कॉमनवेल्थ गेम्स-2018’ में ‘‘स्वर्ण पदक’ हासिल करने पर श्रेयसी सिंह सम्मानित

0
68
Patna-June.11,2018-Bihar Governor Satyapal Mallik is honouring gold medallist in Common Wealth Game Shreyeshi Singh during felicitation function at Rabindra Bhawan in Patna.

पटना – बिहार के युवा प्रतिभाशाली और कठिन परिश्रमी होते हैं। नयी दिल्ली के छोटे से कमरे में चार-चार विद्यार्थी एक साथ तंगी में रहकर भी अखिल भारतीय सिविल सेवा की परीक्षा में कामयाबी हासिल कर लेते हैं। श्रेयसी सिंह भी धुन की पक्की एक प्रतिभाशाली बिहारी खिलाड़ी हैं, जिन्होंने अपने कठिन परिश्रम एवं खेल प्रतिभा की बदौलत ‘‘कॉमनवेल्थ गेम्स-2018’ में ‘‘स्वर्ण पदक’ हासिल कर पूरी दुनियाँ में भारत एवं बिहार का नाम रोशन कर दिया है।यह बातें राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने स्थानीय रवीन्द्र भवन में ‘‘पहल’ संस्था द्वारा आयोजित बिहार निवासी निशानेबाज श्रेयसी सिंह के ‘‘सम्मान समारोह’ को संबोधित करते हुए कही। राज्यपाल ने कहा कि विविद्यालयों में खेलकूद की गतिविधियों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से ‘‘एकलव्य’ प्रतियोगिता पुन: शुरू करने के आदेश दिए गए हैं। पहले यह प्रतियोगिता महाविद्यालय स्तर, फिर विविद्यालय एवं अन्तरविविद्यालय स्तर पर आयोजित होगी, जिसमें विभिन्न खेलों की प्रतिस्पर्धाएं होंगी। ब्राजील आदि देशों में खेलों पर पूरा ध्यान दिया जाता है, जिसकी वजह से वहां काफी संख्या में प्रतिभावान विश्वस्तरीय खिलाड़ी निकलते हैं। बिहार की समृद्धि कृषि, पर्यटन आदि प्रक्षेत्रों के विकास के जरिये बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि ‘‘दूसरी हरित क्रांति’ बिहार में ही सम्पूर्णता में प्रतिफलित होगी। बिहार की प्रतिभाएं निश्चय ही एक दिन ‘‘नोबल पुरस्कार’ हासिल करने में भी कामयाब हो जाएंगी।राज्यपाल ने कहा कि भारत में निशानेबाजी की सुदीर्घ परम्परा रही है। उन्होंने अर्जुन, पृवीराज जैसे कई इतिहास प्रसिद्ध महानायकों का नाम लेकर बताया कि इन सबने निशानेबाजी के बल पर इतिहास गढ़ने और बदलने का काम किया। निशानेबाजी की प्रतिभा श्रेयसी को पैतृक परम्परा से मिली है। इनके दादाजी एवं पिताजी दोनों ने श्रेयसी का मनोबल बढ़ाकर इन्हें ऊंचाई पर ले जाने में काफी मदद की है। इस खिलाड़ी ने निरंतर अपने प्रदर्शन में ऐसी ही बेहतरी बरकरार रखी, तो निश्चय ही यह एक दिन ओलम्पिक में भी ‘‘स्वर्णपदक’ हासिल कर लेंगी।

यह भी पढ़े  पहले जुमे पर मस्जिदों में उमड़ी नमाजियों की भीड़

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here