कर्नाटक के बाद गोवा कांग्रेस मुश्किल में, 10 विधायक बीजेपी में शामिल

0
13

गोवा के दस कांग्रेस विधायकों ने बीजेपी का दामन थाम लिया है. खबर है कि इन विधायकों ने अपोजीशन लीडर के साथ मिलकर एक अलग ग्रुप बनाया है. विधानसभा में नेता विपक्ष चंद्रकांत काव्लेकर ने कहा कि उनके नेतृत्व में 10 विधायक बीजेपी में शामिल हुए हैं. केंद्रीय नेतृत्व से नाराज होकर उन्होंने अलग ग्रुप बनाया है.

गोवा के सीएम ने भी की पुष्टि

गोवा के सीएम प्रमोद सावंत ने कहा कि कांग्रेस के 10 विधायक अपने विपक्षी नेता के साथ बीजेपी में शामिल हो गए हैं. उन्होंने बताया कि राज्य में बीजेपी की ताकत अब बढ़कर 27 हो गई है. बीजेपी में शामिल सभी विधायकों ने कोई शर्त नहीं रखी है, वे बिना शर्त भाजपा में शामिल हुए हैं. हालांकि सीएम ने आगे कहा कि गुरूवार को गोवा में कैबिनेट विस्तार की घोषणा हो सकती है.

दिल्ली आ रहे हैं विधायक
कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए गोवा के विधायक बुधवार रात ही दिल्ली के लिए रवाना होने वाले हैं. मिली जानकारी के मुताबिक विधायक यहां बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा और पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाक़ात करने वाले हैं.

यह भी पढ़े  नालंदा आयुद्ध निर्माणी ने कराया मेक इन इंडिया का फील : रक्षा राज्य मंत्री

अब ऐसा होगा राज्य का समीकरण
कांग्रेस- 5 (पहले 15)
बीजेपी – 27 ( पहले 17)
गोवा फ़ॉरवर्ड पार्टी- 3
महाराष्ट्रवादी गोमान्तक पार्टी- 1
एनसीपी- 1
स्वतन्त्र- 1

क्या बोले गोवा के डिप्टी स्पीकर
गोवा के डिप्टी स्पीकर माइकल लोबो ने बताया कि कांग्रेस के 10 विधायक एक अलग ग्रुप बनाकर बीजेपी में शामिल हो गए हैं. इन विधायकों ने संविधान के शेड्यूल 10 के तहत बीजेपी में शामिल होने की घोषणा की है. लीडर ऑफ़ ऑपोजीशन चंद्रकांत काव्लेकर खुद भी बीजेपी में शामिल हो गए हैं. चंद्रकांत ने बीजेपी से बैठक के बाद मीडिया से बताया कि हम 10 लोगों ने आज बीजेपी जॉइन कर ली है. हमने सीएम के राज्य के लिए किए जा रहे अच्छे कामों को नज़र में रखकर ये कदम उठाया है. हालांकि हमारे इलाकों में विकास का ये काम अभी भी रुका हुआ है.

यह भी पढ़े  सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बाद हद पार करने वालों पर चला चुनाव आयोग का डंडा

गोवा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष ने कही ये बात

गोवा प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष गिरीश चोडांकर ने कहा है कि भाजपा ने अपने गठबंधन के साथी और हमारे खेमे के 10 विधायकों को अपने खेमे में शामिल करके अपनी असुरक्षा का परिचय दिया है. वे वन नेशन वन इलेक्शन नहीं बल्कि वन नेशन वन पार्टी की कोशिश कर रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here