भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया 1st Test Day 1, Highlights: चेतेश्वर पुजारा की शतकीय पारी के दमपर स्टम्पस तक भारत-250/9

0
15

भारतीय क्रिकेट टीम ने चेतेश्वर पुजारा (123) के शतक की बदौलत ऑस्ट्रेलिया के साथ यहां जारी पहले टेस्ट मैच के पहले दिन गुरुवार का खेल खत्म होने तक अपनी पहली पारी में नौ विकेट के नुकसान पर 250 रन बना लिए। एडिलेड ओवल मैदान पर जारी इस मैच में मोहम्मद शमी (6) नाबाद हैं। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लेने वाली भारतीय टीम के लिए पारी की शुरुआत ही बेहद खराब रही। 100 का आंकड़ा पार करने से पहले ही उसने अपने पांच बल्लेबाजों को गंवा दिया था। भारत के लिए पुजारा के अलावा, रोहित शर्मा ने 37 और ऋषभ पंत तथा रविचंद्रन अश्विन ने 25-25 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया के लिए मिशेल स्टॉर्क, जोस हाजलेवुड, पैट कमिस और नाथन लॉयन ने दो-दो विकेट लिए।

आत्मविास से लबरेज भारतीय क्रि केट टीम आस्ट्रेलिया के खिलाफ बृहसपतिवार से शुरू हो रही टेस्ट सीरीज में उतरेगी तो उसका लक्ष्य विदेशी सरजमीं पर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाने का कलंक धोने और 70 बरस में पहली बार यहां सीरीज जीतने का होगा। दक्षिण अफ्रीका में भारत को टेस्ट सीरीज में 1-2 और इंग्लैंड में 0-4 से पराजय झेलनी पड़ी। विराट कोहली की टीम अब आस्ट्रेलिया में चार टेस्ट मैचों की सीरीज जीतकर विदेश में ‘‘फ्लाप शो’ का कलंक मिटाना चाहेगी। दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज के रूप में खुद को स्थापित कर चुके कोहली के लिए करिश्माई कप्तान कहलाने का भी यह सीरीज सुनहरा मौका है। आस्ट्रेलियाई सरजमीं पर भारत ने अब तक 44 टेस्ट खेलकर सिर्फ पांच जीते हैं। पिछले 70 साल में 11 दौरों पर भारत ने दो बार सीरीज ड्रा कराई। पहले सुनील गावस्कर की कप्तानी में 1980-81 और फिर सौरव गांगुली के कप्तान रहते 2003-04 में। भारतीय टीम आक्रामक क्रि केट खेलना चाहेगी लेकिन 12 खिलाड़ियों में हनुमा विहारी और रोहित शर्मा की मौजूदगी संकेत है कि 20 विकेट लेने के लिए पांच गेंदबाजों को उतारने की रणनीति में बदलाव होगा। चोटिल हरफनमौला हार्दिक पंड्या की गैर मौजूदगी से टीम का संतुलन बिगड़ा है। दूसरी ओर आस्ट्रेलिया भी गेंद से छेड़खानी मसले में प्रतिबंध झेल रहे स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर की गैर मौजूदगी में कमजोर लग रही है। पंड्या की गैर मौजूदगी में अतिरिक्त बल्लेबाज की जगह रोहित शर्मा को मिलना तय है। उन्होंने आखिरी बार टेस्ट क्रि केट दक्षिण अफ्रीका में खेला था और पांचवें नंबर पर उतरकर चार पारियों में 78 रन ही बना सके थे। इंग्लैंड के गेंदबाजों के सामने प्रभावी रहे विहारी ने वहां पहला अर्धशतक जमाया था। भारत के सामने दो मसले हैं। सबसे पहला तो बल्लेबाजी मे कप्तान कोहली पर निर्भरता कम करनी होगी। कोहली ने दक्षिण अफ्रीका में तीन टेस्ट में 286 रन बनाए। चेतेश्वर पुजारा 100 रन ही बना सके जबकि मुरली विजय ने 102 और केएल राहुल ने दो टेस्ट में 30 रन बनाए। इंग्लैंड में दो टेस्ट में 26 रन के बाद विजय को स्वदेश भेज दिया गया।

यह भी पढ़े  भारत ने एकमात्र टी-20 मैच सात विकेट से जीता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here