आधी रात को रणक्षेत्र बना पटना यूनिवर्सिटी का इलाका, फायरिंग और रोड़ेबाजी में एक की गई जान

0
57

सोमवार की देर रात पटना का अशोक राजपथ रणक्षेत्र में तब्दील हो गया. दरअसल पटना विश्वविद्यालय के हॉस्टल के छात्र और स्थानीय लोगों के बीच किसी बात को लेकर झड़प हो गई, जिसमें दोनों ओर से पथराव किया गया. इस झड़प में एक स्थानीय व्यक्ति की पत्थर लगने से मौत हो गई. लोगों ने बताया कि हॉस्टल के लड़कों ने फायरिंग के साथ पथराव भी किया जिससे वहां अफरा-तफरी की स्थिति कायम हो गई.

सड़क पर छात्रों ने सरेआम छेड़खानी हुई। इसमें दर्ज मुकदमा में जब स्‍थानीय लोगों ने गवाही दी तो पटना विश्‍वविद्यालय के छात्रों का एक गुट आक्रोश में आ गया। उन्‍होंने अशोक राजपथ पर देर रात तक जमकर उत्‍पात मचाया। विश्वविद्यालय के गेट के पास छात्र और स्थानीय लोगों की भिड़ंत में दोनों ओर से पथराव, फायरिंग और बमबारी हुई। इस दौरान पास की दुकान पर चाय पी रहे एक बेकसूर युवक की मौत हो गई। देर रात पुलिस ने विश्‍वविद्यालय के हॉस्टलों में छापेमारी कर 20 छात्रों को हिरासत में लिया। मंगलवार की सुबह से स्थिति फिर तनावपूर्ण बन गई है।

यह भी पढ़े  रूटीन चेकअप के लिए मुंबई पहुंचे लालू प्रसाद यादव

दो दिन से सुलग रही थी आग
दरअसल, शनिवार को कैंटीन में खराब खाना परोसने को लेकर कैवेंडिस और मिंटो हॉस्टल के छात्रों ने अशोक राजपथ में जमकर हंगामा और मारपीट की थी। इस दौरान कुछ छात्रों ने एक युवती पर फब्तियां कस दीं थीं, जिसका विरोध करने पर लालबाग निवासी युवक की पिटाई भी की थी। उस मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आठ छात्रों को हिरासत में लिया था।
सोमवार देर शाम उसी मुकदमे में तीन स्थानीय नागरिक पीरबहोर थाने में अपना बयान दर्ज कराने गए थे। जब मिंटो और जैक्सन हॉस्टल के छात्रों को इसकी जानकारी हुई तो वे आक्रोशित हो गए। एकाएक दर्जनों छात्र हाथ में लाठी-डंडे लेकर कैंपस से बाहर निकले और लालबाग मोहल्ले की दुकानों पर हमला बोल दिया। वे दुकानों पर पथराव करने के साथ स्थानीय लोगों की पिटाई करने लगे। स्थानीय लोगों के विरोध करने पर छात्रों ने ताबड़तोड़ फायरिंग करनी शुरू कर दी। स्थानीय लोगों ने भी जवाबी फायरिंग की। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, छात्रों की ओर से तीन बम भी फेंके गए।
पथराव में एक युवक की मौत
वारदात के क्रम में पथराव में एक दुकान पर चाय पी रहे स्‍थानीय सब्जीबाग निवासी शौकत (45) के सिर पर एक पत्थर आ गिरा, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद स्थिति और बिगड़ गई। इस दौरान पूरा इलाका गोलीबारी व बम विस्‍फोट से थर्राता रहा। अशोक राजपथ स्थित पटना विवि के गेट के बाहर आधी रात तक बवाल चलता रहा।
देर रात तक चला बवाल
सूचना मिलने पर आधा दर्जन डीएसपी के नेतृत्व में पुलिस के 200 जवानों ने पहुंचकर स्थित पर नियंत्रण किया। देर रात करीब एक बजे एसएसपी गरिमा मलिक भी अशोक राजपथ पहुंची। पुलिस ने उपद्रवी छात्रों को खदेड़ भगाया। आधी रात के बाद भी स्थानीय लोग अशोक राजपथ पर डटे रहे। इस दौरान वाहनों का आवागमन ठप रहा।
20 छात्रों हिरासत में, स्थिति तनावपूर्ण
देर रात पुलिस ने पटना विश्‍वविद्यालय के हॉस्‍टलों में छापेमारी कर 20 छात्रों को हिरासत में लिया। छापेमारी मंगलवार सुबह भी जारी है। इस बीच स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है।

यह भी पढ़े  मैट्रिक परीक्षा के नतीजे घोषित ,सिमुलतला के छात्रों ने फिर लहराया परचम

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here