी, ऐंजला आदि का प्रदर्शन अच्छा रहा। ईसा मसीह के जन्म का उत्सव पूरे जोर-शोर से मनाया गया। वहीं छोटे-छोटे बच्चों ने ईशा के दु:ख- दर्द को नृत्य के माध्यम से दिखाया। इस मौके पर मानवीय करुणा भी देखने को मिली। विद्यालय की अध्यक्षा मीरा सिन्हा द्वारा बच्चों की प्रस्तुति की सराहना की गयी।दूसरी तरफ राजधानी से सटे नेऊरा स्थित कृष्णा पब्लिक स्कूल में क्रिसमस का त्यौहार हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। शिक्षकों के साथ बच्चों ने निकटवर्ती क्षेत्र में घूमकर लोगों के बीच टॉफियां भी बांटी। इस अवसर पर विद्यालय के निदेशक जी के झा एवं प्रधानाचार्य डॉ. कंचन सिंह ने लोगों को हार्दिक बधाई दी।

मोकामा कैथोलिक र्चच में हर्षोल्लास के साथ प्रभु यीशु का जन्मोत्सव मनाया गया। कैथोलिक र्चच के पल्ली पुरोहित फादर अलेक्स ने दर्शनार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रभु येशु ने ईर होकर भी मनुष्य के पापों की मुक्ति के लिए शरीर धारण किया एवं हमें मुक्ति का मार्ग दिखाया। फादर अलेक्स ने जानकारी दी कि सहायक पुरोहित फादर जय बालन एवं मनोज कुमार के सहयोग से सोमवार रात्रि साढ़े दस बजे पूजा संपन्न हुई। इस मौके पर सैकड़ों इसाई, गैर ईसाई एवं नाजरथ समाज की भाई-बहनों ने भी हिस्सा लिया। मंगलवार को पूरे दिन दूर- दूर से आए श्रद्धालुओं ने कैथोलिक र्चच जाकर प्रभु येशु के बाल रूप का दर्शन किया एवं आशीर्वाद लिया। र्चच परिसर में बना गौशाला दर्शनार्थियों के आकर्षण का केंद्र रहा।वहीं फतुहा के औधोगिक क्षेत्र स्थित कैथोलिक र्चच में प्रभु यीशु के दर्शन के लिए मंगलवार को श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। सुबह के बाद जैसे-जैसे समय बीता वैसे-वैसे श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ती गयी। शाम को श्रद्धालुओं की इतनी भीड़ बढ़ गयी कि औधोगिक क्षेत्र जाने वाली सड़क जाम हो गई। बाद में स्थानीय पुलिस प्रशासन मौके पर पहुंचकर जाम हटवाया। इस अवसर पर र्चच को रंग बिरंगे रोशनी से सजाया गया था। र्चच परिसर में माता मरियम तथा प्रभु यीशु की कई झांकियां भी प्रस्तुत की गई थी। र्चच के फादर द्वारा क्रिसमस के मौके पर प्रभु ईशु का प्रसाद लोगो के बीच वितरित किया। लोगों ने माता मरियम के समक्ष अपनी मनोकामना पूरी करने के लिये पूजा-अर्चना की।बाढ़ में क्रिसमस के मौके पर स्थानीय कैथोलिक र्चच मे श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। क्रिसमस को देखते हुए पुलिस प्रशासन सुबह से ही अलर्ट रहा। र्चच के इर्दगिर्द पुलिस का पहरा सख्त था। वहीं इस मौके पर र्चच को रंगबिरंगी रोशनी से सजाया गया है। दूधिया रौशनी से पूरा र्चच नहा उठा है। शहरवासी पुरे परिवार के साथ र्चच मे प्रभु यीशु का दर्शन कर आत्मविभोर हो रहे है। र्चच रोड दर्शकों और श्रद्धालुओ से पट गया है। मसौढ़ी में प्रभू यीशु के जन्मदिन यानि क्रिसमस डे अनुमंडल के विभिन्न जगहों खासकर निजी विद्यालयों एवं संत मैरी स्कूल में धूमधाम से मनाया गया। कैथोलिक र्चच़ में क्रिसमस दिवस के अवसर पर प्रभु यीशु के जन्म दिन को हर्षोल्लास के साथ मनाया। छोटे-छोटे बच्चे रंग विरंगे पोशाक मे आपस में एक दुसरे को टॉफी को खिलाया। र्चच की ओर से आकर्षण का केन्द्र रहे इन बच्चों को ख्ेाल एवं पठन सामग्री भी दी गयी। लोगों ने शांति एवं सुखमय जीवन के लिए भगवान इशु मसीह की प्रार्थना की। इस मौके पर लोगों को इशु मसीह के जीवन के बारे मे विस्तार पूर्वक बताया। प्रभु ने लोगों को प्रेम का सदेंश दिया। प्रेम का भुखा जानवर भी होता है। प्रभु सभी के दिलों मे बसता है। सच्चे मन से प्रभु इशु के प्रार्थना करने से आपके जीवन मे आमुल्य पर्वितन आयेगा। इर्श्वर आपका जीवन बदल देगा। प्रभू यीशू के जन्मदिन के मौके पर रात्री के जैसे ही 12 बजे से संतमैरी स्कूल में पूजा अर्चण प्रारंभ हो गया लोग कैंडील जला कर प्रभू यीशू का गुण गाण किया। साथ ही साथ प्रभू यीशू के बताये रास्ते पर चलने का संकल्प लिया। इस मौके पर स्कूली बच्चों में खासा उत्साह देखा गया। इधर धनरुआ चौराहा बडिहा रोड में पादरी आर्यन राज अब्राहम के द्वारा क्रिसमस डे मनाया गया। इस मौके पर बच्चों ने जीसस क्रिस्ट को याद करते हुए भजन एवं सांस्.तिक कार्यक्रम का आयोजन कर पूरे धूमधाम से क्रिसमस डे को मनाया। मालूम हो कि जब भगवान ईसा का जन्म हुआ था तब सभी देवता उन्हें देखने और उनके माता पिता को बधाई देने आए थे। उस दिन से आज तक हर क्रिसमस के मौके पर सदाबहार फर के पेड़ को सजाया जाता है और उसे क्रिसमस ट्री कहा जाता है। क्रिसमस ट्री को सजाने की शुरुआत करने वाला पहला व्यक्ति बोनीफेंस टूयो नामक एक अंग्रेज धर्म प्रचारक थे। यह पहली बार जर्मनी में 10 वीं शताब्दी के बीच शुरू हुआ था आपकी जानकारी के लिए बता दू संत निकोलस का जन्म तीसरी सदी में जीसस की मौत के 280 साल बाद मायरा में हुआ था। बचपन में माता-पिता के देहांत के बाद निकोल को सिर्फ भगवान जीसस पर यकीन था। बड़े होने के बाद निकोलस ने अपना जीवन भगवान को अर्पण कर लिया वह एक पादरी बने फिर बिशप, उन्हें लोगों की मदद करना बेहद पसंद था।वो गरीब बच्चों और लोगों को गिफ्ट दिया करते थे। निकोलस को इसलिए संता कहा जाता है, क्योंकि वह अर्ध रात्रि को गिफ्ट दिया करते थे,ताकि उन्हें कोई देख ना पाए। आपको बता दू कि संत निकोलस के वजह से हम आज भी इस दिन सांता का इंतजार करते हैं। क्रिसमस के मौके पर एक दूसरे को कार्ड बांटकर बधाई देने का भी रिवाज है और यह सिलसिला 24 दिसंबर की रात से ही शुरू हो जाता है। पादरी आर्यन राज ने बताया कि इस सांस्.तिक कार्यक्रम का शुभारंभ केक काटकर किया गया तथा बच्चों के बीच चॉकलेट, पेंसिल, कलम, कॉपी, किताब का भी वितरण किया गया। इस मौके पर लोजपा नालंदा के राष्ट्रीय महासचिव सत्यानंद शर्मा, लोजपा के राष्ट्रीय सचिव सुरेंद्र कुमार चौधरी, लोजपा प्रदेश कोषाध्यक्ष प्रभारी रमेशचंद्र कपूर, लोजपा प्रदेश प्रवक्ता विष्णु पासवान, लोजपा नेता दीनानाथ क्रांति धनरुआ लोजपा प्रखंड अध्यक्ष मुकेश पासवान, राष्ट्रीय युवा नेता अनिल पासवान, लोजपा फुलवारी प्रखंड अध्यक्ष दशरथ पासवान, लोजपा के बिहटा प्रखंड अध्यक्ष मनोज पासवान, लोजपा पालीगंज प्रखंड अध्यक्ष धम्रेद्र पासवान, मसौढ़ी लोजपा के प्रखंड उपाध्यक्ष सुजीत पासवान, लोजपा जिला अध्यक्ष अंजू देवी, एवं दलित सेना के मसौढ़ी प्रखंड अध्यक्ष संजीव पासवान मौजूद रहे।

यह भी पढ़े  शांतिपूर्ण रहा मैट्रिक परीक्षा का पहला दिन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here