कर्नाटक में येदियुरप्पा सरकार की शपथ पर रोक लगाने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार, आज सुबह 9 बजे CM पद की लेंगे शपथ

0
28

कर्नाटक में बी एस येदियुरप्पा के नेतृत्व में बीजेपी की सरकार के शपथ ग्रहण पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगाने से इनकार कर दिया है। कांग्रेस-जेडीएस की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने शपथ पर रोक से इनकार किया है। इस मामले की अगली सुनवाई इससे पहले कांग्रेस कर्नाटक राज्यपाल के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई। कांग्रेस की तरफ से इस केस में शीघ्र सुनवाई करने की अपील को चीफ जस्टिस ने मंजूर कर लिया था। चीफ जस्टिस ने तीन जजों की बेंच का गठन किया । करीब दो घंटे तकी तीन जजों की बेंच ने सुप्रीम कोर्ट के कोर्ट नंबर-6 में इस केस की सुनवाई के बाद शपथ पर रोक लगाने से इनकार कर दिया। येदियुरप्पा गुरुवार सुबह 9.00 बजे कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेनेवाले हैं। बेंगलुरु में आज सुबह शपथ ग्रहण समारोह होनेवाला है। बता दें कि कर्नाटक के गवर्नर वजुभाई वाला ने सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता दिया है। जानकारी ये भी मिली है कि राजभवन में शपथग्रहण की तैयारियां भी शुरू हो गई हैं।

कांग्रेस कर्नाटक में सरकार बनाने के लिये भाजपा को न्योता देने के राज्यपाल के फैसले के खिलाफ उच्चतम न्यायालय पहुंची. अभिषेक सिंघवी ने कहा, कांग्रेस ने कर्नाटक के राज्यपाल के फैसले के खिलाफ अपनी याचिका पर उच्चतम न्यायालय में बुधवार देर रात सुनवाई की मांग की.

यह भी पढ़े  PM मोदी 14 अक्तूबर को एक दिवसीय दौरे पर आयेंगे पटना

5.35AM ​शपथ ग्रहण के संवैधानिक आदेश को हम नहीं रोक सकते-सुप्रीम कोर्ट

​5.35AM सुप्रीम कोर्ट ने दोनों पक्षों से समर्थन का पत्र मांगा
5.35AM अगली सुनवाई कल सुबह 10.30 बजे होगी

​5.27AM हमें समर्थन की चिट्ठी चाहिए-जस्टिस सीकरी
​5.27AM येदियुरप्पा के शपथ ग्रहण पर रोक नहीं लगेगी- जस्टिस सीकरी
​5.20AM सुप्रीम कोर्ट में बहस पूरी, फैसला लिखा जा रहा है, जस्टिस सीकरी लिखवा रहे हैं फैसला
4.30 AM: सिंघवी ने शपथ ग्रहण शाम 4.30 बजे तक टालने की मांग की
​4.20AM: सुप्रीम कोर्ट ने  येदियुरप्पा के शपथ ग्रहण पर रोक लगाने से इनकार किया, आखिरी फैसला बाकी

4.06 AM दोनों पक्ष की दलीलें पूरी, तीनों जज आपस में चर्चा कर रहे हैं।
4.05AM  राज्यपाल से हलफनामा नहीं मांगा जा सकता-रोहतगी
​403AM रोहतगी ने केस को खारिज करने की मांग की, कहा-राज्यपाल को संवैधानिक दायित्व से नहीं रोक सकते
​3.52AM अटॉर्नी जनरल ने कहा 15 दिन का समय देने के सवाल पर कल या परसों भी सुनवाई हो सकती थी

3.47AM: जज ने कहा फ्लोर टेस्ट फेल भी हो सकता है-
3.45AM समर्थन देनेवाले विधायकों के हस्ताक्षर पर सवाल
3.45AM जज ने कहा हमें पता नहीं किसके साइन किए गए
3.40AM जज ने पूछा 15 दिन की मोहलत क्यों दी

3.38AM अब अटॉर्नी जनरल वेणुगोपाल बेंच के सामने पेश कर रहे हैं
3.35 AM ​कोई आसमान नहीं गिर रहा जो रात में सुनवाई हो रही है

3.30 AM मुकुल रोहतगी ने कहा-ये केस नहीं सुना जाना चाहिए, रात के समय तो सुनवाई एकदम नहीं होनी चाहिए
3.25AM ​सुप्रीम कोर्ट में अभिषेक मनु सिंघवी की दलील पूरी
3.20 AM सिंघवी ने शपथ ग्रहण दो दिन टालने की अपील की
3.15 AM ​सिंघवी के बाद अटॉर्नी जनरल वेणुगोपाल अपना पक्ष रखेंगे
​3.01AM जस्टिस सीकरी ने कहा जब समर्थन की चिट्ठी नहीं है तो फिर हम फैसला कैसे लें

यह भी पढ़े  मुख्यमंत्री नीतीश ने राजगीर में ऐतिहासिक मलमास मेले का किया शुभारंभ

3.00 AM सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस सीकरी ने मांगी समर्थन की चिट्ठी, सिंघवी ने कहा- चिट्ठी हमारे पास नहीं
2.50 AM जस्टिस सीकरी ने अरुणाचल के केस का हवाला दिया, केस के कुछ हिस्सों को पढ़ने को कहा
2.45 AM रोहतगी ने ​अनुच्छेद 361 का हवाला दिया, गवर्नर के फैसले को चुनौती नहीं दी जा सकती
​2.40AM सिंघवी की दलीलों पर मुकुल रोहतगी ने अपना तर्क रखा

2.30 AM येदियुरप्पा को सरकार बनाने के लिए निमंत्रण देना संवैधानिक तौर पर गलत: सिंघवी
2.25 AM जज ने समर्थन वाली चिट्ठी मांगी, सिंघवी ने कहा कि फिलहाल उनके पास समर्थन की चिट्ठी नहीं है
2.20AM येदियुरप्पा ने 7 दिन का समय मांगा था लेकिन उन्हें 15 दिन क्यों दिया गया-सिंघवी
​2.17 AM  सिंघवी ने कुमारस्वामी की लिस्ट का जिक्र किया
2.15 AM बीजेपी के पास 104 सीटें-सिंघवी
​2.11 AM कांग्रेस-जेडीएस के पास 117 सीटें-सिंघवी
​2.10AM  सिंघवी ने सरकारिया कमीशन और बोम्मई केस का जिक्र किया

2.05AM गवर्नर ने रात में 9 बजे न्योता क्यों दिया-सिंघवी
2.00 AM सिंघवी ने बेंच के सामने जेडीएस और कांग्रेस के सीटों का जिक्र किया

2.00 AM मुकुल रोहतगी ने कहा राज्यपाल के फैसले को चुनौती नहीं दी जा सकती
1.58 AM दोनों पक्षों के बीच जिरह शुरू
​1.45 AM तीन जजों की बेंच ने मामले की सुनवाई शुरू की

  • जस्टिस सिकरी, जस्टिस अशोक भूषण, जस्टिस एसए बोबडे की बेंच करेगी सुनवाई
  • अडिशनल सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता सुप्रीम कोर्ट पहुंचे
  • ​अभिषेक मनु सिंघवी सुप्रीम कोर्ट पहुंचे​
  • CJI ने कांग्रेस-JD(S) की याचिका पर तीन जजों की बेंच की गठन कियायेदियुरप्पा को मिली राज्यपाल की चिट्ठी, बहुमत साबित करने के लिए मिला 15 दिनों का वक्त

    बीजेपी को सरकार बनाने के लिए राज्यपाल की चिट्ठी मिल गई है। बहुमत साबित करने के लिए येदियुरप्पा को 15 दिन का वक्त मिला है। इससे पहले कुमारस्वामी भी एक प्रतिनिधिमंडल के साथ मिले और राज्यपाल के सामने सरकार बनाने का दावा पेश किया था। अब येदियुरप्पा की सबसे बड़ी परीक्षा विधानसभा में बहुमत साबित करने की होगी।

    कौन हैं बीएस येदियुरप्पा?

    बीएस येदियुरप्पा को कर्नाटक की राजनीति में अहम भूमिका निभाने वाले लिंगायत का समर्थन प्राप्त नेता माना जाता है। उन्होंने बीते समय में भाजपा छोड़कर अलग पार्टी बना ली थी। इसके बाद 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले उन्होंने अपने दल ‘कर्नाटक जनता पक्ष’ का वापस भारतीय जनता पार्टी में विलय कर दिया। येदियुरप्पा का जन्म 27 फ़रवरी 1943 को मांड्या जिले के बुक्कनकेरे में हुआ था। उनके पिता का नाम सिद्धलिंगप्पा और माता का नाम पुट्टतायम्मा था। कर्नाटक के तुमकुर जिले में येदियुर स्थान पर संत सिद्धलिंगेश्वर द्वारा बनाए गए शैव मंदिर के नाम पर उनका नाम रखा गया था।

 

यह भी पढ़े  कल तीन जनवरी 2018 का दिन बिहार की सियासत को नई दिशा दे सकता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here