कल से शुरू होगी बिहार बोर्ड की मैट्रिक परीक्षा, 16 लाख 60 हजार परीक्षार्थी शामिल होंगे

0
65

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा आयोजित मैट्रिक परीक्षा शुरू होने जा रही है. इस बार मैट्रिक परीक्षा में इस बार लड़कों की तुलना में 13541 लड़कियां अधिक शामिल हो रही हैं. जबकि पूरे प्रदेश में 16 लाख 60 हजार 609 परीक्षार्थी शामिल होंगे. इनमें छात्राओं की संख्या 8 लाख 37 हजार 75 है. जबकि, छात्रों की संख्या 8 लाख 23 हजार 534 है. राज्य भर में 1,418 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं मैट्रिक परीक्षा के लिए 8 लाख 42 हजार 888 परीक्षार्थी फर्स्ट सिटिंग में और 8 लाख 17 हजार 721 अभ्यर्थी सेकेंड सिटिंग में शामिल होंगे.

परीक्षा को लेकर बिहार बोर्ड ने कई नियम बनाएं हैं और परीक्षार्थियों के लिए गाइड लाइन भी जारी की है. इसके तहत परीक्षार्थी सेंटर पर जूता- मोजा पहनकर नहीं जा सकेंगे. इसी तरह के और भी कई निर्देश जारी किए गए हैं, जिन्हें परीक्षा​र्थियों के लिए जानना जरूरी है.
परीक्षा केंद्र में जूता-मोजा पहनकर प्रवेश करने की इजाजत नहीं दी गई है.

यह भी पढ़े  शिवराज सिंह चौहान ने बुधनी सीट से भरा नामांकन पत्र, ये है एमपी के 'मामा' का चुनावी सफर

परीक्षार्थियों को एडमिट कार्ड की मूल प्रति और पेन के सिवा कुछ भी नहीं ले जाना है.
केंद्राधीक्षक के अलावा किसी भी पदाधिकारी, कर्मचारी और वीक्षक को मोबाइल के साथ प्रवेश वर्जित रहेगा.
परीक्षार्थियों को परीक्षा आरंभ होने से कम से कम 10 मिनट पहले केंद्र में प्रवेश करना अनिवार्य होगा.
इंटरमीडिएट परीक्षा की तरह ही इस बार मैट्रिक की उत्तर पुस्तिका और ओएमआर शीट पर परीक्षार्थियों का नाम, रौल नंबर, रौल कोड और विषय कोड प्रिंटेड मिलेगा.
आनसर शीट और ओएमआर पर व्हाइटनर, इरेजर, नाखून, ब्लेड का इस्तेमाल नहीं करें.
किसी प्रकार की इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस लेकर परीक्षा केंद्र में प्रवेश पर बैन है.
वीडियो कैमरे के समक्ष जांच में कैलकुलेटर, मोबाइल फोन एवं अन्य इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स जैसे-ब्लूटूथ, इयरफोन मिलने पर परीक्षा से वंचित हो सकते हैं.

पटना जिले में 74 केंद्रों पर कुल 76,432 परीक्षार्थी शामिल होंगे। यहां दोनों पाली में लड़कियों की संख्या लड़कों से अधिक है। प्रथम पाली में 39,140 अभ्यर्थियों में छात्राओं की संख्या 20,569 और छात्रों की संख्या 18,571 होगी। द्वितीय पाली में 19,353 छात्राएं और 17,939 छात्र परीक्षा देंगे।

यह भी पढ़े  बहुचर्चित मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले में सीबीआई उम्मीदों पर सफल होगी !

विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर के अनुसार सभी परीक्षा केंद्र के बाहर 200 मीटर की परिधि में किसी भी अनधिकृत व्यक्ति का प्रवेश वर्जित रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here