एशियाई खेलों में निशानेबाजी में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली महिला खिलाड़ी राही

0
256

18वें एशियन गेम्स में भारत के प्रदर्शन में लगातार सुधार हो रहा है. हमने मेडल इवेंट के पहले दिन दो और दूसरे दिन तीन मेडल जीते. तीसरे दिन पांच मेडल जीत लाए. भारत के तीनों दिन के मेडल में एक-एक गोल्ड भी शामिल है. भारतीय खेलप्रेमी चौथे दिन यानी, बुधवार को भी अपने खिलाड़ियों बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद कर सकते हैं. इस दिन भारतीय खिलाड़ी शूटिंग, कुश्ती, वुशू, टेनिस, स्वीमिंग, तीरंदाजी, रोइंग, जिम्नास्टिक के अलावा हॉकी और वॉलीबॉल में उतरेंगे…

वुशू में भारत को चार ब्रॉन्ज मेडल
भारत के चार खिलाड़ी संतोष कुमार, सूर्य भानु प्रताप, नरेंद्र ग्रेवाल और रोशिबिना देवी वुशू के अलग-अलग इवेंट के सेमीफाइनल हार गए. इस तरह इन इवेंट में गोल्ड या सिल्वर जीतने की भारत की उम्मीद भी टूट गई. इन चारों खिलाड़ियों को अब ब्रॉन्ज मेडल मिलेगा. वुशू में हर इवेंट में चार-चार मेडल मिलते हैं. इनमें एक गोल्ड, एक सिल्वर और दो ब्रॉन्ज शामिल हैं.

टेनिस : पुरुष युगल के सेमीफाइनल में बोपन्ना-शरण
भारत के अनुभवी टेनिस खिलाड़ी रोहन बोपन्ना और दिविज शरण की जोड़ी ने टेनिस की पुरुष युगल स्पर्धा के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है. सेमीफाइनल में प्रवेश के साथ ही भारतीय जोड़ी ने अपने लिए एक पदक पक्का कर लिया है. बोपन्ना और शरण की जोड़ी ने क्वार्टर फाइनल मैच में एक घंटे और 16 मिनट तक चले मुकाबले में ताइवान की चेनपेंग सी और हुआ सुंग यांग के खिलाफ 6-3, 5-7, 10-1 से मात देकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया. पहले सेट में भारतीय टीम ने जीत हासिल की थी, लेकिन दूसरे सेट में ताइवान की जोड़ी ने वापसी की. ऐसे में टाई ब्रेकर सेट में भारतीय जोड़ी ने बाजी मरकर अंतिम-4 में कदम रख लिया.

कुश्ती : रेपचेज राउंड में हारकर पदक दौड़ से बाहर हरदीप
भारतीय पहलवान हरदीप सिंह पदक हासिल करने के लिए मिले दूसरे मौके में भी चूकते हुए कुश्ती प्रतियोगिता में 97 किलोग्राम रेपचेज राउंड-2 में हार गए. इस हार के कारण उनके लिए पदक हासिल करने की उम्मीद भी खत्म हो गई. हरदीप को रेपचेज राउंड-2 में उज्बेकिस्तान के पहलवान जाहोनगिर तुरदीव ने 6-1 से मात दी. तुरदीव ने पहले राउंड में भारतीय पहलवान के खिलाफ 3-0 से बढ़त बनाई. इसके बाद, दूसरे राउंड में हरदीप ने एक अंकल लेकर आगे बढ़ने की कोशिश की लेकिन जाहोनगीर ने तीन अंक लेते हुए 6-1 से जीत हासिल की.

हॉकी : भारत ने हांगकांग को 26-0 से शिकस्त दी
भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने अपने दमदार प्रदर्शन को जारी रखते हुए बुधवार को अपने दूसरे ग्रुप मुकाबले में हांगकांग को 26-0 से करारी शिकस्त दी. भारत ने अपने पहले ग्रुप मुकाबले में मेजबान इंडोनेशिया को 17-0 के भारी अंतर से मात दी थी. हांगकांग के खिलाफ भारत ने तेज शुरुआत की और फारवर्ड खिलाड़ी आकाशदीप ने दो मिनट अंदर ही पहला गोल करते हुए अपनी टीम को बढ़त दिला दी. एक मिनट बाद मनप्रीत सिंह ने भारत के लिए दूसरा गोल किया. शानदार शरुआत के बाद भारत ने तेज हाकी खेलना जारी रखा और पहले क्वार्टर में चार गोल और किए. रुपिंदर पाल सिंह ने पेनाल्टी कॉर्नर के माध्यम से दो और एस.वी सुनील एवं विवेक सागर ने एक-एक गोल दागा. दूसरे क्वार्टर में भारत ने आक्रामक खेल दिखाते हुए कुल आठ गोल दागे. मंदीप सिंह और ललित उपाध्याय ने दो-दो जबकि मनप्रीत, हरमनप्रीत सिंह, अमित रोहिदास और वरुण कुमार ने एक-एक गोल किया. भारतीय खिलाड़ियों ने दूसरे हाफ में भी गोल करना जारी रखा और कुल 12 गोल दागे.स्टार डिफेंडर हरमनप्रीत ने तीन और आकाशदीप, ललित एवं रुपिंदर ने दो-दो गोल दागे. इनके अलावा, दलप्रीत सिंह, चिंगलिंगसाना सिंह और सिमरनजीत सिंह ने एक-एक गोल किया. इस जीत के बाद भारत के छह अंक हो गए हैं और वह ग्रुप ए में भी शीर्ष पर काबिज है.

निशानेबाजी : महिलाओं की 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में राही को स्वर्ण
भारत की युवा महिला निशानेबाज राही जीवन सारनाबोत ने 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में स्वर्ण पदक अपने नाम किया. राही ने बेहद रोचक मुकाबले में थाईलैंड की नापशावान को शूटऑफ में 3-2 से हराया. दोनों खिलाड़ियों का स्कोर 34-34 से बराबर था. इसके बाद दो शूटऑफ में विजेता का फैसला निकला. राही एशियाई खेलों में निशानेबाजी में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली महिला खिलाड़ी हैं. यह राही का इस स्पर्धा में पहला स्वर्ण पदक है. दक्षिण कोरिया की किम मिनजुंग तीसरे स्थान पर रहकर कांस्य जीतने में सफल रहीं. भारत की ही मनु भाकर 16 का स्कोर कर छठे स्थान पर रहीं.

यह भी पढ़े  21वें राष्ट्रमंडल खेलों में आज भारत को तीन स्वर्ण , अब तक 20 स्वर्ण पदक भारते के झोली में

कुश्ती : बराबरी के बावजूद हारे हरदीप
अपने प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ स्कोर बराबर करने के बावजूद भारतीय पहलवान हरदीप को 97 किलोग्राम ग्रेकोरोमन कुश्ती स्पर्धा के क्वार्टर फाइनल में हार का सामना करना पड़ा। क्वार्टर फाइनल में हरदीप ने चीन के पहलवान डी शियाओ के खिलाफ 3-3 से बराबरी कर ली थी लेकिन चीनी पहलवान द्वारा पहले अंक लिए जाने के कारण हरदीप इस मुकाबले में हार गए। चीन के शियाओ ने पहले राउंड में ही तीन अंक हासिल कर लिए थे और इसके बाद हरदीप ने दूसरे राउंड में संघर्ष कर मुकाबले को 3-3 से बराबर किया था। भारतीय पहलवान ऐसे में पहले अंक नहीं ले पाए और उन्हें क्वार्टर फाइनल में हार मिली।

कुश्ती : 87 किग्रा ग्रेकोरोमन के सेमीफाइनल में हारे हरप्रीत
भारतीय पहलवान हरप्रीत सिंह को पुरुषों की 87 किलोग्राम ग्रेकोरोमन स्पर्धा के सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा. हरप्रीत को 2014 में हुए एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता और उज्बेकिस्तान के पहलवान रुस्तम असाकालोव ने टेक्निकल सुपरियोरिटी में 10-0 से हराया. रुस्तम ने केवल 38 सेकेंड में ही हरप्रीत पटक कर पलटते हुए 10 अंक हासिल किए और फाइनल में प्रवेश किया. ऐसे में हरप्रीत अब कांस्य पदक के लिए संघर्ष करेंगे.

कुश्ती : हरप्रीत 87 किग्रां ग्रेको-रोमन के सेमीफाइनल में
केवल एक मिनट और 30 में टेक्निकल सुपिरियोरिटी के दम पर अपना मुकाबला समाप्त करते हुए कुश्ती में पुरुषों की 87 किलोग्राम ग्रेको-रोमन स्पर्धा के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है. हरप्रीत ने क्वार्टर फाइनल में जापान के मसातो सुमी को 8-0 से मात दी. हरप्रीत ने अपने प्रतिद्वंद्वी को पटखनी देते हुए सेमीफाइनल की राह तय की है. सेमीफाइनल में हरप्रीत का सामना उज्बेकिस्तान के रुस्तम असाकालोव से होगा.

कुश्ती : 77 किग्रा ग्रेकोरोमन के क्वार्टर फाइनल में हारे गुरप्रीत
भारतीय पहलवान गुरप्रीत सिंह कड़े संघर्ष के बावजूद कुश्ती की 77 किलोग्राम ग्रेकोरोमन स्पर्धा के क्वार्टर फाइनल में हार गए. ईरान के पहलवान मोहम्मदली गेराई ने गुरप्रीत को 8-6 से मात दी. हरप्रीत प्री-क्वार्टर फाइनल के पहले राउंड में केवल दो ही अंक जुटा सके, वहीं ईरान के पहलवान ने उन्हें पटखनी देते हुए आठ अंक हासिल किए. दूसरे राउंड में गुरप्रीत ने अपनी दबदबा बनाया और मोहम्मदली को एक भी अंक नहीं लेने दिया और चार अंक बटोरे लेकिन वह जीत से दो अंक दूर रह गए और इस कारण उन्हें 6-8 से हार मिली.

जिमनास्टिक : चोट के कारण फाइनल से बाहर दीपा
भारत की स्टार जिमनास्ट दीपा करमाकर घुटने की चोट के कारण आर्टिस्टिक टीम स्पर्धा के फाइनल में भाग नहीं लेंगी. दीपा को प्रशिक्षण के दौरान घुटने में चोट लगी. चोट काफी समय से दीपा की परेशानी रही है और इसी कारण वह आस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में हुए 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में भी भाग नहीं ले पाई थी. दीपा को यहां पोडियम प्रैक्टिस के दौरान चोट लगी, जिसके कारण उन्होंने आर्टिस्टिक टीम स्पर्धा के फाइनल में हिस्सा न लेने का निर्णय लिया है. हालांकि, वह बीम स्पर्धा के फाइनल में भाग ले सकती हैं.

कुश्ती : 130 ग्रेकोरोमन के क्वार्टर फाइनल से बाहर नवीन
भारतीय पहलवान नवीन को कुश्ती में पुरुषों की 130 किलोग्राम ग्रेकोरोमन स्पर्धा में हार मिली है. स्पर्धा के प्री-क्वार्टर फाइनल में चीन के पहलवान मेंग लिंगझे ने नवीन को 4-1 से मात दी.
चीन के पहलवान ने पहले फायदा उठाते हुए नवीन के खिलाफ एक अंक लेकर बढ़त बनाई. इसके बाद, दूसरे राउंड में नवीन ने भी एक अंक लेकर स्कोर 1-1 से बराबर किया. इस बीच चीन के पहलवान ने नवीन को रिंग के दायरे से बाहर कर तीन अंक हासिल किए और अंत में 4-1 से जीत हासिल की. इस हार के कारण नवीन क्वार्टर फाइनल में नहीं पहुंच सके हैं, लेकिन अगर उनके प्रतिद्वंद्वी मेंग फाइनल में पहुंचते हैं तो भारतीय पहलवान की रीपचेज खेलने का मौका मिलेगा.

यह भी पढ़े  पुलिस बहाली मामले में रोज होगी सुनवाई

नौकायन : रेपचेज में भारत का अच्छा प्रदर्शन
भारतीय खिलाड़ियों ने नौकायन के रेपचेज राउंड में शानदार प्रदर्शन करते हुए तीन स्पर्धाओं के फाइनल में प्रवेश किया. पुरुष खिलाड़ियों ने लाइटवेट डबल स्कल्स और लाइटवेट ऐट स्पर्धा जबकि महिलाओं ने वुमेन फोर स्पर्धा के फाइनल में जगह बनाई. पुरुष लाइटवेट डबल स्कल्स स्पर्धा में रोहित कुमार एवं भगवान सिंह ने दमदार प्रदर्शन किया और 7 मिनट 14.23 सेकेंड का समय निकालते हुए पहले पायदान पर रहे. लाइटवेट ऐट स्पर्धा में भी भारतीय टीम पहले पयदान पर रही. भारत के आठों खिलाड़ियों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया और 6 मिनट 15.62 सेकेंड के समय के साथ पहले पायदान पर रहते हुए फाइनल में प्रवेश किया. वुमेन फोर स्पर्धा में भारतीय महिलाओं का प्रदर्शन दमदार नहीं रहा लेकिन वह चौथे पायदान पर रहते हुए फाइनल में जगह बनाने में कामयाब रही. भारतीय टीम ने 7 मिनट 53.29 सेकेंड में रेस पूरी की.

कुश्ती : 77 किग्रा ग्रेकोरोमन स्पर्धा के क्वार्टर फाइनल में गुरप्रीत
टेक्निकल सुपिरियोरिटी के दम पर भारतीय पहलवान गुरप्रीत सिंह ने कुश्ती प्रतियोगिता के 77 किलोग्राम ग्रेको-रोमन स्पर्धा के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है. गुरप्रीत ने प्री-क्वार्टर फाइनल में थाईलैंड के अपिचाई नातल को 9-0 से मात दी. भारतीय पहलवान ने पहले ही राउंड में अपिचाई को पटखनी देकर पलटते हुए सीधे 9 अंक हासिल किए. इस मुकाबले को दो मिनट और चार सेकेंड में समाप्त कर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया. क्वार्टर फाइनल में गुरप्रीत का सामना ईरान के पहलवान मोहम्मदली गेरेई से होगा.

तीरंदाजी : महिला कंपाउंड टीम क्वार्टर फाइनल में
भारतीय महिला तीरंदाजी टीम ने अपना अच्छा प्रदर्शन जारी रखते हुए तीरंदाजी में महिला कंपाउंड टीम स्पर्धा के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है. तृशा देब, ज्योति सुरेखा, मुस्कान किरार और मुधमिता कुमारी की भारतीय टीम ने 2085 अंक हासिल करते हुए क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई है. भारतीय टीम ने रैंकिंग राउंड में भारतीय टीम ने दूसरा स्थान हासिल किया है.

कुश्ती : 87 किग्रां ग्रेको-रोमन वर्ग के क्वार्टर फाइनल में हरप्रीत
भारतीय पहलवान हरप्रीत सिंह ने अच्छा प्रदर्शन कर पुरुषों की 87 किलोग्रां ग्रेको-रोमन स्पर्धा के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है. हरप्रीत ने प्री-क्वार्टर फाइनल में दक्षिण कोरिया के हीज्यून पार्क को 4-1 से मात दी. पहले राउंड में हरप्रीत ने दक्षिण कोरियाई पहलवान को पटकते हुए 2-0 की बढ़त बनाई. हीज्यून अच्छा डिफेंस कर रहे थे. ऐसे में हरप्रीत के लिए अधिक अंक लेना मुश्किल था.अपनी क्षमता को बनाए रखते हुए हरप्रीत ने अटैक बरकरार रखा और दूसरे राउंड में भी दो अंक हासिल कर अंत में 4-1 से जीत कर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई. क्वार्टर फाइनल में हरप्रीत का सामना जापान के पहलवान मसातो सुमी से होगा.

टेनिस : पुरुष एकल के प्री-क्वार्टर फाइनल में हारे रामकुमार
भारतीय पुरुष टेनिस खिलाड़ी रामकुमार रामानाथन टेनिस प्रतियोगिता के पुरुष एकल वर्ग प्री-क्वार्टर फाइनल में निराशा हाथ लगी. रामकुमार को पुरुष एकल वर्ग के प्री-क्वार्टर फाइनल में उज्बेकिस्तान के जुराबेक कारिमोव ने मात दी. रामानाथन को जुराबेक ने 6-3, 4-6, 3-6 से हराकर टूर्नामेंट से बाहर का रास्ता दिखा दिया.

रोवर्स भगवान सिंह और रोहित कुमार लाइटवेट डबल स्क्ल्स फाइनल में
भारतीय रोवर्स रोहित कुमार और भगवान सिंह एशियाई खेलों में पुरूषों के लाइटवेट डबल स्कल्स के रेपेचेज राउंड में शीर्ष पर रहे. इस भारतीय जोड़ी ने सात मिनट 12.23 सेकेंड का समय निकाला. उन्होंने मुख्य ए फाइनल के लिए क्वालीफाई किया और अब पदक के लिए अपना दावा पेश करेंगे. भगवान सिंह और रोहित कुमार हीट एक रेपेचेज में शीर्ष पर रहे थे.

निशानेबाजी : 50 मीटर राइफल-3 पोजीशन फाइनल से बाहर अंजुम, गायत्री
भारतीय महिला निशानेबाज अंजुम मोदगिल और गायत्री नित्यानंदम महिलाओं की 50 मीटर राइफल-3 पोजिशन निशानेबाजी स्पर्धा के फाइनल से बाहर हो गईं. अंतिम सूची में अंजुम को नौवां और गायत्री को 17वां स्थान हासिल हुआ. इसके साथ ही इस स्पर्धा में भारत के लिए पदक की आस समाप्त हो गई है. क्वालिफिकेशन में अंजुम शुरुआत में अच्छा प्रदर्शन कर रहीं थी लेकिन वह अपनी इस लय को बरकरार नहीं रख पाईं और क्वालीफाई करने से एक कदम दूर रह गईं. उन्होंने 1159 अंक हासिल कर नौवां स्थान हासिल किया. फाइनल के लिए शीर्ष-8 में जगह बना पाने में अंजुम केवल दो अंकों से चूक गईं. इसके अलावा गायत्री ने क्वालिफिकेशन में 1148 अंक हासिल किए और 17वें स्थान पर रहीं.

यह भी पढ़े  कृषकों के लिए आधुनिक कृषि पद्धतियों को सरकार बना रही सुलभ

टेनिस : महिला एकल के सेमीफाइनल में अंकिता
चार साल की उम्र में टेनिस कोर्ट पर कदम रखने वाली भारतीय खिलाड़ी अंकिता रैना ने अच्छा प्रदर्शन जारी रखते हुए महिला एकल वर्ग के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है. अंकिता ने क्वार्टर फाइनल मुकाबले में हांगकांग की यूडीस वोंग चोंग को मात दी. पिछली बार 2014-इंचियोन में हुए एशियाई खेलों में महिला एकल के अंतिम-16 दौर के बाद बाहर होने वाली अंकिता ने इस बार सेमीफाइनल में कदम रखा है. अंकिता ने एक घंटे और 21 मिनट तक चले मुकाबले में यूडीस को सीधे सेटों में 6-4, 6-1 से मात देकर पदक पक्का कर लिया है. पहले सेट की शुरुआत में अंकिता को हांगकांग की खिलाड़ी के खिलाफ 1-4 से पिछड़ते देखा जा रहा था लेकिन उन्होंने शानदार वापसी करते हुए इसे 6-4 से अपने नाम किया. दूसरे सेट में अंकिता ने पूरी तरह से अपना दबदबा बनाते हुए 6-1 से जीत कर अंतिम-4 की राह बनाई.

निशानेबाजी : 25 मीटर पिस्टल के फाइनल में मनु, राही
भारत की किशोर निशानेबाज मनु भाकर और राही जीवन सार्नोबत ने अपना अच्छा प्रदर्शन कर यहां जारी 18वें एशियाई खेलों में बुधवार को महिलाओं की 25 मीटर पिस्टल निशानेबाजी स्पर्धा के फाइनल में क्वालीफाई कर लिया है. मनु ने प्रिसिशन में 297 अंकों के साथ पहला और रैपिड में 593 अंकों के साथ पहला स्थान हासिल किया. इसके साथ ही उन्होंने इस स्पर्धा का गेम रिकॉर्ड भी तोड़ा. राही ने प्रिसिशन में 288 अंकों के साथ सातवां स्थान हासिल किया. वहीं रैपिड में उन्हें 580 अंकों के साथ सातवां स्थान ही हासिल हुआ.

तैराकी में 4X100 मीटर फ्रीस्टाइल रिले फाइनल में भारत
भारतीय पुरुष टीम ने पुरुषों की 4 गुणा 100 मीटर फ्रीस्टाइल रिले स्पर्धा के फाइनल में प्रवेश कर लिया है. एरोन एंजेल डिसूजा, अंशुल कोठारी, सजन प्रकाश और विर्धावल खड़े की टीम ने अंतिम सूची में आठवां स्थान हासिल कर फाइनल के लिए क्वालीफाई किया. भारतीय पुरुष टीम ने हीट-1 में 3 मिनट और 25.17 सेकेंड का समय लेकर पहला स्थान हासिल किया था. फाइनल मुकाबला आज शाम साढ़े पांच बजे होगा.

तैराकी : 100 मीटर बटरफ्लाई के फाइनल से बाहर सजन, मणि
भारत के सजन प्रकाश और मणि अविनाश बुधवार (22 अगस्त) को यहां जारी 18वें एशियाई खेलों में पुरुषों की 100 मीटर बटरफ्लाई तैराकी स्पर्धा के फाइनल में जगह नहीं बना पाए. सजन को अंतिम सूची में 12वां, वहीं मणि को 26वां स्थान हासिल हुआ. इस स्पर्धा के हीट-1 में हालांकि, मणि ने अच्छा प्रदर्शन करते हुए 56.98 सेकेंड का समय लेकर पहला स्थान हासिल किया था. इसके अलावा, सजन ने भी हीट-2 में 54.06 सेकेंड का समय लेकर पहले स्थान पर कब्जा जमाया था लेकिन दोनों भारतीय तैराक फाइनल में प्रवेश नहीं कर पाए.

भारतीय महिला हॉकी टीम ने चार खिलाड़ियों की हैट्रिक की बदौलत कजाखस्तान को 21-0 से हराकर लगातार दूसरी जीत दर्ज की. ग्रुप बी के इस मैच में भारत की 10 खिलाड़ियों ने गोल किए.वुशु में भी भारत ने कम से कम चार पदक पक्के किए. एक को छोड़कर भारत के सभी खिलाड़ी सेमीफाइनल में जगह बनाने में सफल रहे.

पांच भारतीय सेंडा स्पर्धा के विभिन्न वर्ग में चुनौती पेश करने उतरे और उनमें से चार ने जीत के साथ पदक पक्का किया. नाओरेम रोशिबिनी देवी, संतोष कुमार, सूर्य भानु प्रताप सिंह और नरेंदर ग्रेवाल ने पदक पक्का किया.

दत्तू बब्बन भोकानल ने पुरुष एकल स्कल्स के फाइनल राउंड में जगह बनाई जबकि पुरुष लाइटवेट फोर टीम भी रोइंग में खिताबी मुकाबले में जगह बनाने में सफल रही.

भारत की महिला और पुरूष कबड्डी टीमों ने भी जीत दर्ज करके सेमीफाइनल में जगह सुरक्षित की. पुरूष टीम ने दक्षिण कोरिया से 23-24 से मिली हार से उबरते हुए ग्रुप ए के अपने चौथे और अंतिम मैच में थाइलैंड को 49-30 से हराया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here