कण-कण में मैथिल कोकिल महाकवि विद्यापति की सांसें रची बसी है : चौधरी

0
184

दलसिंहसराय  : यहाँ के कण कण में मैथिल कोकिल महाकवि विद्यापति की साँसें रची बसी है्। गुरुवार की शाम महाकवि विद्यापति की निर्वाण स्थली विद्यापति धाम में आयोजित विद्यापति महोत्सव राजकीय समारोह के उद्घाटन के दौरान अपने संबोधन में विधानसभा अध्यक्ष विजय चौधरी ने उक्त बातें कही। श्री चौधरी ने कहा कि यहाँ की धरती ने कवि कुल शिरोमणि का स्पर्श सुख पाया है इसलिये यह हमारा सांस्कृतिक तीर्थ है। विद्यापति महोत्सव राजकीय समारोह की सफलता का श्रेय स्थानीय जन भागीदारी और आयोजकों को देते हुए उन्होने कहा कि विशाल जन भागीदारी के कारण ही यह मुमकिन हुआ। इसके लिये आप बधाई के पात्र हैं। बताते चलें कि गुरुवार की शाम 5वाँ विद्यापति राजकीय महोत्सव का उद्घाटन बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने दीप प्रज्ज्वलित करके किया। इसी के साथ साधना और समर्पण की पराकाष्ठा, साधक के हठ और साध्य के मिलन की साक्षी, एतिहासिक नगरी विद्यापतिधाम में अगले तीन दिनों तक भक्ति, आध्यात्म, साहित्य और संस्कृति की अविरल धारा प्रवाहित होने कि मार्ग प्रशस्त हो गया। महोत्सव के शुभारम्भ के पूर्व महाकवि कोकिल कवि विद्यापति जी के प्रति श्रद्धाजंलि सभा मुख्य कला मंच पर आयोजित की गई। श्रद्धांजलि सभा में पुष्पांजलि व राष्ट्रीय गान के बाद, आगत अतिथियों के सम्मान में स्कूली छात्राओं ने स्वागतगान गाकर महोत्सव की शुरुआत की। इस अवसर पर डीएम प्रणव कुमार ने विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी को मिथिला परम्परा के अनुरूप पाग, शॉल और उपहार प्रदान करके उनका स्वागत किया। विद्यापति महोत्सव की शुरुआत के लिए श्री चौधरी को साधुवाद देते हुए जिलाधिकारी कुमार ने कहा कि भक्ति, आध्यात्म, साहित्य और संस्कृति की अनूठी संगम स्थली है विद्यापति धाम। बाद में सुविख्यात भजन व पाश्र्व गायिका अनुराधा पौडवाल की मखमली आवाज का जादू चला तो पूरा इलाका तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। मौके पर बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, विभूतिपुर के विधायक रामबालक सिंह, डीएम प्रणव कुमार, एडीएम संजय उपाध्याय, एसपी दीपक रंजन, प्रशिक्षु आइएएस अंशुल कुमार समेत मंत्री मंजू वमॉ, कमरे आलम, दिलीप कुमार चौधरी, राज कुमार राय पूर्व मंत्री आलोक कुमार मेहता, डॉ. मदन मोहन झा, राज्यसभा सांसद रामनाथ ठाकुर, रामचंद्र पासवान, महबूब अली कैशर, विप सदस्य राणा गंगेश्वर प्रसाद सिंह, हरिनारायण चौधरी, विधायक अख्तरूल इस्लाम शाहीन, डॉ. अशोक कुमार, एज्या यादव सहित जिप अध्यक्ष प्रेमलता एवं दर्जनों नेतागण, बड़े पदाधिकारी, कवि, विद्वान् एवं गणमान्य लोग मौजूद थे। 

 राज्य सरकार द्वारा आयोजित पांचवें राजकीय विद्यापति समारोह में पहले दिन जहां पार्श्वगायिका अनुराधा पौंडवाल के गीतों की धूम रही, वहीं दूसरे दिन बिहार के चर्चित कलाकारों ने अपने लोकगीतों से लोगों का मनोरंजन किया । दूसरे दिन का मुख्य आकर्षण बिहार की सुप्रसिद्ध लोक गायिका डॉ नीतू कुमारी नवगीत का रहा। उन्होंने अपने कोकिल कंठ से उपस्थित श्रोताओं को मंत्रमुग्ध करते हुए अनेक सुंदर प्रस्तुतियां दी । उन्होंने सबसे पहले विद्यापति द्वारा रचित भक्ति गीत ‘‘ जय जय भैरवी गाकर शक्ति की आराध्य देवी मां दुर्गा की स्तुति की और उसके बाद भोजपुरी गीतों की ऐसी रस वष्ा की कि श्रोताओं का समूह झूमने लगा। गणोश जी की वंदना करते हुए उन्होंने ‘‘मंगल के दाता रउवा बिगड़ी बनाई जी, गौरी के ललना हमरा अंगना में आई जी’ गीत पेश किया । सोनपुर के विश्व प्रसिद्ध हरिहर क्षेत्र मेला में लोगों को आने के लिए आमंत्रित करते हुए उन्होंने गाया-‘‘आग लागे सईंया जी तोहरी नौकरिया कि कईसे जइबे ना, सोनपुर के मेलवा में कइसे जइबे ना ।’ परिवार की महत्ता और परिवार में हर व्यक्ति की अलग अहमियत को रेखांकित करते हुए उन्होंने गाया- कोयल बिना बगिया ना शोभे राजा, भाई भतीजा बिना नईहरो ना शोभे देवर बिना अंगना ना शोभे राजा । किसान परिवारों की खुशी कृषि पर आधारित होती है । फसल पकने पर किसान महिलाओं की खुशी को रेखांकित करते हुए उन्होंने गाया ‘‘ धानी धानी रंगवा से, रंग ला चुनरियाय पाखी गइले अपना फसलिया,कि चल राजा करे ला कटनिया । शिव पार्वती विवाह के समय माता पार्वती की भावनाओं को प्रकट करता गीत डर लागई रे, हमरा डर लागई रे , अपने महादेव कोहवर में बैठे ला, भूत पिशाच सब नाच करेला। लोक गायिका डॉ. नीतू कुमारी नवगीत का संगत हारमोनियम पर राकेश कुमार, नाल पर मनोज कुमार सुमन, ऑक्टोपैड पर ओंकार नाथ तिवारी और कैसियो पर अभय कुमार ने संगत किया। सांस्कृतिक मंच पर डॉ. नीतू कुमारी नवगीत के अलावा अमर आनंद और ललन कुमार ने भी भक्ति गीत प्रस्तुत किए 

यह भी पढ़े  9 नवम्बर को राष्ट्रपति के प्रस्तावित कार्यक्रम को ले तैयारियों में जुटा प्रशासन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here