एनडीए की परीक्षा आज, तैयारियां पूरी

0
23

संघ लोक सेवा आयोग, नई दिल्ली द्वारा नेशनल डिफेंस एकेडमी एंड नेवल एक्जामिनेशन रविवार को राजधानी में विभिन्न परीक्षा केन्द्रों पर आयोजित की जा रही है। इसकी तैयारियों को लेकर पटना प्रमंडलीय आयुक्त रॉबर्ट एल चोंग्थू की अध्यक्षता में श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में बैठक की गई, जिसमें परीक्षा से संबंधित संयुक्त ब्रीफिंग की गई। पटना प्रमंडलीय आयुक्त श्री चोंग्थू ने कहा कि संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित इस परीक्षा को स्वच्छ, कदाचार मुक्त एवं शांतिपूर्ण सफल संचालन के लिए ‘‘जोनल दण्डाधिकारी-सह-सहायक समन्वय पर्यवेक्षक’ एवं ‘‘स्थानीय निरीक्षण अधिकारी’ तथा ‘‘स्टैटिक दंडाधिकारी-सह-सहायक पर्यवेक्षक’ की प्रतिनियुक्ति पुलिस बल के साथ की गई है। इसकी परीक्षा पटना केन्द्र के 90 उप केन्द्रों पर दो पाली में यथा-10.00 बजे सुबह से 12.30 बजे अपराह्न एवं 02.00 बजे अपराह्न से 04.30 बजे अपराह्न तक आयोजित किया जायेगा। आयुक्त ने कहा कि अखिल भारतीय स्तर पर आयोजित की जाने वाली परीक्षा की महत्ता एवं गरिमा को ध्यान में रखते हुए विधि-व्यवस्था बनाए रखने एवं कदाचार मुक्त परीक्षा संचालन के उद्देश्य से प्रत्येक परीक्षा उप केन्द्रों पर एक स्थानीय निरीक्षण अधिकारी (ग्रुप बी एवं उच्च स्तर के राजपत्रित पदाधिकारी) की प्रतिनियुक्ति की गई है। साथ ही प्रत्येक परीक्षा उप केन्द्र पर एक स्टैटिक दंडाधिकारी-सह-सहायक पर्यवेक्षक की प्रतिनियुक्ति पुलिस बल के साथ परीक्षा प्रारंभ होने के दो घंटा पूर्व यानि 08.00 बजे पूर्वाह्न से की गई है। प्रत्येक परीक्षा उप केन्द्र पर परीक्षार्थी के फ्रीसकिंग के लिए पांच पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति अलग से की गई है। उन्होंने बताया कि सभी स्थानीय निरीक्षण अधिकारी, केन्द्राधीक्षक को उपलब्ध कराये जा रहे टेस्ट बुकलेट्स से संबंधित मुहरबंद बक्से का मिलान उस पर अंकित विवरणी के अनुरूप करेंगे एवं इस संबंध में कोई त्रुटि पाये जाने पर आयुक्त कार्यालय, पटना प्रमंडल, पटना अवस्थित कंट्रोल रूम में सूचना देंगे।प्रमंडलीय आयुक्त ने कहा कि संघ लोक सेवा आयोग के प्रसंग में परीक्षा हॉल/परीक्षा केन्द्र के परिसर में मोबाईल फोन प्रतिबंधित है। ऐसे में, परीक्षा में किसी भी परीक्षार्थी को मोबाईल फोन, पेजर या अन्य प्रकार के किसी संवाद उपकरण परीक्षा भवन में ले जाने की अनुमति नहीं दी जायेगी। नियम का उल्लंघन करने पर संबंधित परीक्षार्थी के विरूद्ध अनुशासनिक कार्रवाई करते हुए भविष्य में आयोग द्वारा आयोजित होने वाली परीक्षाओं से भी वंचित कर दिया जायेगा। साथ ही परीक्षा केन्द्र में पर्यवेक्षक, सहायक पर्यवेक्षक, वीक्षक एवं परीक्षा से जुड़े कर्मी को भी परीक्षा हॉल/कमरे में मोबाइल फोन या अन्य प्रकार के किसी संवाद उपकरण को अंदर ले जाने की अनुमति नहीं है। साथ ही किसी भी परीक्षार्थी को किसी भी परिस्थति में परीक्षा प्रारंभ होने के 10 मिनट पूर्व यानि प्रथम पाली 09.50 बजे पूर्वाह्न एवं द्वितीय पाली 01.50 बजे अपराह्न के बाद परीक्षा उपकेन्द्र के परिसर में प्रवेश की एवं उपस्थित परीक्षार्थी को परीक्षा समाप्ति पूर्व परीक्षा हॉल/कमरा छोड़ने की अनुमति नहीं दी जायेगी। ई-प्रवेश पत्र में उल्लेखित स्थान को छोड़कर परीक्षार्थी को किसी अन्य स्थान पर परीक्षा में सम्मिलित होने की अनुमति नहीं दी जायेगी। परीक्षा अवधि में स्थानीय निरीक्षण अधिकारी लगातार परीक्षा हॉल/कमरों का निरीक्षण करते रहेंगे तथा वीक्षकों के कत्र्तव्य निर्वहन पर भी सतत् निगरानी रखेंगे। प्रत्येक पाली की परीक्षा समाप्ति के तुरन्त बाद, वीक्षक द्वारा केन्द्राधीक्षक को लौटाये गये उत्तर पुस्तिकाओं/पत्रकों का पैकिंग अपनी उपस्थिति में करवाना सुनिश्चित करेंगे। इस प्रक्रिया में कोई त्रुटि पाये जाने पर संबंधित के विरूद्ध अनुशासनिक कार्रवाई की जायेगी। मौके पर जिलाधिकारी कुमार रवि ने बताया कि 90 परीक्षा उपकेन्द्र के लिए 30 जोन निर्धारित किये गये है। परीक्षा केन्द्र पर टेस्ट बुकलेट्स पहुंचाने के लिए 30 जोनल दंडाधिकारी-सह-सहायक समन्वय पर्यवेक्षक की प्रतिनियुक्ति पुलिस पदाधिकारी एवं सशस्त्र पुलिस बलों के साथ की गई है। इस अवसर पर आयुक्त, पटना प्रमंडल, पटना आरएल चोंग्थू के अलावा संघ लोक सेवा आयोग के एडिशनल सेक्रेटरी धनंजय कुमार जिलाधिकारी कुमार रवि, वरीय पुलिस अधीक्षक गरिमा मलिक, नगर पुलिस अधीक्षक प्राणतोष कुमार दास, संघ लोक सेवा आयोग के पदाधिकारी सुनील कुमार, आयुक्त के सचिव कृत्यानन्द सिंह, सचिव, क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकार आदि थे। पटना सुशील कुमार, अपर समाहत्र्ता विधि-व्यवस्था कृष्ण कन्हैया प्रसाद सिंह सहित सभी संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।

यह भी पढ़े  कांग्रेस ने गांधी व शास्त्री को श्रद्धा से किया याद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here