कर्नाटक में बनेगी BJP सरकार

0
9

कर्नाटक में राज्यपाल में सबसे बड़ी पार्टी बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता दिया है. बीजेपी विधायक सुरेश कुमार ने बड़ा दावा किया है. सुरेश कुमार के मुताबिक कल सुबह 9.30 बजे शपथ ग्रहण होगा. ट्वीट में लिखा, “बीएस येदुरप्पा कल सुबह 9.30 बजे राजभवन में सीएम पद की शपथ लेंगे. इस सुख की घड़ी में भाग लेने के लिए बड़ी संख्या में जुड़ें.”

कर्नाटक में बीजेपी की सरकार बनेगी। बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्पा कर्नाटक के अगले सीएम होंगे और वे कल सुबह 9.30बजे राजभवन में सीएम पद की शपथ लेंगे। सूत्रों के मुताबिक 21 मई को उन्हें बहुमत साबित करना होगा। वहीं कांग्रेस ने राज्यपाल के इस फैसले की आलोचना की है। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि राज्यपाल का कर्तव्य है कि संविधान की रक्षा हो और सुप्रीम कोर्ट का फैसला लागू होना चाहिए, जब राज्यपाल के सामने हमारी मेजोरिटी खड़ी है तब हमें मौका नहीं देना.. इसका मतलब है कि बीजेपी को चांस दिया जा रहा है..खऱीद-फरोख्त का मौका दिया जा रहा है। मन की बात अब धन की बात होनेवाली है।

यह भी पढ़े  कुमारस्वामी का बहुमत परीक्षण आज, भाजपा ने विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए उम्मीदवार उतारा

आपको बता दें कि भारतीय जनता पार्टी सबसे बड़े दल के रूप में उभरी है लेकिन बहुमत के आंकड़े से दूर है। एक तरफ कांग्रेस और जनता दल सेक्युलर ने मिलकर सरकार बनाने का दावा ठोका है, तो दूसरी तरफ बीजेपी नेता येदियुरप्पा भी मुख्यमंत्री बनने के लिए जोर लगा रहे थे। कुल 222 सीटों में से बीजेपी को 104, कांग्रेस को 78, जेडीएस एवं बीएसपी गठबंधन को 38, और अन्य को 2 सीटों पर जीत मिली है। भाजपा ने 5 साल पहले हुए चुनाव में 40 सीटों पर जीत दर्ज की थी।

बीजेपी को मिले सराकर बनाने के न्योते के बाद कांग्रस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस फैसले का विरोध किया. कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने कहा, ‘जेडीएस और कांग्रेस ने राज्यपाल से मुलाकात कर पूर्ण बहुमत का दावा किया है. हमने सदस्यों के नाम की लिस्ट भी सौंपी है. हमने उन्हें सुप्रीम कोर्ट के फैसले की कॉपी भी सौंपी है. वो संविधान और सुप्रीम कोर्ट के फैसले से बंधे हुए हैं.”

यह भी पढ़े  आज पीएम मोदी AIADMK सरकार की महत्वकांक्षी योजना का करेंगे शुरुआत

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा, ”हमने राज्यपाल को चिट्ठी सौंपी इसके बाद भी हमारी राय नहीं मानी. राज्यपाल का कर्तव्य है कि संविधान का उल्लंघन हो. सुप्रीम कोर्ट के फैसले का उल्लंघन ना हो.”

कुमारस्वामी की प्रतिक्रिया: सत्ता को पाने के लिए बीजेपी किस हद तक नीचे गिर सकती है..  कर्नाटक की जनता सब देख रही है। हमारे पास नंबर है.. हमने 116 विधायकों की चिट्ठी भी सौंप दी है… इसके बाद भी गवर्नर येदियुरपपा को आमंत्रित करना ऐसा लगता है कि गवर्नर भी किसी दवाब में हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here