इमरान खान को ईस्टर्न इकनॉमिक फोरम (EEF) में हिस्सा लेने के न्योता नहीं

0
11

इस्लामाबाद: रूस ने यह साफ कर दिया कि पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान को ईस्टर्न इकनॉमिक फोरम (EEF) में हिस्सा लेने के न्योता नहीं दिया गया है। इसके बाद पाकिस्तान को भारी शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा है, क्योंकि पाकिस्तानी मीडिया में इस खबर को जोर-शोर से दिखाया जा रहा था कि इमरान को रूस ने खासतौर पर आमंत्रित किया है। पाकिस्तान ने मीडिया में आई इन खबरों को ‘अटकलें’ करार दिया कि प्रधानमंत्री इमरान खान रूस में ईस्टर्न इकनॉमिक फोरम में हिस्सा लेंगे। आपको बता दें कि बिश्केक में हुए शंघाई शिखर सम्मेलन के दौरान इमरान और रूसी राष्ट्रपति पुतिन की ‘करीबी’ को पाकिस्तानी मीडिया ने जोर-शोर से दिखाया था।

पाकिस्तान को ज्यादा शर्मिंदगी इस बात की भी हुई कि एक तरफ जहां इमरान को EEF में हिस्सा लेने के लिए न्योता तक नहीं गया है, वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इसमें बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया गया है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने 4 सितंबर से 6 सितंबर तक व्लादिवोस्तोक शहर में आयोजित होने जा रहे EEF में मोदी को खासतौर पर बतौर मुख्य अतिथि बुलाया है। आपको बता दें कि बीते कुछ महीनों से पाकिस्तान और रूस के संबंधों में काफी तरक्की होती हुई दिख रही थी, लेकिन इस हालिया घटनाक्रम से दोनों देशों के रिश्तों के बारे में तमाम तरह की अटकलें लगने लगी हैं।

यह भी पढ़े  ऑस्ट्रेलिया में भारतीय महिला फुटबॉल खिलाड़ी की डूबने से मौत

पाकिस्तान ने दी ‘अटकलों’ पर सफाई
पाकिस्तानी मीडिया में कहा जा रहा था कि पिछले महीने बिश्केक में हुए शंघाई सहयोग संगठन शिखर सम्मेलन के इतर इमरान और पुतिन की बातचीत के दौरान यह न्योता मिला था जिसे पाकिस्तानी पीएम ने स्वीकार कर लिया था। मामले पर सफाई देते हुए पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने ट्वीट किया, ‘रूस में EEF में प्रधानमंत्री के हिस्सा लेने के बारे में मीडिया में आ रही खबरें अटकलबाजी हैं। पाकिस्तान और रूस अपने संबंधों को लेकर उच्चतम स्तर पर संपर्क में है। इस बाबत कोई घोषणा उचित समय पर औपचारिक तरीके से की जाएगी।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here