आयुष्मान योजना से बची सब्जी विक्रेता महिला की जान

0
21

आईजीआईएमएस के चिकित्सकों ने वैशाली जिले की एक सब्जी विक्रेता का ‘‘प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना’ के अंतर्गत ऐंजीयोसारकोमा (स्पीलिनिक टय़ूमर) का ऑपरेशन कर डेढ़ किलोग्राम का स्पलीनिक टय़ूमर निकाल नयी जिंदगी दी। संस्थान के सर्जिकल ऑन्कोलॉजी विभाग के चिकित्सक ने ऐंजीयोसारकोमा (एक प्रकार का कैंसर) का बृहस्पतिवार को सफल ऑपरेशन किया। इस जटिल ऑपरेशन में शामिल चिकित्सकों को स्वास्य मंत्री मंगल पांडेय ने बधाई दी और आयुष्मान भारत योजना शुरू करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को धन्यवाद दिया है। इस योजना के कारण ही संस्थान में नि:शुल्क सफलतापूर्वक ऑपरेशन संभव हो सका।वहीं निदेशक डॉ. एन आर विास ने कहा कि इस योजना का लाभ जरूरतमंद गरीबों को प्रदान किया जा रहा है। इस प्रकार के जटिल ऑपरेशन के लिए प्राइवेट अस्पतालों में बिहार से बाहर जाकर ऑपरेशन कराना पड़ता जिसमें मोटी रकम खर्च करनी पड़ती जो गरीबों के लिए असंभव था। चिकित्सा अधीक्षक डॉ मनीष मंडल ने बताया कि वैशाली निवासी इंदू देवी विगत छह महीने से पेट दर्द, पेट फूलना, खाना नहीं पचना, उल्टी आदि के कारण परेशान थी। इस दौरान कई चिकित्सकों को दिखाया गया। दूसरे जिले स्थित एक निजी अस्पताल के चिकित्सकों ने ऑपरेशन के लिए पेट खोला लेकिन ऑपरेशन की जटिलता एवं खतरे की वजह से ऑपरेशन को रोक दिया गया। डॉ. मंडल ने बताया कि जब आईजीआईएमएस के चिकित्सकों ने ऑपरेशन थियेटर में मरीज का पेट खोला तो दंग रह गए। क्योंकि आंत से टय़ूमर चिपका हुआ था, जिसे चिकित्सकों ने बारीकी से हटाया। साथ ही स्पीलीन को भी बगैर अधिक रक्तस्रव के सावधानीपूर्वक हटाया गया। ऑपरेशन के बाद मरीज काफी बेहतर महसूस कर रही है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के तहत संपूर्ण इलाज पूर्णत: निशुल्क किया गया। इस योजना की वजह से ही मरीज की जान बच सकी। डॉ मंडल ने ऑपरेशन में शामिल सभी चिकित्सकों को बेहतर समन्वय के साथ जटिल ऑपरेशन की सफलता के लिए धन्यवाद दिया।

यह भी पढ़े  अब भोजपुरी में बनने जा रही है प्यार होता है दीवाना सनम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here