केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह आज से दो दिवसीय जम्मू एवं कश्मीर दौरे पर, हालात का लेंगे जायजा

0
63

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह आज से जम्मू एवं कश्मीर का दो दिवसीय दौरा करेंगे। इस दौरान वे श्रीनगर में एक उच्चस्तरीय बैठक में हिस्सा लेंगे तथा पवित्र अमरनाथ गुफा में शिवलिंग के दर्शन करेंगे। सूत्रों ने कहा कि राजनाथ सिंह श्रीनगर के लिए बुधवार शाम निकलेंगे तथा शुक्रवार अपराह्न वापस दिल्ली लौटेंगे। इस दौरे पर गृहमंत्री राज्यपाल शासन में चल रहे राज्य की सुरक्षा स्थिति की समीक्षा भी करेंगे।

मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि राजनाथ सिंह के दौरे के एजेंडे का अभी तक खुलासा नहीं हुआ है लेकिन इतना निश्चित है कि वे गुरुवार को अमरनाथ गुफा जाकर अपना दौरा शुरू करेंगे। अमरनाथ यात्रा 28 जून से शुरू हुई है और यह 26 अगस्त तक जारी रहेगी।

एक सूत्र ने कहा कि इसके बाद गृह मंत्री उच्चस्तरीय सुरक्षा समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करेंगे जिसमें सेना के शीर्ष अधिकारी, जम्मू एवं कश्मीर सरकार और पुलिस के शीर्ष अधिकारी, केंद्रीय अर्धसैनिक बल और खुफिया एजेंसियों के शीर्ष अधिकारी मौजूद रहेंगे। उन्होंने कहा कि वे राज्यपाल एन.एन. वोहरा के साथ राजनीतिक विमर्श करेंगे।

यह भी पढ़े  'PDP को तोड़ने की कोशिश हुई तो भुगतने होंगे खतरनाक अंजाम':महबूबा मुफ्ती

राजनाथ सिंह के साथ गृह सचिव राजीव गौबा और जम्मू एवं कश्मीर संबंधी मामलों को देख रहे अधिकारी आएंगे। उनके साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के भी आने की संभावना है। बैठक में राज्य में सक्रिय आतंकवादी संगठनों की तरफ से खतरों, खासकर अमरनाथ यात्रा पर खतरों की समीक्षा की जाएगी तथा उन्हें बेअसर करने के लिए उठाए जाने वाले कदमों की समीक्षा की जाएगी।

सुरक्षित और बिना किसी घटना के अमरनाथ यात्रा संपन्न कराना सुरक्षा विभाग के लिए शीर्ष प्राथमिकताओं में से एक है और इसकी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए केंद्र और प्रदेश सरकार इसमें कोई कसर नहीं छोड़ रहीं हैं। बैठक में कश्मीर घाटी में आतंकवाद रोधी अभियान के दौरान स्थानीय नागरिकों की पत्थरबाजी से उत्पन्न अवरोध को कम से कम करने की कोशिशों पर चर्चा होगी।

लश्कर-ए-तैयबा और हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़े विदेश आतंकवादियों तथा अमरनाथ यात्रा को निशाना बनाने की ताक में लगे आतंकवादियों को भारत में घुसने से रोकने के लिए नियंत्रण रेखा और अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर सतर्कता बढ़ाने के लिए जरूरी कदम उठाने पर चर्चा होगी।

यह भी पढ़े  जम्मू-कश्मीर: सुंजवान आर्मी कैंप में आतंकियों को घेर लिया है, ऑपरेशन जारी- भारतीय सेना

अमरनाथ यात्रा के लिए लगभग दो लाख श्रद्धालुओं ने पंजीकरण कराया है। जम्मू एवं कश्मीर में संघर्ष विराम के उल्लंघन तथा अन्य आतंकवादी गतिविधियों को देखते हुए सुरक्षा कदम उठाए गए हैं। भारतीय जनता पार्टी द्वारा पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी से गठबंधन तोड़कर सरकार गिरने के बाद राज्य में राज्यपाल शासन लागू होने के बाद राजनाथ सिंह पहली बार राज्य के दौरे पर जा रहे हैं।

बता दें कि पिछले महीने भी राजनाथ सिंह जम्मू-कश्मीर के दौरे पर गए थे। इस दौरान वह कुपवाड़ा गए थे और सीमा पर पाकिस्तानी गोलीबारी से पीड़ित परिवारों से मुलाकात की थी। साथ ही उन्होंने रमजान के महीने में गृहमंत्रालय की तरफ से लागू किए गए सीजफायर की भी समीक्षा की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here