कैबिनेट के फैसला : 18 एजेंडों पर लगी मुहर, बनेगा 100 बेडों का पीआइसीयू

0
15
cabinet metting.

राज्य मंत्रिपरिषद की मंगलवार को हुई बैठक में 18 एजेंडों पर मुहर लगाई गई। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में राज्य सरकार ने निर्णय लिया कि वर्ष 2004 के बाद योगदान करने वाले राज्यकर्मियों को ग्रेच्युटी का फायदा मिलेगा। एनपीएस आच्छादित कर्मियों को इसका फायदा मिलेगा। पुरानी नौकरी छोड़कर बिहार सरकार की नौकरी में आने वालों को भी मिलेगा लाभ। 2004 से पूर्व किसी दूसरी सेवा में नौकरी कर रहे कर्मियों को भी लाभ मिलेगा। मंत्रिपरिषद की बैठक में सरकार ने निर्णय लिया कि जानलेवा बुखार से मासूमों की जान बचाने के लिए 100 बेड वाला आईसीयू बनाया जाएगा। इस अस्पताल के निर्माण पर 62 करोड़ रुपये खर्च होंगे। मंत्रिपरिषद ने नवादा में जलापूर्ति के लिए 77.91 करोड़ रुपये की मंजूरी दी है। यह राशि सीएम के सात निश्चय योजना के तहत खर्च की जाएगी। केन्द्रीय चयन पर्षद सिपाही की चेयरमैन नियुक्ति नियमावली में संशोधन किया गया है। अब पूर्व डीजी भी पर्षद के अध्यक्ष बन सकेंगे। मंत्रिपरिषद ने नियमावली संशोधन पर मुहर लगा दी।

18 एजेंडों पर लगी मुहर
 
अन्य सरकारी सेवा छोड़कर आने वाले राज्यकर्मियों को भी ग्रेच्युटी
कैबिनेट ने अन्य सरकारी सेवा छोड़कर आने वाले राज्यकर्मियों को ग्रेच्युटी का लाभ देने पर मुहर लगा दी है. अब 2004 के बाद किसी अन्य सरकारी सेवा छोड़कर राज्य सरकार की सेवा में आनेवाले कर्मियों को, जो पेंशन स्कीम से बाहर हैं,  ग्रेच्युटी का लाभ मिलेगा. नवादा व भोजपुर में जलापूर्ति योजना को भी मंजूरी दी गयी है. नवादा में जलापूर्ति के लिए हर घर नल का जल योजना की राशि को 77.91 करोड़ से बढ़ाकर 109.98 करोड़ करने की मंजूरी दी गयी. भोजपुर जिले के आर्सेनिक पीड़ित नेकनाम टोले में सतही जलापूर्ति के लिए राशि मंजूर की गयी है.
 सिपाही भर्ती के लिए गठित केंद्रीय चयन पर्षद के चेयरमैन पद की नियुक्ति एवं सेवा शर्त नियमावली में आंशिक संशोधन किया है. अब इसके चेयरमैन पद पर डीजीपी स्तर के पदाधिकारी या पूर्व डीजीपी को भी चेयरमैन नियुक्त किया जा सकेगा. राज्य कैबिनेट की बैठक में कुल 18 एजेंडों पर मुहर लगायी गयी.
 कैबिनेट ने गोपालगंज जिले में इकोपार्क बनाने के लिए 31 एकड़ जमीन वन एवं पर्यावरण विभाग को स्थानांतरित करने की मंजूरी दे
दी. कैबिनेट की बैठक में मंत्रियों को 13 जुलाई को जलवायु परिवर्तन को लेकर होने वाली परिचर्चा के संबंध में 20 मिनट का प्रेजेंटेशन दिखाया गया.
यह भी पढ़े  पेट्रोल-डीजल के दाम में हो सकती है कमी: पेट्रोलियम मंत्री धम्रेद्र प्रधान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here