आरक्षण का दायरा बढ़ाया जाये : कुशवाहा

0
111
RASHTRIYA LOK SAMTA PARTY KA PRESS CONFRENCE KO ADDRESS KERTE UPENDRA KUSHWAHA KA PRESS CONFRENCE

पटना – राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (उपेंद्र गुट) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व केंद्रीय मानव संसाधन राज्य मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि आरक्षित वर्ग की श्रेणियों में जातियों की संख्या तो बढ़ गयी है,लेकिन आरक्षण की हिस्सेदारी ज्यों की त्यों बनी हुई है। आरक्षित वर्ग की संख्या के आधार पर आरक्षण का कोटा बढ़ाया जाना चाहिये। जननायक कपरूरी ठाकुर का सपना अभी भी अधूरा है। शिक्षा के बिना कपरूरी के अरमानों को पूरा नहीं किया जा सकता है। जरूरत कपरूरी के आदशरे पर चलने की।श्री कुशवाहा बुधवार को रवींद्र भवन में पार्टी के अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ द्वारा आयोजित जननायक कपरूरी ठाकुर की जयंती समारोह का उद्घाटन कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राजनीतिक ताकत का इस्तेमाल करने वाले अधिकतर नेताओं पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे हैं,लेकिन कपरूरी ठाकुर पर कभी भी भ्रष्टाचार के आरोप नहीं लगे। सादगी उनकी विशेषता है। लोग नारा लगाते थे कपरूरी के अरमानों को दिल्ली तक पहुंचायेंगे,लेकिन उनका सपना आज भी अधूरा है। शिक्षा के बिना राजनीतिक और सामाजिक सशक्तिकरण नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि विकास के लिए शिक्षा जरूरी है। उन्होंने नीतीश कुमार के बाल विवाह और दहेज उन्मूलन अभियान पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि जब तक लड़किया शिक्षित और आत्मनिर्भर नहीं हो जायेंगी तबतक दहेज प्रथा नहीं रुक सकता है। बाल विवाह भी वंचित वगरे में ही होता है। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी शिक्षा सुधार को लेकर 30 जनवरी को राज्य की सभी पंचातयों के एक-एक विद्यालय के आगे मानव कतार लगाने जा रही है। इस अभियान का सभी पार्टियां समर्थन करें। समारोह की अध्यक्षता रामेश्वर कमार महतो उर्फ पप्पू ने की। समारोह को पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भूदेव चौधरी, पार्टी नेता सत्यानंद दांगी, निचिकेता मंडल, जोगेंद्र चौहान, मंजीत सहनी, ललन महतो, प्रमोद कमार मंडल, रामाशीष ठाकुर, भरत प्रसाद गुप्ता, जितेंद्र कुमार जोशी, हीरालाल चौधरी, शिवनाथ प्रसाद, बाबूलाल महतो, गणोशी महतो, विदोन कुमार पप्पू,देवकांत सिंह, मुनीलाल मंडल, प्रमोद मंडल, कुंदन प्रकाश, अनिल यादव, ई.अभिषेक झा आदि ने भी संबोधित किया।प्रायोगिक परीक्षा में प्रश्न पत्र के बदले दी जा रही उत्तर पुस्तिका राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (उपेंद्र गुट) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व केंद्रीय मानव संसाधन राज्य मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने इशारे-इशारे में नीतीश सरकार के शिक्षा व्यवस्था पर सवाल उठाया है। साथ ही इंटर प्रायोगिक परीक्षा में हो रही धांधली का मामला भी उजगार किया है। उन्होंने कहा कि इंटर की प्रायोगिक परीक्षा में शामिल एक लड़की ने बताया कि परीक्षा में प्रश्न पत्र के बदले उत्तर पुस्तिका दी गयी और वही उतार देने का आदेश परीक्षार्थियों को दिया गया। जिन परीक्षार्थियों ने विरोध किया उन्हें भी शिक्षक ने डांट कर उत्तर पुस्तिका से ही उतारने का आदेश दिया। उन्होंने कहा कि परीक्षा केंद्रों पर बच्चों और उनके अभिभावकों से नम्बर देने के नाम पर राशि की भी अवैध वसूली की जा रही है। जिन बच्चों के पास पैसा नहीं है, वह डरे हुए हैं। क्योकि सभी बच्चों ने एक ही तरह का जवाब दिया है।

यह भी पढ़े  फिर उठी बिहार को विशेष दर्जा देने की आवाज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here