कल से रोहतास में लगेगी बिहार भाजपा के माननीयो की पाठशाला …

0
120

पटना – प्रदेश में भाजपा सांसदों, विधायकों, पार्षदों व प्रदेश पदाधिकारियों की ‘‘पाठशाला’ लगेगी। इस ‘‘पाठशाला’ में भाजपा के सभी वरिष्ठ नेताओं को संगठन विस्तार के साथ जीत का मंत्र देने के लिए पार्टी के देश में स्थापित‘‘ ट्रेनर’ बिहार दौरे पर आ रहे हैं। इस पाठशाला में ट्रेनिंग लेने के लिए प्रदेश भाजपा के सभी वरिष्ठ नेता 14 दिसम्बर को रोहतास जाएंगे। ट्रेनिंग के लिए रोहतास का चयन किया गया है। संगठन व ट्रेनिंग के मास्टर राष्ट्रीय संगठन मंत्री प्रदेश के जिला स्तर से लेकर प्रदेश स्तर के नेताओं की वहां ‘‘पाठशाला’ लगाएंगे। इस पाठशाला में बिहार से जीते भाजपा के सभी सांसद, सभी विधायक, पार्षद, जिलाध्यक्ष व मोर्चा के अध्यक्ष भी ट्रेनिंग का लाभ उठाएंगे।

भाजपा के राष्ट्रीय संगठन मंत्री रामलाल व सह संगठन मंत्री सौदान सिंह 14 दिसम्बर 2017 को शेरशाह सूरी की नगरी रोहतास जाकर ट्रेनिंग देंगे। रोहतास के एक निजी मेडिकल कॉलेज में भाजपा नेताओं की ‘‘ पाठशाला’ लगेगी। पाठशाला में प्रदेश स्तरीय सभी नेताओं के साथ जिलों से सारे पार्टी अध्यक्षों को बुलाया गया है। ‘‘ पाठशाला’ में राष्ट्रीय कार्यसमिति के सदस्य भाग लेंगे। विभाग संयोजक व क्षेत्रीय संगठन विस्तारक को भी रोहतास बुलाया गया है।

यह भी पढ़े  मुख्यमंत्री ने लोहिया को भारतरत्न से सम्मानित करने की मांग की, पीएम मोदी को लिखा पत्र

अगले लोकसभा चुनाव व विधानसभा चुनाव को देखते हुए पहली बार इस तरह के व्यापक प्रशिक्षण (पाठशाला) का आयोजन किया जा रहा है।सूबे में पार्टी संगठन को और सशक्त करने का अभियान चल रहा है। सभी प्रदेशों के लिए ट्रेनिंग के मास्टर नेता का चयन कर प्रदेशों में भेजा जा रहा है। ज्ञात हो कि इसी कड़ी में पिछले दिनों भाजपा की कमियों को दूर कर इसे मजबूत बनाने के लिए यहां ‘‘राव मिशन’ चलाया गया। पार्टी के शीर्ष रणनीतिकारों ने राष्ट्रीय महामंत्री टी मुरलीधर राव को जमीनी स्तर पर संगठन को सशक्त करने के लिए भेजा था।

ट्रेनिंग के मास्टर टी मुरलीधर राव ने बूथ स्तर पर भाजपा की नब्ज टटोली और इसकी रिपोर्ट पार्टी के शीर्ष रणनीतिकारों को सौंपी है। एक बार फिर मुरलीधर राव बिहार मिशन पर आ रहे हैं।भाजपा के मास्टर ट्रेनर व संगठन नेता पार्टी नेताओं के होमवर्क को देखेंगे। होमवर्क के तहत भाजपा बू्थ स्तर पर तीन पदाधिकारियों (त्रिशक्ति) को खड़ी कर रही है।

यह भी पढ़े  सूबे के इंटर स्कूलों में नियुक्त होंगे 4257 अतिथि शिक्षक

बिहार में 66000 बूथ हैं। त्रिशक्ति गांव व कस्बे में संगठन की कमजोरियों से प्रखंड स्तर के पदाधिकारियों को अवगत करा रहे हैं। साथ ही ये त्रिशक्ति नरेन्द्र मोदी सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को दूर दराज क्षेत्रों में प्रचार प्रसार भी कर रहे हैं। खास है कि प्रत्येक बूथ पर त्रिशक्ति के अलावा बूथ अध्यक्ष को प्रत्येक पंचायत में 19 सदस्य खड़े करने हैं । मोबाईल में सभी नए सदस्यों का प्रोफाइल बनाना है। मोबाइल से ही पुराने सदस्यों की सूची का सत्यापन भी करना है। की-वोटर्स की सूची बनाना और उनसे संपर्क करना है। केन्द्रीय योजनाओ के लाभार्थियों की सूची पर रखना है। उज्जवला, स्मृद्धि योजना, सौभाग्य व हर गरीब घर बिजली योजना। मोदी एप व भीम एप भी लोड करवाना है। ऐसे होमवर्क पर कितना काम हुआ है इन सब की छानबीन होगी। युद्धस्तर पर भाजपा संगठन को धारदार बनाने का अभियान चल रहा है।

हाल ही में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने चंदवा (भोजपुर) में आयोजित महायज्ञ में शामिल होकर पार्टी कार्यकर्ताओं में उत्साह भरा था। भाजपा के संगठन महामंत्री सौदान सिंह ने पिछले महीने प्रदेश भाजपा की कार्यसमिति में संगठन को मजबूत करने का उपाय बताया था। खास है कि शहरी होने का छाप मिटाने के लिए भाजपा अपने को बहुत हद तक बदलने जा रही है।

यह भी पढ़े  कांग्रेस की सरकार बनी तो इस मांग पर विचार किया जायेगा :गोहिल

भाजपा के कार्यकर्ता गांवों की गरीब बस्तियों में जाकर हर दीपावली में दीपावली मनाएंगे। दलितों, शोषित, वंचित व आर्थिक रूप से तंगहाल लोगों के साथ खुशियां बांटेंगे। उनके साथ खोखो,कबड्डी व फुटबॉल खेलेंगे। हर मामले में हमदर्द बनकर भाजपा से अब तक दूर रहे लोगों को पार्टनर बनाएंगे। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव को लेकर भाजपा का पूरा फोकस गांव और पंचायत पर ही है। भाजपा ने हर पंचायत को शक्ति केन्द्र का दर्जा दिया है और हर बूथ पर तीन पदाधिकारी खड़े किये जा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here