उपवास से पहले पीएम मोदी ने विपक्ष को सुनाई खरी-खरी, बोले-लोकतंत्र का गला घोंटा जा रहा है

0
10

विपक्षी पार्टियों द्वारा संसद में जारी गतिरोध के विरोद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को उपवास रखने वाले है. अपने उपवास से एक दिन पहले पीएम ने बीजेपी के सभी सांसदों और विधायकों से फोन पर बात की. पीएम मोदी ने पार्टी के सभी सांसदों और विधायकों से अपने-अपने इलाकों में उपवास रखने के लिए कहा है. प्रधानमंत्री ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए अपने सांसदों और विधायकों से कहा है कि लोकतंत्र का गला घोंटने वालों के खिलाफ कल उपवास करें. पीएम मोदी ने कहा कि सत्ता भोग की वजह से लोकतंत्र का गला घोंटा जा रहा है.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ऐलान किया है कि वह दिन के अपने सभी कामकाजों के साथ-साथ उपवास करेंगे. पीएम मोदी ने कहा, ‘जिन लोगों को 2014 में सत्ता नहीं मिली, वह नहीं चाहते है कि देश आगे बढ़े. वह नहीं चाहते है कि संसद एक दिन भी चले, उन्होंने लोकतंत्र की हत्या कर दी है और हम उनके अपराध दुनिया के सामने लाने के लिए उपवास करेंगे. मैं भी उपवास पर रहूंगा, लेकिन अपना कामकाज करता रहूंगा.’

इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने जन प्रतिनिधियों से केंद्र सरकार की योजनाओं को जन जन तक पहुंचाने और उनकी सफलता को बताने के लिए भी कहा. पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार का उद्देश्य है कि गांव जितना मजबूत होगा, न्यू इंडिया भी उतना ही मजबूत होगा और ऐसे में उन्हें गांव..गांव जाकर ‘न्यू इंडिया’ को सफल बनाना सुनिश्चित करना चाहिए.

यह भी पढ़े  कांग्रेस में आज से राहुल युग की शुरुआत,दिल्ली में पार्टी मुख्यालय पर जश्न का माहौल

मोदी ने कहा कि देश में शिक्षा, भाईचारा, महिलाओं का सम्मान, गांव और गरीब का उत्थान हो और गंदगी और बीमारी से मुक्त हो. साथ ही देश सामाजिक न्याय के पथ पर आगे बढ़ते हुए आत्मनिर्भर और सशक्त बने. उन्होंने कहा, ‘‘ हमारे गांव जितने मजबूत होंगे, न्यू इंडिया भी उतना ही मजबूत होगा. ग्रामीण परिवेश की इतनी बड़ी आबादी का जीवन स्तर ऊपर उठेगा तो अपने आप देश विकास के रास्ते पर चल पड़ेगा.’’

प्रधानमंत्री ने बीजेपी के सभी जन प्रतिनिधियों को देश और समाज को जोड़ने के इस अभियान को सफल बनाने के लिए गांव-गांव जाकर सरकारी योजनाओं का लाभ गांव, गरीब और किसान को मिलना सुनिश्चित करने को कहा. प्रधानमंत्री ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी के सांसदों, विधायकों से आडियो ब्रिज के माध्यम से संवाद के दौरान कहा, ‘‘ संसद को बंधक बना कर जिन्होंने लोकतंत्र का गला घोंटने का अपराध किया और राजनैतिक अहंकार एवं सत्ता की भूख से प्रेरित होकर देश को आगे नहीं बढ़ने दिया और संसद को चलने नहीं दिया…. हम उन मुट्ठीभर लोगों की मानसिकता को देश के लोगों के समक्ष उजागर करेंगे.’’

यह भी पढ़े  अयोध्या विवाद: बाबरी मस्जिद विध्वंस के 25 साल पूरे

उन्होंने कहा कि 12 अप्रैल को बीजेपी के सभी जनप्रतिनिधि और कार्यकर्ता देश भर में उपवास करेंगे. बीजेपी के जनप्रतिनिधियों के साथ संवाद के दौरान प्रधानमंत्री ने 14 अप्रैल से पांच मई तक आयोजित होने वाले ग्राम स्वराज अभियान का जिक्र किया और कहा कि 14 अप्रैल को छत्तीसगढ़ के बीजापुर से इस अभियान में जुड़ेंगे. प्रधानमंत्री ने अपने संवाद के दौरान महात्मा गांधी, महान समाज सुधारक ज्योतिबा फूले, बाबा साहब भीम राव अंबेडकर को याद किया .

उन्होंने कहा कि आज देश के महान समाज सुधारक ज्योतिबा फूले का जन्म दिवस है जिन्होंने गुलामी की बेड़ियों और समाज की विकृत रुढियों की बेड़ियों में बंधे हुए समाज की संवेदनाओं को झकझोरने का प्रयास किया और सामाजिक बुराइयों से लड़ने के लिए शिक्षा और महिला सशक्तिकरण का बीड़ा उठाया था. उन्होंने कहा कि बाबासाहब डॉ भीमराव अंबेडकर और महात्मा गांधीजी के ग्राम स्वराज के सपनों को साकार करने के लिए बीजेपी-नीत केंद्र सरकार निरंतर प्रयास कर रही है .

यह भी पढ़े  NPA है UPA का सबसे बड़ा घोटाला :मोदी

प्रधानमंत्री ने ऑडियो ब्रिज संवाद के दौरान कहा कि 18 अप्रैल को स्वच्छ भारत पर्व मनाया जायेगा. सभी जनप्रतिनिधि को स्वच्छता अभियान से जुड़़ने को कहा .मोदी ने पार्टी के जन प्रतिनिधियों को देश भर में 20 अप्रैल को उज्ज्वला दिवस, 24 अप्रैल को पंचायती राज दिवस, 28 अप्रैल को ग्राम शक्ति अभियान, 30 अप्रैल को आयुष्मान भारत दिवस, 2 मई को किसान कल्याण कार्यशाला के आयोजन, 5 मई को श्रमिक समाज के लिए कौशल विकास मेलों का आयोजन किये जाने के कार्यक्रम की जानकारी दी और उनसे इन कार्यक्रमों में सक्रियता से भाग लेने को कहा .

उज्ज्वला दिवस के अवसर पर देश के महत्वपूर्ण गांवों में एलपीजी पंचायतें बुलाई जायेंगी और नए गैस कनेक्शन दिए जायेंगे. 24 अप्रैल को देश भर में पंचायती राज दिवस पर प्रधानमंत्री स्वयं जबलपुर में महाकौशल क्षेत्र के आसपास रहेंगे. प्रधानमंत्री ने जन प्रतिनिधियों से कहा कि 22 अप्रैल को वे नरेन्द्र मोदी एप के माध्यम से ग्राम स्वराज अभियान के सन्दर्भ में देश भर के बीजेपी जनप्रतिनिधियों और कार्यकर्ताओं से विडियो संवाद भी करेंगे. ऑडियो ब्रिज में प्रधानमंत्री के साथ बीजेपी के जनप्रतिनिधियों ने आकांक्षी जिलों और किसान और कृषि के कल्याण के बारे में संवाद किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here