ईडी ने पूर्व मुख्य इंजीनियर की 15 करोड़ की संपत्ति जब्त की, इधर गैंगस्टर की भी 10 करोड़ की संपत्तियां जब्त

0
78
ईडी ने सोमवार को मुजफ्फरपुर  में सिंचाई विभाग के एक पूर्व मुख्य  इंजीनियर अवधेश प्रसाद सिंह व समस्तीपुर में  बिथान के मुखिया अशोक यादव की संपत्तियां जब्त कर ली. पूर्व मुख्य  इंजीनियर अवधेश प्रसाद सिंह की 15  करोड़ रुपये (दस्तोवजी मूल्य) की  संपत्तियां जब्त की गयी हैं. इन संपत्तियों का  बाजार मूल्य इससे 10 गुना ज्यादा है.
बयान में कहा गया है कि इन  संपत्तियों का अधिग्रहण  मूल्य  1.67 करोड़ रुपये है. इसमें कहा गया है कि  आदेश के तहत पटना के शिवपुरी में 12 कट्ठे में बना दोमंजिला आलीशान बंगला  और इसकी कुछ दूरी पर ही दो प्लाॅट, समस्तीपुर में पांच प्लाॅट और 50 लाख  नकद और ढाई लाख से ज्यादा के आभूषणों को कुर्क किया गया. इसके अलावा  बेंगलुरु में दो प्लॉट हैं.
ईडी ने  बिहार विशेष सतर्कता इकाई (एसवीयू) की  एक शिकायत के आधार पर सिंह के खिलाफ  पीएमएलए के तहत एक मामला दर्ज किया  था. एजेंसी ने कहा कि सिंह ने एक  जनवरी,1980 से 21 दिसंबर, 2007 की अवधि  के दौरान विभिन्न पदों पर तैनात  रहते हुए अपने नाम और अपने परिवार के  सदस्यों के नाम पर बहुत अधिक  संपत्तियां एकत्र की. ईडी ने कहा कि सिंह ने  बेंगलुरु में अपने बेटे के  नाम पर कथित रूप से कुछ अचल संपत्तियां भी  हासिल कीं.
ईडी ने जांच में यह पाया है कि इनके और इनके परिवार के सदस्यों  के संबंध एक ठेकेदार श्याम बिहारी और मेसर्स हरि माधव डेवलपर्स के साथ भी  हैं. इनके साथ जमीन के धंधे में इनका काफी निवेश का पता चला है. इस मामले  की जांच ईडी कर रही है. मालूम हो कि अवधेश कुमार सिंह लंबे समय तक बिहार इंजीनियर एसोसिएशन के अध्यक्ष भी रहे हैं.
गैंगस्टर की 10 करोड़ की संपत्तियां जब्त
बिहार के एक गैंगस्टर की कुर्क करने का आदेश दिया है. जांच एजेंसी वहीं धनशोधन  के एक मामले में ईडी ने समस्तीपुर में  बिथान के मौजूदा मुखिया अशोक यादव की 10 करोड़ रुपये मूल्य की  संपत्तियां जब्त की हैं.
एजेंसी ने एक बयान में कहा कि बिहार पुलिस ने हत्या, हत्या के प्रयास,  उगाही और अवैध हथियारों व विस्फोटकों के लेन- देन के आरोपों में अशोक के  खिलाफ 26 प्राथमिकियां दर्ज की थीं और इनके आधार पर उसके खिलाफ पीएमएलए के तहत  एक मामला दायर किया गया. हाल के आदेश के तहत ईडी ने पटना के रूकनपुरा में  2100 वर्गफुट में उसकी पत्नी विभा देवी के नाम पर बना घर, 25 प्लॉट और चार लाख  रुपये की बैंक राशि जब्त की है.
जब्त प्लॉट में फुलवारीशरीफ में उसके पिता  राजेंद्र यादव व साली अहिल्या देवी के नाम पर एक-एक प्लॉट और  समस्तीपुर के बिथान में पत्नी विभा देवी के नाम पर सात प्लॉट, अपने नाम पर एक प्लॉट,  पिता के नाम पर 11 प्लॉट, साली अहिल्या देवी के नाम पर दो प्लॉट व  भाई  वीरेंद्र यादव के नाम पर दो प्लॉट शामिल हैं.बयान में कहा गया है कि कुर्क  की गयी संपत्तियों का कुल मूल्य लगभग 75 लाख रुपये है. यह अधिग्रहण की तिथि  पर लिया गया मूल्य है.
इन संपत्तियों का दस्तावेजी मूल्य 10 करोड़ रुपये से  अधिक है. एजेंसी ने कहा कि उसकी जांच में पाया गया कि अशोक ने अपने नाम और  अपने परिवार के सदस्यों के नाम पर काफी संपत्तियां एकत्र कीं, जो उसके  द्वारा किये गये आपराधिक कृत्यों से अर्जित की गयी.
यह भी पढ़े  कुल जीडीपी का 20 फीसद कृषि पर खर्च करेगी सरकार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here