कर्नाटक: एयरपोर्ट पर लैंड करते ही अमित शाह और राहुल गांधी की फ्लाइट की ली गई तलाशी

0
35

बेंगलूरू: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और बीजेपी के राष्ट्रीय प्रमुख अमित शाह के विशेष विमानों के उत्तर कर्नाटक में हुबली हवाईअड्डा पर उतरने के बाद मंगलवार को अधिकारियों ने इन विमानों की तलाशी ली. कर्नाटक में 12 मई को होने जा रहे विधानसभा चुनाव (Karnataka Elections 2018) को लेकर प्रचार के सिलसिले में ये दोनों नेता कर्नाटक आये थे. तलाशी अभियान में जिला स्तर के तीन अधिकारी शामिल थे. अधिकारियों ने बताया कि कर्नाटक में मुक्त एवं निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने के मद्देनजर निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार यह अभियान चलाया गया.

धारवाड़ जिला के उपायुक्त एस बी बोम्मनाहल्ली ने बताया, ‘आयोग( निर्वाचन) के नोडल अधिकारी करपले के नेतृत्व में टीम ने आकस्मिक तलाशी ली. राहुल गांधी एवं अमित शाह जिन विमानों से पहुंचे, हमने उनकी तलाशी ली. इसके पीछे कोई नीहित मंशा नहीं थी.’

शाह एवं राहुल नई दिल्ली से अलग अलग विमानों से हुबली हवाईअड्डा पहुंचे थे. उनके पहुंचते ही चुनाव नोडल अधिकारी करपले एवं हीरे गौड़ा और योगानंद के नेतृत्व में टीम ने उनके विमानों की तलाशी ली और चुनाव आचार संहिता के संभावित उल्लंघन की जांच की.

यह भी पढ़े  कांग्रेस पार्टी ने किया बड़ा पाप, अब राहुल गांधी माफी मांगें: अमित शाह

तलाश अभियान पूरा होने के बाद गौड़ा ने संवाददाताओं को बताया, ‘हमें उनके सामान में कुछ नहीं मिला. शाह के साथ दो और लोग थे. हमने उनके नामों की जांच नहीं की.’

चुनाव में धनबल के इस्तेमाल को रोकने के लिए आयकर विभाग उठा रहा है कदम
आयकर विभाग ने मंगलवार को कहा कि वह कर्नाटक विधानसभा चुनाव में धन बल के इस्तेमाल को नियंत्रित कर स्वच्छ चुनाव सुनिश्चित करने के लिए कदम उठा रहा है. कर्नाटक और गोवा क्षेत्र के आयकर महानिदेशक( जांच) ने कहा कि चुनाव आयोग की ओर से दिए गए अधिकारों के मुताबिक विभाग ने कदम उठाये हैं.

विभाग ने यहां एक विज्ञप्ति में कहा कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव के संबंध में सूचना और शिकायत प्राप्त करने के लिए यहां24X7 नियंत्रण कक्ष बनाया गया है. इसमें कहा गया है कि आयकर विभाग बेहिसाब पैसे के इस्तेमाल को नियंत्रित करने के लिए खास तौर पर काम रहा है.

यह भी पढ़े  कांग्रेस का गवर्नर वजुभाई पर आरोप, कहा- 'विधायक खरीदने' के लिए दिए 15 दिन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here