ओवैसी को भारतीय सेना ने दिया जवाब, ‘हम शहीदों को धर्म की नजर से नहीं देखते’

0
152

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी द्वारा जम्मू-कश्मीर में सैन्य शिविर पर आतंकवादी हमले में शहीद हुए मुसलमान सैनिकों सहित पांच कश्मीरी मुसलमानों के मारे जाने का हवाला दिए जाने के विवादित बयान पर भारतीय सेना ने जवाब दिया है. लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अन्‍बु ने बुधवार को कहा है ‘हम शहीदों को धर्म की नजर से नहीं देखते हैं’.

दुश्‍मन बौखलाया हुआ है- लेफ्टिनेंट जनरल अन्‍बु
लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अन्‍बु ने कहा, ‘जो ऐसे बयान देते हैं उन्‍हें सेना के बारे में जानकारी नहीं है.’ इसके अलावा उन्‍होंने आतंकवादी हमलों को लेकर कहा कि आतंकवाद को बढ़ावा मिलने के लिए सोशल मीडिया भी जिम्‍मेदार है. दुश्‍मन बौखलाया हुआ है. दुश्‍मन सीमा पर हारते हैं तो कैंप पर हमला करता है. युवाओं का आतंकी संगठनों में जाना चिंता की बात है. इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि जो हथियार उठाए और देश के खिलाफ हो वह आतंकी है. लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अन्‍बु ने कहा, ये सच है कि युवा आतंकी बन रहे हैं. 2017 में हमने आतंकियों के मुखिया को खत्‍म किया था.

यह भी पढ़े  तीन अक्‍टूबर को देश के अगले CJI के तौर पर शपथ लेंगे जस्टिस रंजन गोगोई

सुंजवान की घटना में पांच कश्मीरी मुसलमानों का भी बलिदान दिया- ओवैसी
उल्‍लेखनीय है कि एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने मंगलवार को जम्मू-कश्मीर के सुंजवान में आतंकी हमले में बलिदान देने वाले सेना के पांच जवानों का जिक्र किया और उन लोगों पर निशाना साधा, जो मुसलमानों की देशभक्ति पर सवाल खड़े करते हैं. ओवैसी ने कहा, ‘सुंजवान की घटना में पांच कश्मीरी मुसलमानों ने अपना बलिदान दिया है. आप इस बारे में बात क्यों नहीं कर रहे हैं?’ हैदराबाद से लोकसभा सदस्य ओवैसी ने आतंकी हमलों से ‘सबक नहीं सीखने’ को लेकर केंद्र सरकार की आलोचना भी की. ओवैसी ने कहा, ‘रात नौ बजे प्राइम टाइम बहस में शामिल होने वाले तथाकथित राष्ट्रवादी लोग मुसलमानों और कश्मीरी मुसलमानों के राष्ट्रवाद पर सवाल करते हैं.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here