आपत्तिजनक वस्तु फेंके जाने पर भड़का आक्रोश

0
196

किशनगंज : जिला मुख्यालय से 8 किमी दूर पश्चिम बंगाल के पांजीपाड़ा स्थित कॉलोनी मोड़ एनएच 31 के पास एक धार्मिक स्थल में असामाजिक तत्वों द्वारा आपत्तिजनक वस्तु के फेंके जाने को लेकर स्थिति तनावपूर्ण हो गया। स्थानीय लोगों ने बताया कि सुबह लोगों की नजर आपत्तिजनक वस्तु पर पड़ी। लोगों को सूचना मिलते ही पूरे गांव के लोग हंगामा करने लगे। एनएच 31 पर टायर जला कर चार घंटा तक यातायात बाधित कर दिया। मौके पर पांजीपाड़ा के एसएचओ शुभंकर वैष्णव पहुंच कर उक्त आपत्तिजनक सामान को धार्मिक स्थल से उठा कर किसी अन्य जगह फेंक दिये। आपत्तिजनक सामान पांजीपाड़ा एसएचओ द्वारा फेंके जाने पर स्थानीय लोग नाराज हो गये और जमकर हंगामा करने लगे। स्थिति अनियंत्रित होता देख इस्लामपुर से एएसपी डा. प्रदीप कुमार यादव पुलिस वाहनी के साथ घटना स्थल पर पहुंचे और लोगों को समझा बुझा कर शांत किया। काफी मशक्कत के बाद एनएच31 से जाम को हटाया और गाड़ी का परिचालन शुरू किया। स्थानीय लोगों ने आपत्तिजनक सामान फेंकने वाले असामाजिक तत्वों की पहचान कर जल्द गिरफ्तार करने की मांग की। लोगों का कहना है कि गंगा जमुनी तहजीब को कुछ असामाजिक तत्व अशांति फैलाने के लिए इस तरह का काम कर रहे है। घटना की सूचना मिलते ही रायगंज के सीपीआईएम सांसद मो सलीम मौके पर पहुंच कर लोगों को शांत करवाया और कहा कि बंगाल सरकार रायगंज की घटना से सीख नहीं ली है। यहां की घटना को पुनर्रावृत्ति कर बंगाल को अशांत करने की कोशिश कर रही है। बंगाल सरकार बाढ़ के बाद घर बनाने का नहीं घर जलाने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि यहां के लोग शांतिप्रय है। इसलिए स्थिति शांतिपूर्ण है। वहीं बंगाल के पंचायत राज्य मंत्री गुलाम रब्बानी ने बताया कि मुझे सूचना मिलते ही घटना स्थल पर पहुंचा हूं। अभी स्थिति सामान्य हो चुका है। पुलिस अपना काम कर रही है। जल्द घटना की जांच कर असामाजिक तत्वों को गिरफ्तार कर लिया जायेगा। मंत्री रब्बानी ने बताया कि सीपीआईएम सांसद अपना राजनीतिक कैरियर खत्म होता देख लोगों को सरकार के खिलाफ भड़का रहा है। यहां लोगों को शांत करवाने के बजाय अपना रोटी सेंक रहे है। एएसपी डा प्रदीप कुमार यादव ने बताया कि अब स्थिति सामान्य हो चुका है। जल्द मामले की जांच कर दोषी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जायेगा। कॉलोनी मोड़ में फिलहाल अस्थायी पुलिस चौकी बैठाया गया है और इलाके में गश्ती बढ़ा दिया गया है। घटना के दौरान उत्तर दिनाजपुर जिले के सभी एसएचओ को बुलाया गया था। ग्वालपोखर एसएचओ अभिजीत दत्ता,चाकुलिया एसएचओ पिनाकी सरकार सहित अन्य पुलिस कर्मी तैनात थे।

यह भी पढ़े  पटना आ रही युवती से साथियों के साथ मिलकर ऑटो चालक ने किया गैंगरेप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here