आर्ट कॉलेज में तीन पक्षी फिर मरे, चार दिनों के लिए कॉलेज बंद, आज फिर जांच को आयेगी टीम

0
40
पटना विश्वविद्यालय के आर्ट कॉलेज को बर्ड फ्लू की आशंका को देखते हुए अगले चार दिनों के लिए बंद कर दिया गया है. कॉलेज तीन, चार, पांच को आधिकारिक तौर पर बंद रहेगा. जबकि रविवार को अवकाश है. वहीं बुधवार को पशुपालन विभाग की ओर से मरे हुई जानवरों के सैंपल लिये गये.
 कॉलेज प्रशासन ने बताया कि रिपोर्ट अगर निगेटिव आती है, तो सोमवार से ही कॉलेज खुलेगा. अगर रिपोर्ट पॉजिटिव आती है, तो कॉलेज तब तक बंद रहेगा, जब तक कि बर्ड फ्लू पूरी तरह से समाप्त नहीं हो जाता है.
बुधवार को भी पशुपालन विभाग की टीम कॉलेज आयी थी और कॉलेज में दवाइयों और स्प्रे का छिड़काव किया. वहीं बाज और एक कबूतर को वहां से ले गयी. बुधवार को सुबह एक कबूतर व एक बाज के मरने की सूचना थी, जिसे पशुपालन विभाग की टीम ले गयी थी. वहीं, देर शाम एक कौआ भी कॉलेज में मरा हुआ पाया गया. इन घटनाओं से हॉस्टल में रह रहे छात्र तो दहशत में हैं ही, आसपास के लोग भी दहशत में हैं.
हॉस्टल खाली करने का जारी किया गया नोटिस 
छात्र-छात्राओं सुरक्षा से खिलवाड़ नहीं किया जा सकता. इसलिए पांच जनवरी तक कॉलेज बंद है. हम इस प्रयास में हैं कि यह पुष्टि हो जाये कि पक्षियों की मौत किस वजह से हो रही है. वहीं पशुपालन विभाग द्वारा भी एहतियातन कुछ दवाइयों का छिड़काव कराया गया है.
-अजय पांडेय, प्राचार्य, आर्ट कॉलेज
 
आज फिर जांच को आयेगी टीम
गुरुवार को फिर से पशुपालन विभाग की टीम आयेगी और कॉलेज का दौरा करेगी. मरे हुए पक्षियों को भी ले जायेगी. उनका सैंपल लैब को भेजा जायेगा. प्राचार्य ने कहा कि  आर्ट कॉलेज से जो पूर्व में सैंपल ले जाये गये थे,  अब तक कोई रिपोर्ट नहीं आयी है. रिपोर्ट के बाद ही कुछ कहा जा सकता है. फिलहाल पशुपालन विभाग की टीम इसे ठंड की वजह से हुई मौत बता रही है.
वायरस के खात्मे पर खुलेगा चिड़ियाघर
शहर के चिड़ियाघर अभी बंद रहेगा, जब तक वायरस पूरी तरह से खत्म नहीं हो जाता चिड़ियाघर को बंद रखा जायेगा. यह कहना है जू के निदेशक अमित कुमार का. बुधवार को भी चिड़ियाघर बंद रहा और काफी संख्या में पर्यटक को लौटना पड़ा. जानकारी देते हुए अमित कुमार ने बताया कि उद्यान के जंतु प्रक्षेत्र के सेक्टर-1 में हाईना, लेपर्ड, चिंपांजी, गिद्ध, भालू, सांप घर, निशाचर घर, ऑस्ट्रिच इंकलोजर आदि पशु पक्षियों के केजों में दवा की छिड़काव किया गया. दवाओं का छिड़काव जारी रहेगा.
यह भी पढ़े  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया लोहिया विशेषांक का लोकार्पण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here