कश्मीर में आतंकियों की आफत , तीन आतंकी ढेर, SOG का जवान शहीद

0
16

जम्मू एंड कश्मीर में राज्यपाल शासन लागू होने के बाद आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन तेज कर दिया गया है. इसके लिए कश्मीर के कुछ संवेदनशील हिस्सों में एनएसजी कमांडो की तैनाती की जा रही है. राज्य की पुलिस सूत्रों के अनुसार, कश्मीर में हाल के दिनों में बढ़ी आतंकी गतिविधियों पर अंकुश के लिए इस तरह के प्रयास किए जा रहे हैं. रमजान से पहले घाटी में तमाम सुरक्षा ऑपरेशन रोक दिए गए थे. इसके बावजूद राज्य में हिंसा में कोई कमी नहीं आई.

केंद्र सरकार अब घाटी की सुरक्षा में कोई कमी नहीं छोड़ना चाहती. इसीलिए अब यहां पर एनएसजी कमांडो की तैयारी की जा रही है. ये कमांडो जम्मू एंड कश्मीर पुलिस के अलावा पैरा मिलिट्री के जवानों को एंटी टेरर ऑपरेशन की ट्रेनिंग देंगे. ये कमांडो उन्हें हर परिस्थिति में ऑपरेशन करने के तरीके सिखाएंगे.

एनएसजी कमांडो राज्य पुलिस और दूसरे अर्धसैनिक बलों को ट्रेनिंग के अलावा श्रीनगर हवाई अड्डे जैसी जगहों पर एंटी हाइजैक ऑपरेशन की ट्रेनिंग भी देंगे. इस ट्रेनिंग से राज्य में आतंकियों के खिलाफ लड़ाई में बड़ी मदद मिलेगी. एनएसजी कमांडो पहले भी जम्मू कश्मीर पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों को ट्रेनिंग दे चुके हैं.

यह भी पढ़े  'PDP को तोड़ने की कोशिश हुई तो भुगतने होंगे खतरनाक अंजाम':महबूबा मुफ्ती

जम्‍मू-कश्‍मीर की मिट्टी को निर्दोषों के खून से रक्‍तरंजित करने के लिए ISIS के आतंकियों ने घाटी में दस्‍तक दे दी है! सुरक्षाबलों ने शुक्रवार सुबह दक्षिण कश्‍मीर के श्रीगुफवारा (अनंतनाग)  इलाके में कुछ आतंकियों के मौजूद होने की सूचना मिली थी. सूचना के आधार पर सुरक्षाबलों ने श्रीगुफवारा के 7 से 8 मकानों की कड़ी घेराबंदी करने के बाद आतंकियों को सरेंडर करने के लिए कहा. जिसके जवाब में आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलियों की बौछार कर दी.

आतंकियों की इस गोलाबारी का सुरक्षाबलों ने मुंहतोड़ जवाब दिया. मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया है. हालांकि इस दौरान जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस का एक जवान भी गंभीर रूप से जख्‍मी हो गया. जिसे आर्मी के बेस हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया. जहां इलाज के दौरान वह शहीद हो गया. मुठभेड़ के दौरान स्‍थानीय नागरिक भी आतंकियों की गोली का शिकार हो गया. जिसको अस्‍पताल में मृत घोषित कर दिया गया.

यह भी पढ़े  घाटी में आतंक की कमर टूटी, अब सियासी हल निकले

सुरक्षाबल से जुड़े सूत्रों के अनुसार इंटेलीजेंस इनपुट के अनुसार आधा दर्जन आतंकी इन मकानों में छिपे हुए हैं. जिसमें ISIS के चार आतंकियों के अलावा पाकिस्‍तान से घुसपैठ कर आया एक आतंकी है. बाकी आतंकी हिजबुल के बताए जा रहे हैं. मकान में मौजूद आतंकियों में एक आतंकी A++ कैटेगरी का टॉप टे‍रेरिस्‍ट कमांड भी है. आतंकियों के साथ मुठभेड़ अभी जारी है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here